Sponser

Search

Saturday, November 24, 2018

लाठी ड्रिल : लाठी से बचाव करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने लाठी ड्रिल में लाठी के साथ  सलूट करने के बारे में जानकारी प्राप्त की और इस पोस्ट में हम जानेगे की लाठी ड्रिल की एक और सबक लाठी  से बचाव कैसे करे  के बारे में जानेगे !


पुलिस के जवान को जैसे खाली  हाथ या हथियार के साथ सेट ड्रिल है करते है  कैसे सावधान, विश्राम ,आराम और सलूट करना है उसी तरह से लाठी के साथ भी ड्रिल पैटर्न सेट है और उन्हें उसका सही तरह से पालन करना चाहिए क्यों की ड्रिल से किसी भी पुलिस महकमा का डिसिप्लिन और मोरल का पता चलता है!

जैसे की हम जानते है की लाठी पुलिस का इस्तेमाल करने का एक सबसे बेहतर नॉन लेथल हथियार है जिससे की मारने के साथ साथ अपनी बचाव में भी पुलिस इस्तेमाल करती है ! इतने साल के इस्तेमाल को अध्यन में रखते हुए इसके इस्तेमाल और बचाव के बारे में बहुत से सेट ड्रिल पैटर्न इजाद किया गया है जिसको पालन करने से अपने बचाव के साथ ही इसे और प्रभैत तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है !

जरुर पढ़े:  एक लाइन, दो लाइन और तीन लाइन कब और कैसे बनाया जाता है

इस पोस्ट में हम लाठी के साथ ड्रिल के निम्न कवायद के बारे  में जानेगे !


1. बाए जबड़े का बचाव व तैयार कक्षा बचाव 
2. बाए पसली का बचाव व तैयार कक्षा  बचाव 
3.बाए घुटने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव 
4. बाए टखने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव 

1. बाए जबड़े का बचाव व तैयार कक्षा बचाव: बाये जबड़े का बचाव तैयार कक्षा बचाव के हुकुम पे करवाई इस प्रकार से की जाती है !

lathi se baye jabde ka bachaw
बाये जबड़े का बचाव व तैयर कक्षा बचाव "एक " के आदेश पर  बदन को थोडा बाए तरफ झुकाते हुए लाठी को दाहिने हाथ के मदद से उसी दिशा में बाए जबड़े के बगल में और सामने सीधा ले आये ताकि लाठी का निचा वाला शिरा बेल्ट के लाइन तक आ सके और बाए जबड़े का बचाव हो सके ! "दो" पर वापिस तयारी की पोजीशन में आ जाये !

2. बाए पसली का बचाव व तैयार कक्षा  बचाव : बाए पसली का बचाव व तैयार कक्षा बचाव के हुकुम पे करवाई इस प्रकार से करे !

Lathi- baye pasli bachaw
 बाए पसली का बचाव व तैयार कक्षा  बचाव " एक"  पर तमाम करवाई ऊपर के प्रकार से  होगी अंतर केवल इतना है की लाठी उसी पोजीशन में रखते हुए इतना निचे जाए की बाए पसली का बचाव ठीक से हो सके ! " दो पर वापिस तयारी का पोजीशन प् आ जाओ !


3.बाए घुटने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव : बाए घुटने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव के हुकुम पे करवाई इस प्रकार से की जाये !



बाए घुटने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव "एक"  पर तमाम करवाई ऊपर जैसे ही होगी मगर लाठी घुटने के बचाव के लिए काफी निचे तक जाएगी ताकि बाए घुटने का बचाव हो सके और साथ ही जिस पैर का बचाव करना है वह पैर भी पीछे जाएगा ! " दो" के आदेश पर तयारी की पोजीशन में आ जाये और साथ ही बाए पैर को अपनी जगह पर लाये !

4. बाए टखने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव :  बाए टखने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव  के हुकुम पे करवाई इस प्रकार से होगी !

 बाए टखने का बचाव व तैयार कक्षा बचाव "एक " के आदेश पर तमाम करवाई ऊपर की तरह ही होगी मगर लाठी पूरा निचे जाएगी तक़रीबन जमीन पर खाड़ी बाया पैर फिर पीछे जायेगा ! " दो " पर वापिस तैयार पोजीशन में आ जाओ !



इस प्रकार से यहाँ लाठी से बाये साइड की बचाव कैसे करते है से सम्बंधित लाठी drill समाप्त हुई ! उम्मीद है की यह पोस्ट ओअसंद आयेगा !अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे !

 इन्हें भी पढ़े :
  1.   विश्राम और आराम से इसमें देखने वाली बाते !
  2. सावधान पोजीशन से दाहिने, बाएं और पीछे मुड की करवाई
  3. आधा दाहिने मुड , आधा बाएं मुड की करवाई और उसमे देखने वाली बाते !
  4. 4 स्टेप्स में तेज चल और थम की करवाई
  5. फूट ड्रिल -धीरे चल और थम
  6. खुली लाइन और निकट लाइन चल
  7. परेड ड्रिल में आगे और पीछे कदम लेना !
  8. पुलिस यूनिफार्म और उसका इतिहास
  9. पुलिस यूनिफार्म पहनते समय देखनेवाली बातें
  10. सलूट की महत्व और सलूट कैसे कब करने का तरीका


Saturday, November 17, 2018

लाठी ड्रिल - लाठी के साथ सलूट करना

पिछले पोस्ट में हमने लाठी ड्रिल में लाठी के साथ सावधान और विश्राम के बारे में जानकारी प्राप्त की और इस पोस्ट में हम जानेगे की लाठी ड्रिल की एक और सबक लाठी के साथ बगल लाठी  और  बाजु लाठी के बारे में जानेगे !


