Advertisement

Search

Tuesday, March 27, 2018

काउंटर इन्सेर्जेंसी पेट्रोलिंग और कन्वेंशनल पेट्रोलिंग में अंतर

पिछले पोस्ट में हमने आसानी से जमीनी निशान देने के तरीका के बारे में जानकारी प्राप्त की थिस अब इस पोस्ट में हम काउंटर इनसरजेंसी पेट्रोलिंग और कन्वेंशनल पेट्रोलिंग के अंतर (conter insurgency patrolling aur conventional patrolling me antar) के बारे में जानेगे !


जैसे कहा जाता है की " गस्ती पार्टी कितनी भी सिखलाई क्यों न पाई हो एक न एक दिन उसे सरप्राइज होना पड़ता है "! इस लिए पेट्रोलिंग पार्टी में ऐसे जवानों को भेजते है जो अपने काम में माहिर हो और फिजिकली पूरी तरह से फिट हो की अगर सरप्राइज हो भी गए तो भी वह दुश्मन  को अपने एक्शन से मार गिराए !
जरुर पढ़े :सेक्शन फार्मेशन एंड प्लाटून फार्मेशन के फायदे और नुकशान


कन्वेंशनल ऑपरेशन में पेट्रोलिंग का इस्तेमाल मुख्य रूप से खबरे हासिल करने तथा दुश्मन को अपनी खबर साहिल करने से रोकने के लिए किया जाता है जबकि एंटी इंसरजेंसी ऑपरेशन में पेट्रोलिंग आतंकवाद को रोकने का एक मुख्य तरीका है !

इस पोस्ट को अच्छी तरह से समझने के लिए हमने इसे निम्न भागो में बाँट दिया है :
पेट्रोलिंग
1.इन्सेर्जेंसी एरिया में पेट्रोलिंग क्यों की जाती है ? (Insurgency Area me patrolling kyo ki jati hai)

2. काउंटर इन्सेर्जेंसी पेट्रोलिंग और कन्वेंशनल  में क्या अंतर है ?(Counter Insurgency patrolling aur conventional patrolling me antar)

जरुर पढ़े :कामौफ्लाज और कांसिल्मेंट के ऊपर एक संक्षिप्त जानकारी


1.इन्सेर्जेंसी एरिया में पेट्रोलिंग क्यों की जाती है ? (Insurgency Area me patrolling kyo ki jati hai):इन्सेर्जेंसी ऑपरेशन के दौरान पेट्रोलिंग इस लिए की जाती है ताकि :
  • अपने एरिया को डोमिनेट करने के लिए 
  • आतंकवादियो को पकड़ने तथा अतंकवादियो को मरने के लिए 
  • जनता के डील में सुरक्षा का भावना पैदा करने के लिए !
  • पट्रोल को ROP, VA/VP की सुरक्षा करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है !

जरुर पढ़े :पेट्रोलिंग के परिभाषा और पेट्रोलिंग के प्रकार
  • बड़े जिम्मेवारी के इलाके में डोमिनेट करके रखने के लिए !
  • मुश्किल जमीनी हालात और खराब मौसम में आतंकवादियो के खबरे हासिल करने तथा उन्हें ढूढने के लिए !
  • गहन पेट्रोलिंग कर के अतंकवादियो से सामान होने की बहुत ज्यदा सम्भावनाये होती है जो की एक एंटी इन्सेर्जेसी  ऑपरेशन के सफलता के लिए काफी जरुरी होता है !
  • ज्यादा पेट्रोलिंग करने से आतंकवादियो को अपना मूवमेंट करने में दिकत होती है और ओ अपना उद्देश्य  हासिल नहीं कर पाते  है !

जरुर पढ़े :पेट्रोलिंग पार्टी को ब्रीफिंग देने का तरीका ?


कंटर इन्सेर्जेंसी ऑपरेशन को सफलता में पेट्रोलिंग एक बहुत ही अहम् किरदार प्ले करता है !
2. काउंटर इन्सेर्जेंसी पेट्रोलिंग और कन्वेंशनल  में क्या अंतर है ?(Counter Insurgency patrolling aur conventional patrolling me antar):इन दोनों पेट्रोलिंग के उद्देश्य और कार्य में बहुत ही अंतर है क्यों की ये दोनों पेट्रोलिंग दो बहुत ही अलग माहौल में ऑपरेट करते है !कुछ मुख्य अंतर निम्न है :
  • CI पेट्रोलिंग आतंकवादियो को पकड़ने या मरने के लिए और एरिया को डोमिनेट करने के लिए किया जाता है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग दुश्मन की खबरे हासिल करना तथा उष्मन को अपनी खबर  हासिल करने से रोकने के लिए किया जाता है !
  • CI पेट्रोलिंग अपने इलाके में की जाती है जैसे आतंकवाद ग्रस्त गाँव और शहर जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग ज्यादातर नो मैनलैंड (No Man Land) में की जाती है !

जरुर पढ़े :अम्बुश का परिभाषा और अम्बुश की पार्टिया
  • CI पेट्रोलिंग में डीफेनडेड  लोकेलिटी(Defended Locality) या  डीफेनडेड एरिया(Defended Area) नहीं होता है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग में यह दोनों होता  है !
  • CI पेट्रोलिंग में माइन फील्ड का खतरा बहुत कम होता है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग में माइन फील्ड का बहुत ही खतरा रहता है !
  • आतंकवादियो के पास ज्यादातर घातक हथियार नहीं होते है इसलिए CI पेट्रोलिंग में घातक हथियारों का खतरा उतना नहीं रहता है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग के दौरान  हर तरह के घातक हथियार होता है !
  • CI पेट्रोलिंग तीन प्रकार की होती है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग दो प्रकार  की होती है !
  • CI पेट्रोलिंग के लिए नो मैन लैंड या कोई मार्क की हुई सीमा नहीं होती है जबकि कन्वेंशनल पेट्रोलिंग में नो मैन लैंड और मार्क की हुई सीमा होती है !

जरुर पढ़े :फायर कण्ट्रोल आर्डर और फायर डिसिप्लिन क्या है ?


इस प्रकार से काउंटर इसेर्जेंसी पेट्रोलिंग तथा कन्वेंशनल पेट्रोलिंग के अंतर से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की पोस्ट आपको पसंद आएगा ! अगर कोई  या ब्लॉग के बारेमे हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरूर लिखे ! और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब तथा फेसबुक शेयर तहत लिखे करके हमलोगों को प्रोतसाहित करे और अच्छा करने के लिए 

इन्हें भी पढ़े :

  1. सेक्शन बैटल ड्रिल और उसे सफल बनाने वाली बातें
  2. 4 बाते शत्रु के कारगर फायर के अंदर आने पे करनी चाहिए
  3. 3 तरीके दुश्मन के फायर पोजीशन को पता लगने के
  4. सेक्शन फार्मेशन और सेक्शन फार्मेशन का बनावट
  5. आतंक प्रभावित इलाके में सिक्यूरिटी पोस्ट लगान
  6. रात के संतरी तथा स्काउट की ड्यूटी क्या होता है
  7. फील्ड फोर्टीफीकेसन में इस्तेमाल होने वाले फौजी टेकटिकल शब्दों का क्या मतलब
  8. फौजी टैक्टिकल शब्द जैसे फर्स्ट लाइट फ्लैंक गार्ड यदि क मतलब
  9. अम्बुश की जुबानी हुक्म क्या होता है और इसमें सामिल होने वाले मुख्य बाते
  10. रोड ओपनिंग पार्टी/पट्रोल और उसके महत्व के बारे

No comments:

Post a Comment