Advertisement

Search

Sunday, March 11, 2018

लाठी पार्टी का काम और लाठी इस्तेमाल करते समय ध्यान में रखने वाली बातें

पिछले पोस्ट में हमने गैस गन पार्टी का काम  के बारे में जानकारी प्राप्त की ! इस पोस्ट में हम रायट कण्ट्रोल ड्यूटी के दौरान लाठी  पार्टी का क्या काम होता है(Riot contro duty ke dauraan Lathi party ka kaam) उसके बारेमे जानेगे !


जैसे की हम जानते है की रायट कण्ट्रोल ड्यूटी के लिए त्वरित और प्रभाविक करवाई करने के लिए पुलिस पार्टी को बहुत से ग्रुप्स  में बंटा  जाता है !

जरुर  पढ़े :लाठी चार्ज के दौरान लाठी मरते समय ध्यान में रखने वाली बाते !

 सभी ग्रुप को अलग अलग काम दे दिया जाता है ताकि सभी को मालूम रहे की कब और क्या करवाई करनी है और उसी के अनुसार वो लोग तैयार  रहे और अपने साथ उसी के अनुसार साजो सामान ले और चले  करे !


जरुर  पढ़े :  रायट कण्ट्रोल ड्यूटी पे जाने वक्त इन सामानों को ले जाना चाहिए

वैसे तो रायट कण्ट्रोल की बहुत से पार्टी होती है लेकिंग जो मुख्य  पार्टिया होती  है जैसे की :गैस गन पार्टी,लाठी पार्टी,राइफल पार्टी यदि
 इस पोस्ट में हम निम्न विषयके बारे में जानेगे :
Lathi Party
Lathi Party
1.  लाठी  पार्टी के काम(Lathi Party ka kaam) 
2.  लाठी प्रहार करते समय ध्यान में रखनेवाली बाते(Lathi prahar karte samay dhyan me rakhne wali baten)

1.रायट कण्ट्रोल में लाठी पार्टी का काम(Riot Control duty ke dauran lathi party kaam) : अगर चेतावनी के बाद भी मज़म तितर बितर नहीं होता है और अपना रूप उग्र कर लेता है  ऐसे में मौके  पे उपस्थित एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट  पुलिस को आदेश दे सकता है की मजमे के ऊपर गैस गन का प्रयोग किया !

जरुर  पढ़े : रायट कण्ट्रोल ड्रिल की पार्टी तथा रायट कण्ट्रोल ड्रिल पार्टी का बनावट

लिखित आदेश मिलने पर मौके पे मौजुद पुलिस का  पार्टी कमांडर, गैस  गन पार्टी कमांडर को आदेश देगा की गैस पार्टी कमांडर करवाई शुरू कर ! अगर मजमा गैस गन पार्टी की करवाई पर भी तितर बितर नहीं हो रहा हो तब मजिस्ट्रेट के आदेश पे लाठी पार्टी को मजमे को तितर बितर करने का आदेश दिया जाता है !

जैसे  मजिस्ट्रेट का आदेश हुवा मौके पे मौजूद पार्टी कमांडर  अपने लाठी  पार्टी कमांडर को आदेश लाठी इस्तेमाल करने का इस प्रकार से  देता है " लाठी पार्टी कमांडर लाठी प्रहार सुरु कराओ(Lathi party commander prahar suru karao) "  

जरुर  पढ़े : 4 तरीके म़ोब से अपनी बचाव का ऐसे करे !

इस आदेश पर लाठी पार्टी कमांडर अपनी पार्टी को आदेश देगा "लाठी पार्टी (Lathi Party)" इस आदेश पर लाठी पार्टी सावधान हो जाएगी ! "तान केन शील्ड(Tan Cane shield)" आदेश पर लाठी पार्टी जो दो लाइन में खड़ी  है  उसमे सामने की लाइन आधा दाहिने और पीछे की लाइन आधा बाएँ मुड़ेगी ! "लाठी प्रहार के लिए आगे बढ़ (Lathi prahar ke lie aage badh)" इस आदेश पर लाठी को तैयार की हालत में लेते हुए मजमा की तरफ तेजी से आगे बढ़ेगी !