पुलिस के जवान को जैसे खली हाथ या हथियार के साथ सेट ड्रिल है करते है  कैसे सावधान, विश्राम ,आराम और सलूट करना है उसी तरह से लाठी के साथ भी ड्रिल पैटर्न सेट है और उन्हें उसका सही तरह से पालन करना चाहिए क्यों की ड्रिल से किसी भी पुलिस महकमा का डिसिप्लिन और मोरल का पता चलता है!


जरुर पढ़े:  एक लाइन, दो लाइन और तीन लाइन कब और कैसे बनाया जाता है

इस पोस्ट में हम लाठी के साथ ड्रिल के निम्न कवायद के बरेर में जानेगे !

1. लाठी ड्रिल में बगल लाठी (Lathi drill me bagal lathi)
2. लाठी ड्रिल बाजु लाठी (Lathi drill baju lathi)
3. लाठी ड्रिल तैयारी पोजीशन (Lathi drill taiyari position)
4. लाठी ड्रिल सलूट (Lathi drill salute)

1. लाठी ड्रिल में बगल लाठी (Lathi drill me bagal lathi)

पुलिस में इस्तेमाल होने वाली लाठी को बगल लाठी से भी ला जाया जा सकता है ! बगल लाठी की करवाई इस प्रकार से करते है : 

जैसे आदेश मिलता है बगल लाठी एक , इस आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे 
  •  दाहिने हाथ से लाठी को तेजी से शारीर के सामने से ले जाकर 
  • बाए बगल में इस प्रकार से दबाये की लाठी का निचे वाला शिरा पीछे और ऊपर वाला शिरा आगे रुके 
  • लाठी का अगला सिरा थोडा निचे दबा हुवा और पिछला शिरा थोडा ऊपर उठा हुवा 
  • लाठी पानी के ढलान जैसे साथ ही बाए हाथ से लाठी के शिरा को आगे 3 इंच छोड़ कर पकड़ो !
दो के आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे 
  • दाहिने हाथ को तेजी से काटकर दाहिने की तरफ लाओ बाकि पोजीशन सावधान !
जरुर पढ़े:222 इंग्लिश - हिंदी परेड कमांड का संकलन 

2. लाठी ड्रिल बाजु लाठी (Lathi drill baju lathi)

जैसे आदेश मिलता है बाजु  लाठी 'एक' इस आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे 
  • दाहिने हाथ से लाठी को इस प्रकार से पकड़ो की चारो अंगुलिया बाए तरफ से अंगूठा दाहिने तरफ से हथेली का रुख थोडा ऊपर 
  • लाठी पर बाये हाथ की पकड़ पहले जैसा हो 
दो के आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे 
  • दाहिने हाथ से लाठी को बदन के सामने से तेजी के साथ दाहिने तरफ यानि सावधान पोजीशन में लाए 
  • साथ ही बाए हाथ बायीं तरफ ले जाये !

3. लाठी ड्रिल तैयार पोजीशन  (Lathi drill me taiyar position)

जैसे आदेश मिलता है तैयार पोजीशन  'एक' इस आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे 
  • एक पर पहले लाठी को सीधा ऊपर ले जाये 
  • दो पर लाठी को कलाई से घुमाकर सर के ऊपर से जमीन के समनांतर कर दे !
लाठी ड्रिल के तैयार पोजीशन में देखने वाली बाते 
  • दाहिने हाथ की कोहनी जरुरत के मुताबिक झुकी हो 
  • नजर सीधी,
  • लाठी सर के ऊपर दाहिने से बाए पड़ी हुई 
  • बाया हाथ बेल्ट पर 
  • बदन का बोझ दाहिने पैर पर 
  • दाहिने पैर में खम्म सीना कुदरती तौर निकला हुवा 
  • यह तैयार पोजीशन है ! मार और बचाव हमेश गार्ड पोजीशन से किया जाता है !
जरुर पढ़े:फासला रखते हुए दाहिने, बाएँ और मध्य सज की करवाई

4. लाठी ड्रिल सलूट (Lathi drill salute)

जैसे आदेश मिलता है सलूट करना  'एक' इस आदेश पर करवाई इस प्रकार से करे!
यह आदेश सावधान पोजीशन से मिलता है ! सलूट एक पर करवाई इस प्रकार से करे !
  • दाहिने हाथ को बदन के सामने से छोटे रास्ते से तेजी के साथ ले जाकर बाए हाथ की पकड़ के ऊपर इस प्रकार मिलाये की हथेली जमीन की तरफ और अंगुलिया  खुली मगर मिली हुई !
  • फोरे आर्म जमीन के समनांतर 
  • केहुनी उठी हुई ही 
  • दो के आदेश पर दाहिने हाथ को छोटे रस्ते से कटते हुए दाहिने तरफ सावधान की पोजीशन में 

