Search

20 July 2016

84 mm राकेट लांचर 2"और 51 mm मोर्टार के खुबिया , खामिया और डिप्लॉय करने का उसुल

पिछले पोस्ट में हमने 7.62 mm LMG के खुबिया , कमिया तथा सिटिंग उसूल के बारे में जानकारी शेयर किये इस पोस्ट में हम 84 mm आर एल  और  2"/51 mm मोर्टार(84 mm Rocket launcher, 2 inch mortar ttha 51 mm mortar ke khubia, kamia aur siting usul) के बारे में जानकारी शेयर करेंगे !

जैसे की आप जानते है की 84mm राकेट लांचर , 2"/51mm मोर्टार एक आर्म्ड फाॅर्स को ऑपरेशन के दौरान दुश्मन को बर्बाद करे में बहुत ही अहम रोले रहते है और ये बड़े से बड़े टारगेट को बर्बाद करने की खासुसिअत रखते है और इसे सही तरीके से इस्तेमाल किया जाय तो ! इस की कुछ खुबिया , कमिया और सिटिंग उसूल इसप्रकार से है !

84 mm राकेट लांचर की खुबिया (81mm RL ki khubia)

  • झटका नहीं देता है जब फायर करते है तो 
  • कंधे पर रख कर फायर किआ जा सकता है !
  • लोहे के अन्दर घुसने की ताकत ज्यादा है इस की heat राउंड  400 mm लोहे की मोटाई को भी भेद सकता है !
  • मल्टी रोल प्ले आर्ट है जैसे , धुएं की पर्दा बनाने और रौशनी पैदा करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है !
  • फौजी दस्तो तथा टैंक के खिलाफ भी इस्तेमाल किआ जा सकता है !
  • किसी पक्के की बनी बिल्डिंग को ध्वस्त करने में भी इस्तेमाल कर सकते है !

84 mm राकेट लांचर की कमिया(81mm RL ki khamia) :

  • शोला पैदा होता है जब फायर करते है इस लिए लोकेशन एक्सपोज  होने की ज्यादा चांसेज रहता है
  • क्रू के लिए आवाज़ बहुत होती है 
  • बेक ब्लास्ट होता है 
84 mm राकेट लांचर की सिटिंग के  उसुस्ल(81mm RL ko lagane ka usul) 
  • छुपाओ में हो 
  • बैक ब्लास्ट के एरिया साफ हो 
  • इनफिलेड फिरे कर सके 
  • डीदिलाड़ेड  पोजीशन में हो 
  • लोकल प्रोटेक्शन हो 
  • फील्ड of फायर साफ हो 
  • टैंक के आने वाले मुमकिन रास्तो को कवीर कर सकता हो !
  • अल्टरनेटिव और सेकेंडरी पोजीशन हो 
  • मशहूर निशान के पास न हो 
2"/51मम मोर्टार की खुबिया (2 inch mrotar/51 mm mortar ki khubia)

  • हल्का हथियार है 
  • नॉ 2 की मदद से भरी मात्र में फिरे गिराया जा सकता है !
  • धुवा और रोशनी पैदा करने के लिए इस्तेमाल किआ जा सकता है !
  • डायरेक्ट और इन डायरेक्ट फायर कर सकते है !
  • जहा फ्लैट त्रैजेक्ट्री वाले हथियार कारगर नहीं हो उस जगह फिरे गिरा सकते है !
 2"/51मम मोर्टार की कमिया(2 inch mrotar/51 mm mortar ki khamia) :
  •  शोला देता है 
  • उडान का रास्ता साफ होना चाहिए 
  • डायल साईट का जल्दी से टूटना 

2"/51मम मोर्टार की सिटिंग के उसूल(2 inch mrotar/51 mm mortar ko deploy karne ka usul) 
  • छुपाओ में हो 
  • हीफजत  में हो 
  • दिया हुवा टास्क पूरा कर सके ऐसे जगह पे हो !
  • बम के उड़न के रस्ते साफ हो 
  • मशहूर निशान के पास न हो !
  • लोकल प्रोटेक्शन में हो 

किसी भी हथियार का पूरा फ़ायदा तभी उठाया जा सकता है जब सभी कमांडर्स और आर्म्ड फोर्सेज के जवानों को  उन हथियारों को अलग अलग हालत के मुताबिक लगाना आता हो! इस प्रकार से 84mm RL तथा 2"/51mm म्र्टर के खुबिया , कमिया तथा लगानेका उसूल ! उमीद है पोस्ट पसंद आयेगा कोई कमेंट हो तो निचे जरुर लिखे औद इस ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सपोर्ट करे ! ..
इन्हें भी  पढ़े :
  1. इंसास राइफल की दुरुस्त ट्रिगर ऑपरेशन
  2. 36 ग्रेनेड के बेसिक जनरल डाटा और ग्रेनेड का इस्तेमाल और पार्ट्स के नाम
  3. नॉ-36 ग्रेनेड का खोलना जोड़ना और ग्रेनेड की चाल
  4. ग्रेनेड के हमला से बचाव और ग्रेनेड फेकने का तरीका !
  5. ट्यूब लौन्चिंग MK-I का बेसिक डाटा और विशेषताए
  6. राइफल ग्रेनेड फायर करने का तरीका और चाल
  7. X-95 राइफल का परिचय और बेसिक स्पेसिफिकेशन डाटा
  8. X-95 राइफल को खोलना जोड़ना तथा हिस्से पुरजो का नाम और साफ सफाई करने का तरीका
  9. X-95 रेफिले में लगने वाले साईट की जानकारी
  10. X-95 राइफल से फायर करने का तरिका

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Add