Sponser


Tuesday, September 20, 2016

टियर स्मोक गैस का सिद्धांत और इसके इस्तेमाल करते समय ध्यान में रखने वाली बाते !

पिछले  पोस्ट में हमने आश्रू गैस के फायर के ऊपर असर डालने वाले तत्व और उनका निदान के बारे में जानकारी शेयर किआ था इस पोस्ट में मै आश्रू गैस को इस्तेमल करते समय ध्यान में रखने वाली बातो(Tear smoke ko istemal karte samay dhayane me rakhne wali bate) के बारे में जानकारी शेयर करेंगे !



आश्रू गैस के इस्तेमा को ज्यादा से ज्यादा प्रभावी बनाने के लिए जरुरी है की उसका इस्तेमाल करते समय कुछ बाते का विशेष ध्यान रखा जाय ! जैसे :

Image result for tear smoke use
Tear Smoke  Gas
(1) हवा का रुख और रफ़्तार(Hwa ke rukh aur raftar)- जैसे हम जानते है के हवा किस प्रकार से आश्रू गैस के धुवे को प्रभावित करती है ! इसी लिए गैस इस्तेमाल करते ध्यान रखे की गैस को उसी जगह से इस्तेमाल किआ जाय जहा से मजमे के ऊपर ज्यादा से ज्यादा धुए का असर पड सके !

अगर हवा तेज है तो हमे ज्यादा से ज्याद मात्र में आश्रू गैस के गोले फेकने पड़ेंगे क्यों की हवा के रफ़्तार के कारन आश्रू गैस के धुए जल्दे से ऊपर चले जाते है या मजमे से दूर चले जाते है इसलिए हमे आश्रू गैस ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए जब हवा की रफ़्तार तेज हो तो !अगर हवा बहुत तेज हो तो आश्रू गैस को जहा तक संभव हो न इस्तेमाल करे !

जरुर  पढ़े:  आश्रू गैस के प्रकार तथा उसके उपयोग

(2)मजमे का फैलाव(Majme ka failaw) : मजमे के द्वारा घेरे हुए इलाके को देख कर लाइन ऑफ़ रिलीज की  लम्बाई का फैसला किया जाना चाहिए ! लाइन ऑफ़ रिलीज बनाते समय मजमे के दोनों किनारों पर कुछ जगह छुट जाता है ! इसलिए लाइन ऑफ़ रिलीज इतना लम्बा बनाना चाहिए की मजमे का कोई भी हिसा आश्रू गैस के प्रभाव से बंचित न रहे !

(3) मजमे का उतावलापन(Majme ka utawlapan) : मजमे के टेम्पर देखकर ही गैस का इस्तेमाल करना चाहिए ! मजमे का जो हिस्सा ज्यादा उग्रव हो उधर पहले गैस का इस्तेमाल करना चाहिए ! अगर मजमा औरतो और बच्चो का हो तो उनके ऊपर CN गैस के थ्री वे ग्रेनेड का इस्तेमाल करना चाहिए !उतेजित भीड़ के ऊपर CS तथा DM गैस का इस्तेमाल करना चाहिए !

(4)बचने के रस्ते(Escape route majme ko bhagne ke lie) : मजमे  के निकल भागने  वाले रास्तों को टीयर स्मोक गैस से कभी भी कवर नहीं करना चाहिए ! क्योकि हमारा मकशाद मजमे को तितर बितर करना है न की मजमे को घेरना है !

जरुर  पढ़े:आसू गैस के फायर के ऊपर असर डालने वाले तत्व और उसका निदान

(5) टियर स्मोक गैस  की उपलब्धता(Tear smoke gas ki availability) : मजमे को तुरंत तितर बितर करने के लिए जरुरी है की मजमे के ऊपर काफी मात्र में गैस छोड़ा जाए ! यदि गैस कम हो तो भीड का जो हिसा ज्यादा उग्र हो उसके ऊपर गैस छोड़ना चाहिए !