इस प्रकार से हमने इस पोस्ट में लाठी के साथ बगल लाठी, बाजु लाठी तैयार पोजीशन और लाठी के साथ सलूट के बारे में हमने जानकारी प्राप्त की उम्मीद है की पोस्ट आपको पसंद आएगा !अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे !
 इन्हें भी पढ़े :
  1.   विश्राम और आराम से इसमें देखने वाली बाते !
  2. सावधान पोजीशन से दाहिने, बाएं और पीछे मुड की करवाई
  3. आधा दाहिने मुड , आधा बाएं मुड की करवाई और उसमे देखने वाली बाते !
  4. 4 स्टेप्स में तेज चल और थम की करवाई
  5. फूट ड्रिल -धीरे चल और थम
  6. खुली लाइन और निकट लाइन चल
  7. परेड ड्रिल में आगे और पीछे कदम लेना !
  8. पुलिस यूनिफार्म और उसका इतिहास
  9. पुलिस यूनिफार्म पहनते समय देखनेवाली बातें
  10. सलूट की महत्व और सलूट कैसे कब करने का तरीका

Thursday, November 15, 2018

लाठी ड्रिल - लाठी के साथ खुली और निकट लाइन चल की करवाई

पिछले पोस्ट में हमने लाठी के साथ सावधान , विश्राम और आराम से के बारे में जानकरी प्राप्त की इस पोस्ट में हम अब यह जानेगे की लाठी के साथ खुली लाइन , निकट लाइन और दाये से बाए दो कदम पे खुल जा ड्रिल  (Lathi ke sath Khuli line, nikat line aur dahine baye kadam lena) कैसे होता है !



पुलिस के जवान को जैसे खली हाथ या हथियार के साथ सेट ड्रिल है के की कैसे सावधान, विश्राम ,आराम और सलूट करना है उसी तरह से लाठी के साथ भी ड्रिल पैटर्न सेट है और उन्हें उसका सही तरह से पालन करना चाहिए क्यों की ड्रिल से किसी भी पुलिस महकमा का डिसिप्लिन और मोरल का पता चलता है!

जरुरपढ़े: धीरे कदम ताल , थम और आगे बढ़ की ड्रिल की करवाई करने का तरीका !

इस पोस्ट में हम लाठी के साथ ड्रिल के निम्न कवायद के बरेर में जानेगे !

1.लाठी ड्रिल के लिए खुली लाइन चल (lathi drill ke liye khuli line chal)
2. लाठी ड्रिल के लिए निकट लाइन चल (lathi drill ke liye nikat line chal)
3. बाये से दाहिने को दो दो कदम पे खुल जा (lathi drill ke liye baye se dahine do do kadam pe khul ja)

1.लाठी ड्रिल के लिए खुली लाइन चल (lathi drill ke liye khuli line chal)

लाठी  ड्रिल के लिए खुली लाइन चल में करवाई इस प्रकार से की जाएगी :

इस आदेश पर दोनॉ लाइन सावधान हो जाएगी और सामने की लाइन समतोल लाठी से 5 कदम सीधा सामने जाकर थम जाएगी, पीछे मुड़ेगी सजेगी और बाए वाला जवान के आप बोलने पर दोनों लाइन विश्राम हो जाएगी !

जरुरपढ़े:7 स्टेप्स में पत्र के साथ सामने सलूट की पूरी करवाई करने का तरीका

2. लाठी ड्रिल के लिए निकट लाइन चल (lathi drill ke liye nikat line chal)

लाठी  ड्रिल के लिए निकट  लाइन चल में करवाई इस प्रकार से की जाएगी :

इस आदेश पर दोनॉ लाइन सावधान हो जाएगी और सामने की लाइन जो खुली लाइन में आगे चली हुई थी वह समतोल लाठी से 5 कदम सीधा सामने जाकर थम जाएगी, पीछे मुड़ेगी सजेगी और बाए वाला जवान के आप बोलने पर दोनों लाइन विश्राम हो जाएगी ! और अपनी पहली वाली हालत में आजायेगी !

3. बाये से दाहिने को दो दो कदम पे खुल जा (lathi drill ke liye baye se dahine do do kadam pe khul ja)

लाठी  ड्रिल के लिए बाये से दाये दो दो कदम  चल में करवाई इस प्रकार से की जाएगी :

इस आदेश पर दोनों लाइनॉ के दर्शक खड़े रहेंगे और सामने की लेने बाए तथा पिछली लाइन दाहिने मुड़ेगी सभी जवान एक दुसरे से दो दो कदम के फासले पर खुल जायेंगे और फिर अन्दर को मुड "अप" विश्राम हो जायेंगे !

ऊपर बताई गई करवाई दाहिने खुल की है ! दाहिने से बाए को खोलने के लिए सामने की लाइन दाहिने और पिछली लाइन बाए मुड़कर ऊपर की तरह करवाई करेगी ! इस ड्रिल  को पहले  तेज चाल से और फिर दौड़ चल से करवाए जाते है !
और इस ड्रिल के बाद सिमट जा का आदेश मिलता है तो खुले की उलर्ट करवाई की जायेगी और क्लास खुली लाइन की हालत में आजायेगी !