जब कमांडर देखता है की दोनो  लाइन(अगली और पिछली )  एक लाइन में आ गयी है तो वहा अप(UP) बोले आर इस प्रकार दोनों लाइन आधा दाहिने और बाएँ मुड कर सीधी हो जाएगी ! जैसे ही पार्टी मजमा के नजदीक पहुचती है कमांडर हुकुम देगा "प्रहार सुरु कर(prahar Suru Kar) "! इस आदेश पर लाठी पार्टी के जवान जोर से "भाग जाओ - भाग जाओ (Bhag Jao- Bhag Jao)" पुकारते हुए मजमे पर लाठी का प्रहार अपने लाठी से करेंगे  जैसा की समय इजाजत देता है या सिखलाया गया है !
जरुर  पढ़े : आश्रू गैस फायर करते समय सावधानिया तथा आश्रू गैस फायर के फायदे लाठी प्रहार कारगर साबित हो तो पार्टी कमांडर लाठी पार्टी को मुकरर किये हुए इशारे की मदद से (जो बिगुल या विस्सल हो ) वापस बुलाएगा साथ आदेश देगा "लाठी पार्टी वापस (Lathi Party Wapas)" पार्टी कमांडर का आदश मिलते ही लाठी पार्टी उसी हालत में रहते हुए इतना पीछे हटेगी की दंगाई अचानक उनके ऊपर हमला ना कर सकें ! साथ मजमा से लगाव टूट जाये ! सामने की लाइन दाहिने व पीछे की लाइन बाएँ मुड़कर दाहिने बाये घूमते हुए गैस पार्टी के पीछे आकर पहले जैसे खड़ी हो जाएगी ! 
जरुर  पढ़े :आंसू गैस को इस्तेमाल करते समय ध्यान में रखने वाली कुछ बाते इस प्रकार से है 2.लाठी प्रहार करते समय ध्यान में रखनेवाली बाते(Lathi prahar karte samay dhyan me rakhne wali baten) :लाठी पार्टी को अपने ड्यूटी के दौरान इन बाते को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए !

  • जहा तक हो सके लाठी का असर मजमे के ज्यादा से ज्यादा हिस्से पर होना चाहिए !
  • लाठी को लाठी के तौर पे इस्तेमाल किया जाये उसकी लम्बाई का पूरा फैयदा उठाया जाये !
  • भागते हुए मजमे पर लाठी का प्रहार  ना करे !
  • लाठी प्रहार करते हुए अकेला जवान मजमे की बिच में नहीं जाये इसका ख्याल रखना चाहिए !
  • लाठी पार्टी के द्वारा की गई तमाम हरकते तेज दुरुस्त और जोशीला होना चाहिए !
  • आम हालातों में कमांडर को खुद लाठी का प्रयोग नहीं करना चाहिए बल्कि पार्टी पर नियंत्रण करना चाहिए !
  • लाठी पार्टी के पीछे हट्टे समय कमांडर यह यकीं करे की कोई भी जवान मजमे की बिच में तो नहीं आगया है ! अगर कभी ऐसा हो जाये तो लाठी पार्टी कमांडर की जिम्मेवारी होगी की वह अपने जवान को छुड़ाकर लेन की पूरी कोशिश करे !

इस प्रकार से रायट कण्ट्रोल के दौरान लाठी परी का काम और लाठी इस्तेमाल करते वक्त ध्यान में रखने वाली  बातो से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह आपको पसंद आएगा !अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे ! 
इन्हें भी पढ़े :
  1. पुलिस और क्राउड तथा पुलिस का क्राउड के साथ ब्यवहार
  2. पुलिस को क्राउड के साथ कैसे ब्यवहार करना चाहिए ?
  3. रायट कण्ट्रोल ड्रिल की पार्टी तथा रायट कण्ट्रोल ड्रिल पार्टी का बनावट
  4. टियर स्मोक गैस का सिद्धांत और इसके इस्तेमाल करते समय ध्यान में रखने वाली बाते !
  5. आश्रू गैस को स्टोर करते समय ध्यान में रखने वाली बाते
  6. टियर स्मोक स्क्वाड पार्टी के लिए करने और न करने वाली बाते और सावधानिया
  7. टियर स्मोक ग्रेनेड के भूषण तथा सिंगल वे टियर स्मोक ग्रेनेड के चाल और पार्ट्स का नाम
  8. आश्रू गैस का इतिहास और इसका इस्तेमाल
  9. आश्रू गैस के प्रकार तथा उपयोग
  10. आसू गैस के फायर के ऊपर असर डालने वाले तत्व और उसका निदान






No comments:

Post a Comment