(6) गैस स्क्वाड की सुरक्षा(Security for gas squad) : गैस स्क्वाड की सुरक्षा के लिए कुछ जवानों को हथियार के साथ उनके पास रखना चाहिए !

(7) हॉस्पिटल तथा आस पास के रहवासियो(hospita ttha najdik ke rahwasio ko intimat karna) : मजमे के आस पास के रहवासियो को बता देना चाहिए की आप अपना घर के खडकी दरवाजा बंद रखे क्यों की आज यहाँ टियर स्मोक गैस का इस्तेमाल होने का संभावना है ! येही बात पास में कोई हॉस्पिटल को भी बता देना चाहिए ताकि ओ एहतियातन अपने हॉस्पिटल की खिड़की बंद  रखे ताकि गैस के प्रभाव से मरीज प्रभावित न हो !

(8) मजमे की दुरी (majme ki duri) : गैस स्क्वाड कें इन  चार्ज को यह मालूम होना चाहिए की मजमा कितनी दुरी पर है ताकि उसी हिसाब से टियर स्मोक अमुनिसन का इस्तेमाल करे !

(9) रेस्पिराटर(Respirator) :  गैस इस्तेमाल से पहले गैस पार्टी को रेस्पिरेटर पहन लेना चाहिए !

जरुर  पढ़े:आश्रू गैस के इतिहास तथा प्रभाव

(10) फायर फाइटिंग(Fire fighting) : कभी गैस से माज्मको तितर बितर करना हो या किसी माकन में से किसी अपराधी को पकड़ना हो तो संभावना आग लगने  की बनी रहती है ! इसलिए इन परिस्थियो से निपटने के लिए फायर फाइटिंग की व्वस्था रखनी चाहिए !

रेस्पिरेटर लगाने के तीन फायदे है (Respirator lagane ke teen fayde):
  1. गैस स्क्वाड खुस अस से बच सकता है 
  2. जवानों को यद् गैस के बिच में जाकर कुछ कोई करवाई करनी हो तो आसानी से कर सकते है !
  3. रेस्पिरेटर पहने के बाद जवानों का चेहरा थोडा डरावना हो जाता है जिससे मजमे के अन्दर एक पैनिक/डर पैदा हो जाती है और कुछ लोग इसे देखकर हिवः से निकल लेते है !
इस प्रकार से टियर स्मोक गैस का ओस्तेमल करने का सिद्धन तथा इस्तेमाल के समय ध्यान देने वाली बाते के बारे में संक्षिप्त विबरण समाप्त हुवा !और उम्मीद  है की ये पोस्ट पसंद आएगा! अगर की कमेंट होतो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे !ब्लॉग को  सब्सक्राइब और अपने दोस्तों के बिच भी फेसबुक के ऊपर शेयर  कर हमलोगों को सपोर्ट  करे 

इस ब्लॉग से कोई भी पोस्ट रिलेटेड पीडीऍफ़ डाउनलोड(PDF version ) करना होतो आप डाउनलोड सेक्शन में जा कर कर सकते है !  
इन्हें भी पढ़े :
  1. 7.62mm LMG का दुरुस्त शिस्त , दुरुस्त पकड़ और दुरुस्त फायर का तरीका
  2. LMG के चाल तथा फौरी इलाज से दूर होने वाले 4 LMG के रोके l
  3. ट्राईपोड़ और LMG को माउंट और डिसमाउंट करने का तरीका
  4. 7.62 LMG को फिक्स्ड लाइन पर लगाने और फायर करने का तरीका
  5. 51 mm मोर्टार तथा इसके डायल साईट के बेसिक टेक्निकल जानकारी
  6. 51mm मोर्टार को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स के नाम
  7. 51mm मोर्टार की साफ सफाई का तरीका
  8. 51mm मोर्टार के हाई एक्सप्लोसिव बम की चाल और पहचान
  9. स्मोक और इल्लू बम का चाल और बेसिक डाटा
  10. 30mm AGL के बेसिक टेक्नीकल डाटा , विशेषताए और पार्ट्स का नाम

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...