इस प्रकार से लाठी ड्रिल के साथ खुली लाइन और निकट लाइन चल की ड्रिल सम्बंधित ब्लॉग पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगा ! अगर ब्लॉग या पोस्ट से सम्बंधित कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब या फेसबुक पेज को लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे !
जरुर पढ़े:
  1. 4 स्टेप्स में तेज चल कि करवाई कैसे की जाती है
  2. 5 स्टेप्स में तेज चाल से पीछे मुड की पूरी करवाई
  3. खड़े खड़े सलूट का तरीका और जरुरत
  4. 2 स्टेप्स में खड़े खड़े दाहिने सलूट की करवाई की तरीके
  5.  2 स्टेप्स में खड़े खड़े बाएँ सलूट की करवाई का तरीका
  6. विशार्जन , लाइन तोड़, और स्वस्थान का ड्रिल करवाई
  7. धीरे चाल से सामने सलूट की जरुरत और करवाई
  8. 4 स्टेप्स में धीरे चल से दाहिने दाहिने सलूट की करवाई और जरुरत
  9. 4 स्टेप्स में धीरे चल से बाएँ सलूट के ड्रिल और कमांड
  10. "परेड पर(getting on parade) " जरुरत और करवाई

Thursday, November 8, 2018

लाठी ड्रिल में लाठी मरना

पिछले पोस्ट में हमने लाठी ड्रिल में लाठी के साथ सलूट करने के बारे में जानकारी प्राप्त की अब इस पोस्ट में हम जानेगे कीलाठी ड्रिल में लाठी मारने का ड्रिल  क्या है !


जैसे की हम जानते है की यूनिफार्म फाॅर्स में सभी करवाई एक सेट ड्रिल के अनुसार की जाती है जिसका बहुत सारे  फायदे है जैसे की अगर हम लाठी को एक सेट ड्रिल के अनुसार इस्तेमाल करेगे तो इसमें अपनी बचाव तथा जिसको मार रहे है उसे भी जो चोट लगेगा ओ जान लेवा नहीं होगा !  मतलब जो भी ड्रिल है उसको बहुत प्रैक्टिस के बाद निर्धारित करता है !

इस ब्लॉग पोस्ट में हम लाठी ड्रिल के निम्न बातो के बारे में जानेगे :
1. बदन के बाए  जबड़े  लाठी  मरना (Lathi drill badan ke baye jabde par lathi marna)
2. बदन के बाये पसली  लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye pasli  par lathi marna)
3. बाये घुटने पर लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye Ghutna par lathi marna)
4. बाए टखने पर लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye takhne par lathi marna)

1. बदन के बाए  जबड़े  लाठी  मरना (Lathi drill badan ke baye jabde par lathi marna)

आदेश मिले बाये जबड़े पे मार कक्षा तैयार : 

यह आदेश तैयारी पोजीशन से ही दी जाती है !आदेश "एक " पर करवाई इस प्रकार से  तयारी पोजीशन से ही लाठी को सिर के आगे ले जाते हुए सामने वाले के बाए जबड़े पर मारे ! इसमें देखने वाली बाते है की लाठी सामने वाले के बाए जबड़े के सीध में !

दो के आदेश पर वही से तैयारी की पोजीशन में आ जायेंगे !

2. बदन के बाये पसली  लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye pasli  par lathi marna)

आदेश मिले बाये पसली  पे मार कक्षा तैयार : 

यह आदेश तैयारी पोजीशन से ही दी जाती है !आदेश "एक " पर करवाई इस प्रकार से  तैयारी  पोजीशन से ही लाठी को सिर के आगे ले जाते हुए सामने वाले के बाए पसली  पर मारे ! इसमें देखने वाली बाते है की लाठी सामने वाले के बाए पसली  के सीध में !

दो के आदेश पर वही से तैयारी की पोजीशन में आ जायेंगे !

जरुरपढ़े:3 तरीके दुश्मन के फायर पोजीशन को पता लगने के

3. बाये घुटने पर लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye Ghutna par lathi marna)

आदेश मिले बाये घुटने  पे मार व कक्षा तैयार : 

यह आदेश तैयारी पोजीशन से ही दी जाती है !आदेश "एक " पर करवाई इस प्रकार से  तैयारी  पोजीशन से ही लाठी को सिर के आगे ले जाते हुए सामने वाले के बाए घुटने पर मारी जाएगी  ! इसमें देखने वाली बाते है की लाठी सामने वाले के बाए घुटने   के सीध में  साथ ही मारने वाला अपना पिछला पैर पीछे ले जायेगा ताकि बदन का झुकाव जरुरत के मुताबिक हो !

दो के आदेश पर वही से तैयारी की पोजीशन में आ जायेंगे और पैर को भी पहले के पोजीशन में लायेंगे  !

