Sponser


Sunday, July 31, 2016

Drill: विशार्जन , लाइन तोड़, और स्वस्थान का ड्रिल करवाई

पिछले पोस्ट के हमने खाली हाथ  ड्रिल  "खड़े खड़े बाएँ सलूट"(Khade khade salute) के बारे में जानकर हासिल की इस पोस्ट में हम विसर्जन , लाइन तोड़ और स्वस्थान  क्या है(Visharjan, line tod aur swasthan kya hai ) और उसकी करवाई के बारे में जानकारी हासिल करेंगे !


जैसे की आप देखते होंगे की आर्म्ड फाॅर्स की कोई भी फालेन या मीटिंग हो और जवान इकठ्ठा हुए हो तो अंत में कभी विशार्जन तो कभी लाइन तोड़ का आदेश दिया जाता है यानि की किसी प्रोग्राम का खात्मा विशार्जन या लाइन तोड़ की वर्ड ऑफ़ कमांड से होता है ! इस लाइन तोड़ और विशार्जन के  वर्ड ऑफ़ कमांड में अंतर क्या है यानि  कब लाइन तोड़ और कब विशार्जन का वर्ड ऑफ़ कमांड इस्तेमाल किआ जाता है !

जरुर पढ़े : 4 स्टेप्स में तेज चल कि करवाई कैसे की जाती है

विसर्जन , लाइन तोड़ और स्वस्थान  का जरुरत(Visharjan, line tod aur swasthan  ki jarurat):
  1. विशार्जन(Visharjan) : जब ट्रूप्स को दुबारा फलइन नहीं  करना हो या  परेड  को लम्बे समय के लिए छोड़ना हो  तो विशार्जन  वर्ड ऑफ़ कमांड दिया जाता है  !
  2. लाइन तोड़(Line tod) : जब ट्रूप्स को थोड़ी देर के लिए आराम देना हो और दुबारा फलइन  करना हो तो लाइन तोड़  का वर्ड ऑफ़ कमांड दिया जाता है !
  3. स्वस्थान(Swasthan) : ये करवाई उस वक्त की जाती है जब लेक्चर हॉल से क्लास को छोड़ना हो 
विशार्जन , लाइन तोड़  और स्वस्थान  का वर्ड ऑफ़ कमांड(Visharjan, line tod aur swasthan  ka word of command) 
  • विशार्जन : स्क्वाड/परेड/पलटन विशार्जन 
  • लाइन तोड़ : स्क्वाड/परेड/पलटन लाइन तोड़ 
  • स्वस्थान : क्लास स्वस्थान  

विशार्जन , लाइन तोड़ और स्वस्थान   का करवाई ((Visharjan, line tod aur swasthan  ki drill karwai) : जब उस्ताद विशार्जन या लाइन तोड़ का नमूना पेश कर रहे हो तो उस समय स्क्वाड को आधा दायरा में फल इन कर के स्क्वाड की और मुह करके नमूना देना चाहिए !
  •  विशार्जन की करवाई :जब सावधान पोजीशन से वर्ड फ कमांड मिलता है  स्क्वाड विशार्जन तो करवाई इस प्रकार से होगी !  पूरी स्कौड़ एक साथ दाहिने मुड की करवाई कर के सलूट  करेगा और तीन कदम आगे लेकर थम करेगा और सीधे निकल जायेगा ! 
  • लाइन तोड़ : जब सावधान पोजीशन से वर्ड ऑफ़ कमांड मिलता है स्क्वाड लाइन तोड़ तो करवाई इस प्रकार से होगी ! पूरी स्क्वाड एक साथ दाहिने मुड की करवाई करेगी और तीन कदम आगे लेकर थम  करेगी फिर सिहे निकल जाएगी ! विशार्जन और लाइन तोड़ की करवाई एक जैसी ही है अंतर केवल इतना है की विशार्जन में सलूट करते है जब की लाइन तोड़ में सलूट नहीं करते है बाकि करवाई एक जैसी ही होती है !
  • स्वस्थान: स्वस्थान का वर्ड ऑफ़ कमांड उस समय दिया जाता है जब जवान किसी लेक्चर क्लास में बैठ हो और लेक्चर ख़त्म होने के बाद उन्हें छोड़ना है तो वर्ड ऑफ़ कमांड दिया जाता है  क्लास स्वस्थान वर्ड ऑफ़ कमांड पे सभी जवान बैठे बैठे  अपने हाथ को दोनों पैरो पे रख कर सीधा करेंगे(यानि बैठे बैठे सावधान होंगे ) और खड़ा होकर क्लास से बहार चले जायेगा ! 
जरुर पढ़े : खड़े खड़े सलूट का तरीका और जरुरत


ये रही  विशार्जन , लाइन तोड़ और स्वस्थान की वर्ड ऑफ़ कमांड और करवाई के बारे में जानकारी !उम्मीद है पोस्ट पसंद आएगा अगर कोई कमेंट या सुझाव हो तो जरुर दे और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब  करके हमलोगों को सपोर्ट करे!

इस ब्लॉग से कुछ डाउनलोड करना है तो आप डाउनलोड सेक्शन से जा कर उसे लिंक के ऊपर क्लिक करकेडाउनलोड कर सकते है !

इसे भी  पढ़े :
  1. भारतीय पुलिस ड्रिल ट्रेनिंग में इस्तेमाल होने वाले परेड कमांड का हिंदी -इंग्लिश रूपांतरण
  2. ड्रिल में अच्छी पॉवर ऑफ़ कमांड कैसे दे सकते है
  3. ड्रिल का इतिहास और सावधान पोजीशन में देखनेवाली बाते
  4. VIP गार्ड ऑफ़ ऑनर के नफरी और बनावट
  5. विश्राम और आराम से इसमें देखने वाली बाते !
  6. सावधान पोजीशन से दाहिने, बाएं और पीछे मुड की करवाई
  7. आधा दाहिने मुड , आधा बाएं मुड की करवाई और उसमे देखने वाली बाते !
  8. 4 स्टेप्स में तेज चल और थम की करवाई
  9. फूट ड्रिल -धीरे चल और थम
  10. खुली लाइन और निकट लाइन चल

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...