Search

4.07.2021

राष्ट्रपति को गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया जाता है उसकी नफरी कितनी की होती है?

 हमने अपने ड्रिल के पिछले ब्लॉग पोस्ट में यह जाना की सावधान पोजीशन में दोनों पैरो के पैन्जो के बिच कितना डिग्री का कोण बनता है और इस ब्लॉग पोस्ट में हम जानेगे की राष्ट्रपति को जो सरमोनिअल परेड में गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया जाता है उसकी नफरी कितनी की होती है !(Total strength required for President Guard of Honour)

President visit to Lakshadweep(Google pic)

राष्ट्रपति अपने  देश का प्रथम नागरिक होता है उनका हर मूव और कृत का एक लिखित  प्रोटोकॉल होता है और उसी के अनुसार पूरी गतिविधिया होती है वह  जब भी किसी प्रदेश या संस्था का दौरा करते है !आप यह देखते होगा की राष्ट्रपति जहा कही जाते है तो  पहला स्वागत गार्ड ऑफ़ ऑनर (Guard of Honour)दे कर की की जाती है ! अब यह सवाल उठता  की क्या राष्ट्रपति को गार्ड ऑफ़ ऑनर देने के लिए कुल कितनी नफरी होगी ! क्या कोई  प्रोटोकॉल बना हुवा है या जो भी  राज्य को जितनी नफरी का  गार्ड ऑफ़ ऑनर देना है वह अपने निर्णय  करते है !

जरूर पढ़े:पुलिस फाॅर्स में सिविल ड्रेस के बारे गाइड लाइन है?

तो उपरोक्त सवाल का जवाब होगा नहीं कोई भी राज्य या संस्था यह खुद निर्णय  नहीं करती है बल्कि BPR &D के द्वारा बनाई गई एक ड्रिल मैन्युअल(BPR&D Drill manual) है जिसे आम तौर पर देश भर की जितनी यूनिफार्म फाॅर्स है वह सभी इसको अनुसरण  करती है और उस सी ड्रिल मैन्युअल में साफ साफ लिखा  की राष्ट्रपति या और किसी भी VVIP  को गार्ड ऑफ़ ऑनर कब और कितने की नफरी का दिया जायेगा !


BPR &D के द्वारा बनाई गई ड्रिल मैन्युअल के चैप्टर XXVII  में यह साफ लिखा है  की राष्ट्रपति या और कोई VVIP  उसकी कितनी  नफरी का गार्ड ऑफ़ दिया  जायेगा , कब दिया जायेगा और उसको कौन कमांड करेगा तथा 2 I /C कौन से रैंक के अफसर रहेगा !

BPR &D के द्वारा बनाई गई ड्रिल मैन्युअल के चैप्टर XXVII  के अनुसार राष्ट्रपति को 150  की नफरी और 2  बैंड  का  गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया जाना चाहिए   अगर किसी यूनिट या प्लेस पर बैंड  उपलब्ध नहीं हो तो 2 विगुलर  को भी रखा जा सकता है बैंड के जगह पर ! 

जरुर पढ़े : खड़े खड़े सलूट का तरीका और जरुरत

यह गार्ड ऑफ़ ऑनर राष्ट्रपति के पब्लिक  दौरा होने पे दिया जायेगा ! यह गार्ड ऑफ़ ऑनर राष्ट्रपति के आने तथा जाते समय दिया जायेगा !  सभी ऑफिसियल दौरा पब्लिक दौरा नहीं होता है बल्कि उसके लिए फॉर्मल नोटिफिकेशन  केंद्र सरकार  द्वारा निकला  जाता है ! और राष्ट्रपति के गार्ड ऑफ़ ऑनर को कमांड एडिशनल एसपी रैंक का अफसर करता है था उसका द्वितीय कमांड या हिंदी में कहे तो 2 I /C  डीएसपी रैंक का अधिकारी होता है !

यह गार्ड ऑफ़ ऑनर दो बराबर बंटी  हुई टुकड़ी (Guard will be formed up in two equal division)में फालेन होती है जो की सेरेमोनियल ड्रेस में रहती   है ! गार्ड 2  लाइन में फालेन होता और अगली से पिछली लाइन के बिच 4   स्टेप्स की दुरी होगी तथा और लाइन में दो जवानो के बिच 24 " की दुरी होती है !

जरुर पढ़े : 5 स्टेप्स में तेज चाल से पीछे मुड की पूरी करवाई

यह भी जानकारी रखनी चाहिए की गार्ड ऑफ़ ऑनर  मार्च पास नहीं करती है और BPR &D के द्वारा बनाई गई ड्रिल मैन्युअल के चैप्टर XXVII के अनुसार सूर्यास्त से सूर्योदय(No Guard of Honour between Sunset to Sunrise time)  के बिच गार्ड ऑफ़ ऑनर नहीं दी जासकती है !


इसी के साथ पराष्ट्रपति को गार्ड ऑफ़ ऑनर देने का समय और नफरी से सम्बंधित ब्लॉग पोस्ट समाप्त हुवा !ऊम्मीद है की यह पोस्ट पसंद आया होगा और कुछ लाभप्रद जानकारी प्रदान हुई होगी  !इस ब्लॉग को सब्सक्राइब या फेसबुक पेज को लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे!

इसे भी  पढ़े :
  1. भारतीय पुलिस ड्रिल ट्रेनिंग में इस्तेमाल होने वाले परेड कमांड का हिंदी -इंग्लिश रूपांतरण
  2. ड्रिल में अच्छी पॉवर ऑफ़ कमांड कैसे दे सकते है
  3. ड्रिल का इतिहास और सावधान पोजीशन में देखनेवाली बाते
  4. VIP गार्ड ऑफ़ ऑनर के नफरी और बनावट
  5. विश्राम और आराम से इसमें देखने वाली बाते !
  6. सावधान पोजीशन से दाहिने, बाएं और पीछे मुड की करवाई
  7. आधा दाहिने मुड , आधा बाएं मुड की करवाई और उसमे देखने वाली बाते !
  8. 4 स्टेप्स में तेज चल और थम की करवाई
  9. फूट ड्रिल -धीरे चल और थम
  10. खुली लाइन और निकट लाइन चल

No comments:

Post a Comment