4. बाए टखने पर लाठी मरना (Lathi drill badan ke baye takhne par lathi marna)

आदेश मिले बाये टखने   पे मार व कक्षा तैयार : 

यह आदेश तैयारी पोजीशन से ही दी जाती है !आदेश "एक " पर करवाई इस प्रकार से  तैयारी  पोजीशन से ही लाठी को सिर के आगे ले जाते हुए सामने वाले के बाए टखने  पर मारी जाएगी  ! इसमें देखने वाली बाते है की लाठी सामने वाले के बाए टखने    के सीध में  साथ ही मारने वाला अपना पिछला पैर पीछे ले जायेगा ताकि बदन का झुकाव जरुरत के मुताबिक हो !

दो के आदेश पर वही से तैयारी की पोजीशन में आ जायेंगे और पैर को भी पहले के पोजीशन में लायेंगे  !

जरुरपढ़े:सेक्शन फार्मेशन और सेक्शन फार्मेशन का बनावट

इस प्रकार से यहाँ हम लाठी ड्रिल में बदन के बाए तरफ लाठी कैसे मारा  जाता है उससे सम्बंधित लाठी ड्रिल के बारे में जानकारी प्राप्त की !उम्मीद है की यह आपको पसंद आएगा !अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे !
 इन्हें भी पढ़े :
  1. पेट्रोलिंग और नाईट पेट्रोलिंग और उसके टास्क और नफरी
  2. अम्बुश और काउंटर अम्बुश, अम्बुश का उद्देश्य , अम्बुश का पार्टिया , अम्बुश का टारगेट
  3. सेक्शन फार्मेशन एंड प्लाटून फार्मेशन के फायदे और नुकशान
  4. टेक्टिकल वर्ड्स और उसका मतलब हिंदी में -II
  5. टेक्टिकल वर्ड्स और उसका मतलब हिंदी में -I
  6. कामौफ्लाज और कांसिल्मेंट के ऊपर एक संक्षिप्त जानकारी
  7. पेट्रोलिंग के परिभाषा और पेट्रोलिंग के प्रकार
  8. पेट्रोलिंग पार्टी को ब्रीफिंग देने का तरीका ?
  9. अम्बुश का परिभाषा और अम्बुश की पार्टिया
  10. अम्बुश  की पार्टियो को ब्रीफिंग देने के तरीका

Sunday, November 4, 2018

लाठी ड्रिल - लाठी के साथ सावधान , विश्राम और आराम से

पिछले पोस्ट में हमने पुलिस लाठी से परिचय के बारे में जानकरी प्राप्त की इस पोस्ट में हम अब यह जानेगे की लाठी के साथ सावधान , विश्राम और आराम (Lathi ke sath savdhan, vishram aur aaram se)से का ड्रिल कैसे होता है !


पुलिस के जवान को जैसे खली हाथ या हथियार के साथ सेट ड्रिल है के की कैसे सावधान, विश्राम ,आराम और सलुते करना है उसी तरह से लाठी के साथ भी ड्रिल पैटर्न सेट है और उन्हें उसका सही तरह से पालन करना चाहिए क्यों की ड्रिल से किसी भी पुलिस महकमा का डिसिप्लिन और मोरल का पता चलता है!

इस पोस्ट के मध्यम से लाठी ड्रिल के निम्न कवायद के बारे में जानेगे :
1. लाठी ड्रिल में लाठी के सावधान कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath savdhan position)
2. लाठी ड्रिल - लाठी के साथ विश्राम कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath vishram position)
3. लाठी ड्रिल - लाठी के साथ आराम से कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath aaram se position)

1. लाठी ड्रिल में लाठी के सावधान कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath savdhan position)

जब लाठी के साथ ड्रिल कर रहे हो और आदेश मिले "सावधान" तो करवाई इस प्रकार से करे 
  •  लाठी के मोटे सर को ऊपर रखते हुए दाहिने हाथ से लाठी के मोटे शिरे को इस प्रकार से पकड़ो की चारो अंगुलिया बहार से 
  • और अंगूठा अन्दर से हो 
  • लाठी बदन के साथ चिपकी हुई 
  • और लाठी का निचला शिरा दाहिने बूट के टो के दाहिने तरफ हो 
  • बाकि की पोजीशन खली हाथ के सावधान की तरह से 
वर्ड ऑफ़ कमांड " लाठी के साथ सावधान " पोजीशन में देखने वाली बातें :
  • पोजीशन खाली हाथ की तरह सावधान 
  • लाठी  की पोजीशन हील बट  पर 
  • दाहिने हाथ की चारो अंगुलिया मिली हुई 
  • और लाठी के मोटे शिरे को पकड़ी हुई 
  • अंगूठा अन्दर से जमीन की तरफ पॉइंट करता हुआ 
  • कलाई लाठी  के पीछे कवर किया हुए !

2. लाठी ड्रिल - लाठी के साथ विश्राम कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath vishram position)

जब लाठी के साथ ड्रिल कर रहे हो और आदेश मिले "विश्राम" तो करवाई इस प्रकार से करे 

लाठी के साथ ड्रिल में विश्राम की करवाई राइफल ड्रिल की तरह ही होता है :

  • बाए पाँव को उठाकर 18 इंच  बाये की तरफ ले जाये 
  • साथ ही लाठी को दाहिने हाथ से आगे को धकेले 
लाठी  के साथ विश्राम पोजीशन में देखने वाली बाते 

  • बाएं पांव का पोजीशन खाली हाथ में विश्राम होते है उसी की तरह 
  • दाहिने हाथ से लाठी  पूरा आगे धकेला हुवा 
  • दाहिने हाथ का पूरा खंभ निकला हुवा 
  • बाएँ बाजु सावधान पोजीशन की तरह बदन से चिपका हुवा !
  • चेस्ट अप और निगाह सामने 
  • कोई अनावश्यक हरकत नहीं 

3. लाठी ड्रिल - लाठी के साथ आराम से कैसे होते है ?(Lathi drill- lathi ke sath aaram se position)

जब लाठी के साथ ड्रिल कर रहे हो और आदेश मिले "आराम " तो करवाई इस प्रकार से करे :
  • आराम से "एक" के आदेश पर दाहिने हाथ की पकड़ को उल्टा करो ताकि हथेली का पिछला भाग लाठी के ऊपर आ जाए !
  • "दो" के आदेश पर दाहिने पैर को 30 इंच आगे लो साथी ही लाठी को भी उसी पोजीशन में आगे ले  जाए लाठी वही दाहिने पैर की बूट की तो के साथ दाहिने तरफ रहेगी !
  • बाया पैर पीछे पहले वाली जगह पर !
इस प्रकार से लाठी के साथ सावधान, विश्राम, और आराम से सम्बंधित ब्लॉग पोस्ट  समाप्त हुई !उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगा ! अगर ब्लॉग या पोस्ट से सम्बंधित कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब या फेसबुक पेज को लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे !

Saturday, October 20, 2018

SSG-69 स्नाइपर राइफल के जीरो करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने SSG-69 राइफल के टेलेस्कोप साईट की विशेषता के बारे जानकारी प्राप्त किये और अब इस पोस्ट में हम SSG-69 राइफल को जीरो करने के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे !

जरुर  पढ़े :स्निपिंग राइफल SSG -69 का एक संक्षिप्त परिचय

जैसे की हम जानते है की किसी भी हथियार को बिना जीरो किये फायर करने से गोली सही जगह यानि पॉइंट ऑफ़ एम पर  नहीं लगती है बल्कि ऊपर निचा या दाये बाये जा कर लगती है और इसी त्रुटी को दूर करने के लिए जीरो करना पड़ता है !


इस ब्लॉग पोस्ट में हम जानेगे SSG-69 राइफल के जीरो करने से सम्बंधित निम्न विषयों के बारे में जानेगे :

1. SSG-69 स्नाइपर राइफल के जीरो करने का जरुँरत क्यों पड़ता है ?(SSG-69 niper rifle ke zero karne ki jarurat)
2. SSG-69 राइफल को जीरो कब कब किया जाता है ?(SSG-69 rifle ko zero kab kiya jata hai)
3.SSG-69 राइफल को जीरो करने से पहले ध्यान में रखने वाली बाते !(SSG-69 rifle ke zero karne se pahle dhyan me rakhnewali bate)
4.SSG-69 राइफल को जीरो करते समय ध्यान में रखने वाली बाते(SSG-69 rifle ko zero karte samay dhyan rakhne wali bate)
5.SSG-69 राइफल के एलिवेशन की गलती को दूर करने का तरीका (SSG-69 rifle ke elevation ki galti ko dur karne ka tarika)
6.SSG-69 राइफल के दाये -बाये  की गलती को दूर करने का तरीका (SSG-69 rifle ke left-right ki galti dur karne ka tarika)

जरुर  पढ़े :SSG-69 स्नाइपर राइफल का बेसिक टेक्निकल डाटा

1. SSG-69 स्नाइपर राइफल के जीरो करने का जरुँत क्यों पड़ता है ?(SSG-69 niper rifle ke zero karne ki jarurat)

किसी हथियार को बगैर जीरो किये फायर करने से फायर सही जगह पे नहीं लगता है ! SSG-69 स्निपिंग राइफल को जीरो या साईटिंग  इन करने का मतलब रेंज के लिहाज से गोली की  एम्.पी.आई(MPI)  को ऐमिंग पॉइंट के नजदीक लेना !

इस काम के लिए SSG-69 स्निपिंग राइफल में लगी हुई टेलीस्कोपिक साईट को एडजस्ट करके ऊपर निचे और दाये -बाए की गलती को दूर किया जाता है !इसके अलावा SSG-69 राइफल में लगी हुई आयरन साईट (इमरजेंसी साईट ) को भी एडजस्ट किया जा सकता है !

जीरोइंग करते समय निम्न दो बातो पर ध्यान रखना चाहिए :
  • अक्सिक्स ऑफ़ बैरल (Axix of barrel)
  • पॉइंटर या रेक्टिकल का पोजीशन (Pointer ya Rectical ka position)
अगर एक फायरर फायरिंग के मार्कमैनशीप ट्रेनिंग के उसूल को ध्यान में रखते हुए फायर करता और गोली दुरुस्त जगह पर नहीं लगती है तो इसका मतलब हथियार में कुछ कमी है  क्यों की  पॉइंटर दुरुस्त पॉइंट ऑफ़ एम पर है  लेकिंग बैरल का अक्सिक्स पॉइंटर के सीध में न होकर दाए -बाए या उपर- निचे है जिससे गोली सही जगह पर नहीं लग रही है ! और जेरोइंग की जरुरत इन कमीयो को दूर करने के लिए पड़ता है और ज़ेरोइंग के द्वारा राइफल के ऊपर -निचे तथा दाए -बाए की गलती को दूर किया जाता है !

जरुर  पढ़े :SSG-69 राइफल की विशेषताए और सुरक्षित इस्तेमाल

2. SSG-69 राइफल को जीरो कब कब किया जाता है ?(SSG-69 rifle ko zero kab kiya jata hai)

SSG-69 राइफल को निम्न चंद  मौके पर ज़ेरोइंग किया जाता है :
  • नई राइफल आने पर 
  • हथियार में मेजर रिपेयरिंग के बाद 
  • स्नाइपर को अपने हथियार के मार पर शक होने पर 
  • किसी ऑपरेशन में जाने से पहले 
  • कम्पटीशन या क्लासिफिकेशन फायर से पहले 

3.SSG-69 राइफल को जीरो करने से पहले ध्यान में रखने वाली बाते !(SSG-69 rifle ke zero karne se pahle dhyan me rakhnewali bate)

ज़ेरोइंग करने से पहले कुछ बाते ध्यान में रखना चाहिए जैसे :
  • राइफल और टेलेस्कोप  का नम्बर एक हो 
  • टेलेस्कोप के लेंस साफ़ हो 
  • फायरर अपने कद के मुताबिक स्पेसर को हटा के राइफल की लम्बाई को एडजस्ट कर लेना चाहिए 
  • अमुनिसन साफ़ और एक ही लॉट का होना चाहिए और उसको धुप से बचाना  चाहिए 
  • मौसम साफ़ और ज्यादा हवा न हो 
  • चाहे किसी भी पोजीशन से फायर कर रहे हो पोजीशन दुरुस्त होनी चाहिए 
  • SSG-69 राइफल को 400 मीटर के रेंज से जीरो किया जाता है अगर 400 मीटर का रेंज न मिले तो 200 मीटर के रेंज से भी जीरो किया जा सकता है !
  • अगर नई SSG-69 राइफल को जीरो किया जा रहा हो तो उस हालत में पहले 10 राउंड फायर करना चाहिए  और बाद में 5 राउंड का ग्रुप फायर करके ज़ेरोइंग की करवाई करनी चाहिए !
  • फायरिंग के समय ज्यादा देर तक शिस्त नही ले कर रखना चाहिए , और अगर थकन महसूस हो तो आँखों को रेस्ट देना चाहिए !

4.SSG-69 राइफल को जीरो करते समय ध्यान में रखने वाली बाते(SSG-69 rifle ko zero karte samay dhyan rakhne wali bate)

अगर ज़ेरोइंग करते समय निम्न बातो को अमल में लाये :
जीरो करने का तरतीब
जीरो करने का तरतीब 
  • सबसे पहले 5 राउंड का एक ग्रुप फायर कराया 
  • एम् पी आई(main point of impact) मालूम करे 
  • अगर एम् पी आई(MPI) सही जगह पे बनी हो तो दूसरा चेक ग्रुप फायर कराया 
  • अगर चेक ग्रुप की एम् पी आई(MPI) सही जगह पे बनी हो तो ज़ेरोइंग ठीक है 
  • यदि चेक ग्रुप का एम् पी आई(MPI) सही जगह पे नहीं बनी हो तो टेलेस्कोप साईट को एडजस्ट  करे 
  • टेलेस्कोप साईट ठीक करने के बाद फायर एक चेक ग्रुप फायर करे और चेक ग्रुप फायर में एम् पी आई सही जगह पे बन गया तो जीरो ठीक है नहीं तो फायर से टेलेस्कोप को एडजस्ट करे और फिर पूरी प्रक्रिया अपनाये !
  • अगर शुरू में ही एम् पी आई सही जगह में नहीं बना तो चेक ग्रुप फायर नहीं करेंगे बल्कि टेलेस्कोप को एडजस्ट करेंगे उसके बाद चेक ग्रुप फायर करेंगे और चेक ग्रुप में एम् पी आई सही जगह पर बन  गई तो जीरो दुरुस्त नहीं तो फायर टेलेस्कोप को एडजस्ट करे और बाकी की प्रिक्रिया पूरी फिर से अपनाया जायेगा !

5.SSG-69 राइफल के एलिवेशन की गलती को दूर करने का तरीका (SSG-69 rifle ke elevation ki galti ko dur karne ka tarika)

(a) ऊँचा ग्रुप (SSG-69 High Group)

एलिवेशन व्हील को 4 पर और विन्डेज व्हील को 0 पर रख के 400 मीटर से 5 राउंड का एक ग्रुप फायर करे ! गोली शिस्त के जगह से ऊपर लगी यानि उचा ग्रुप बना !अभी रेंज को कम कर के फायर दूसरा ग्रुप फायर करे अगर ग्रुप सही जगह पर बन  रहा है इसका मतलब है की टेलेस्कोप को एडजस्ट करना पड़ेगा !

अगर ग्रुप सही जगह पर नहीं बनता है तो रेंज को और कम  कर के  एक ग्रुप फायर करे यह करवाई तब तक करे जब तक की ग्रुप सही न बन जाए !

(b)निचा  ग्रुप (SSG-69 down Group)

एलिवेशन व्हील को 4 पर और विन्डेज व्हील को 0 पर रख के 400 मीटर से 5 राउंड का एक ग्रुप फायर करे ! गोली शिस्त के जगह से निचे  लगी यानि निचा ग्रुप बना !अभी रेंज को कम कर के फायर दूसरा ग्रुप फायर करे अगर ग्रुप सही जगह पर बन  रहा है इसका मतलब है की टेलेस्कोप को एडजस्ट करना पड़ेगा !

अगर ग्रुप सही जगह पर नहीं बनता है तो रेंज को और कम  कर के  एक ग्रुप फायर करे यह करवाई तब तक करे जब तक की ग्रुप सही न बन जाए ! 

6.SSG-69 राइफल के दाये -बाये  की गलती को दूर करने का तरीका (SSG-69 rifle ke left-right ki galti dur karne ka tarika)

जैसे की हम जानते है की विन्डेज व्हील के मदद से दाये बाये की गलती को दूर किया जाता है ! विन्डेज व्हील या डिफ्लेकसन ड्रम में 0 से  बाये 16 और दाये 18 क्लिक डीटेंट का करेक्शन किया जा सकता है !

एक क्लिक या डीटेंट  100 मीटर पर 1 सेंटीमीटर का फर्क डालता है और यह फर्क अलग अलग रेंजो पर रेंज के अनुसार घटता बढ़ता जायेगा !

SSG-69 राइफल के डिफ्लेकसन
SSG-69 राइफल के डिफ्लेकसन 
चित्र से समझ सकते है की 0.1 मिल कोण जो की एक क्लिक घुमाने से बनता वो अलग अलग रेंज पर 1 सेमी का गुणक से बढ़ता है !अगर एम् पी आई को बाए ले जाना है तो लेफ्ट का करेक्शन देना चाहिए ! ऐसा करने से पॉइंटर दाए तरफ  हरकत करेगा और पॉइंटर को जब वापिस पॉइंट ऑफ़ एम पर मिलायेंगे तो बैरल बाए हरकत करेगा और एम् पी आई बाए बनेगा !

(a) बाए का ग्रुप (Left group)

एलिवेशन व्हील को 4 पर और विन्डेज व्हील को 0 पर अख के 400 मीटर से एक ग्रुप फायर करने पर अगर एम् पी आई 16 सेमी बाए  बनी तो उसे दाए ले जाने के लिए विन्डेज व्हील पर 4 क्लिक दाए की विन्डेज लगाये और दूसरा चेक ग्रुप फायर करे !एम् पी आई को चेक करे अगर एम् पी आई सही जगह पर बने तो टेलीस्कोपिक साईट को  तीनो स्क्रू लूज  करके एडजस्ट करे ! 

(a) दाये  का ग्रुप (Right group)

एलिवेशन व्हील को 4 पर और विन्डेज व्हील को 0 पर अख के 400 मीटर से एक ग्रुप फायर करने पर अगर एम् पी आई 16 सेमी दाये   बनी तो उसे बाए  ले जाने के लिए विन्डेज व्हील पर 4 क्लिक दाए की विन्डेज लगाये और दूसरा चेक ग्रुप फायर करे !एम् पी आई को चेक करे अगर एम् पी आई सही जगह पर बने तो टेलीस्कोपिक साईट को  तीनो स्क्रू लूज  करके एडजस्ट करे !

एडजस्ट में के बाद एक चेक ग्रुप फायर करना चाहिए ! विन्डेज की गलती को दूर करते समय यह ध्यान में रखना चाहिए की जिधर एम्.पी.आई ले जानी है उधर की करेक्शन लगाना चाहिए !

इस प्रकार से यहाँ SSG-69 स्नाइपर राइफल के जीरो से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित !
इसे भी पढ़े : 
  1. SSG-69 राइफल को भरना और खाली करने का तरीका
  2. SSG-69 राइफल को रेडी, मेक सेफ और खाली कर का तरीक...
  3. 7.62 mm MMG के माउंट ट्राई पोड की करवाई के समय ध्...
  4. 7.62 mm MMG के फायर आर्डर का क्रम और वक्फा के दौरा
  5. 7.62 mm MMG के टारगेट का नाम और MMG में पडनेवाले र...
  6. 7.62 mm MMG को फायर के लिए तैयार करते समय ध्यान मे...
  7. 6 महत्वपूर्ण बाते 84 mm मोर्टार के बारे में
  8. 5 जरुर जाननेवाली बाते 81 mm मोर्टार के बारे में ?...
  9. 81 mm मोर्टार के 10 छोटी छोटी बेसिक बाते
  10. 5 मुख्य बाते 81 mm मोर्टार के फायर कण्ट्रोल से सम