Sponser


Sunday, November 19, 2017

पुलिस और क्राउड तथा पुलिस का क्राउड के साथ ब्यवहार

इस पिछले पोस्ट में हमने म़ोब के प्रकार तथा पुलिस को म़ोब के बारेमें जानने की जरुरत के बारे में जानकारी प्राप्त किये ! इस पोस्ट में हम पुलिस और  क्राउड  तथा भिन्न भिन्न तरह के  क्राउड के बारे में जानेगे !




कभी  कभी देखा गया है की पुलिस बल जो एक क्राउड या म़ोब को फेस कर रहे है वो खुद ही क्राउड या म़ोब की तरह ब्यवहार करने लगते है ! पुलिस बल के जवान एक ट्रेनड और अनुशाशित लोग होते है और उनसे सभी का ये उपेक्षा रहती है की जब उनका सामना म़ोब /क्राउड से होगा तो ओ क्राउड के जैसे ब्यवहार नहीं करेंगे !

जरुर पढ़े :AK-47 और INSAS Rifle में कौन बेहतर ?

कुछ अज्ञानी पुलिस मन जब अजीटेसन आगे बढ़ता है  तो ओ खुद ही क्राउड की तरह ब्यवहार करने लगते है और उनका वह गलत ब्यवहार कभी कभी लॉ & आर्डर  का बड़ा कारन बन जाता है ! जैसे 

पुलिस की क्राउड की तरह ब्यवहार
पुलिस की क्राउड की तरह ब्यवहार
" कुछ पुलिसमैन क्राउड में खड़े  मिसकीरेंट के तरह के तरह फील करने लगते है और सोचते है की  भीड़ में उनका एक्शन कौन देखता है और  और उनका सेंस ऑफ़ रेस्पोंसिबिलिटी गायब हो जाता है और वो अधिक एनर्जी एवं इमोशन के साथ मिस्बेहाव करने लगते है !

जरुर  पढ़े :आश्रू गैस के इतिहास तथा प्रभाव

वो सोचते है कि भीड़  में उन्हें कौन पहचानता है  इसलिए वे और एक्स्सस्सिव पॉवर का इस्तेमाल करने लगते है और भूल  जाते है की इस एक्शन की लास्ट में रेस्पोंसिबिलिटी भी किसी ना किसी के ऊपर फिक्स की जाएगी ! ओ अदृश्य रहना चाहते है और नहीं सोचते !


बहुत बार यह देखा गया है की पुलिस भी भीड़ की तरह ही एक दुसरे के देख कर  काम करती है ! अगर उसका एक साथी ने किसी को लाठी मार दी बगल  वाला साथी भी बिना देखे लाठी यानि फाॅर्स का इस्तेमाल करने लगता है और इस दौरान वह भूल जाते है की उनका आवश्यकता से  अधिक ताकत इस्तेमाल करने कारण उनके ऊपर करवाई भी हो सकती है !


जरुर  पढ़े :आसू गैस के फायर के ऊपर असर डालने वाले तत्व और उसका निदान

इसलिए यह सीनियर अधिकारिओ का कर्तव्य है की सर्वोद कण्ट्रोल के बारे में नए जवानों को समय समय पे ट्रेनिंग दे कर जानकारी देते  रहे और क्राउड के बारे में बताते रहना चाहिए !

इस पोस्ट में हम निम्न क्राउड के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे !
  1. कैजुअल क्राउड (Casual crowd kya hota hai?)
  2. होसटाइल  क्राउड (Hostile crowd kya hota hai?)
  3. एस्केप क्राउड (Escape crowd kya hota hai?)
  4. अकुजितिव क्राउड (Acquisitive crowd kya hota hai?)
  5. एक्स्प्रेस्सिव क्राउड (Expressive crowd kya hota hai?)
  6. फ़्लैश म़ोब ((Flash Mob Kya hota hai?)
1. कैजुअल क्राउड (Casual crowd kya hota hai?): 
Casual Crowd
Casual Crowd
बहुत बार हम देखते है की बिना किसी को नुकशान पहुचाये लोगो का सौह इकठ्ठा होता है और अपना काम करके बिना किसी लॉ & आर्डर प्रॉब्लम किये ओ वह से निकाल जाता है ! ! जैसे की आप देखते है हाट बाज़ार में कोई तमाशा दिखता है या कोई अपना सामान बेचता है या कोई किसी बिषय के ऊपर प्रचार करता है उसके देखने के लिए उस जगह पे बहुत सरे लोग इकठ्ठा हो जाते है लेकिन ओ कभी भी पुलिस के लिए लॉ & आर्डर का विषय नहीं बनते है वह जस्ट वह जाते हैदेखते है और वह से निकाल लेते है ऐसे भी को कासुअल भीड़ कहते है !
जरुर  पढ़े : आश्रू गैस के प्रकार तथा उसके उपयोग
2.होसटाइल  क्राउड (Hostile crowd kya hota hai?): 
Hostile Crowd
Hostile Crowd
बहुत बार आप देखते है की भीड़ कसी सरकारी महकमा के खिलाफ इकठ्ठा होता है जैसे भीड़ को पता चला की अपने मुहाले के एक लड़का को पुलिस आरेस्ट की थी और उसे ठाणे में उत्पीडन के कारन मौत हो गई !  इस सिचुएशन में पुलिस के ठाणे या किसी सरकारी ऑफिस के सामने इकठ्ठा हुई भीड़ बहुत  ही उतेजित होती है और थोड़े से उकसावे पे ओ कानून को अपने हाथ में ले कर कानून विरुद्ध करवाई करने लगती है ! इस तरह के भीड़ में उत्तेजना बहुत ही ज्यादा होता है और ऐसी भीड़ पुलिस के लिए लॉ & आर्डर केलिए बहुत ही खतरा होती है ऐसे क्राउड को होसटाइल  क्राउड कहते है !
3.एस्केप क्राउड (Escape crowd kya hota hai?)
Escape Crowd
Escape Crowd
एस्केप क्राउड उसे बोलते है जो किसी खतरा के बारे में जन कर अपने आप को बचने के लिए एक जगह से सुरक्षित जगह पे जल्द से जल्द भागने की कोशिश करता है ! जैसे रेडियो या किसी भी  माध्यम पता चलता है की आमुख एरिया में तूफान आने वाला है और्लोगो को हिदायत दीजाती है ऐसे क्राउड को एस्केप क्राउड  कहते है !  ऐसी क्राउड न केवल पुलिस के लिए प्रॉब्लम बनती है बल्कि हेल्थ  और  मुनिसिपल के लिए भी प्रॉब्लम बनती है ! ऐसी भीड़ में अपने बचने के लिए हर तरह की कोशिश करती है ! वैसे जगह जहा पुलिस फायरिंग हो गई हो वहा से भी भीड़ इसी तरह  अपनी जान बचाने के लिए भागती है ! इस तरह के भीड़ का कोई लीडर नहीं  होता है यह  अनओर्गनाइज होती है ! 

4.अकुजितिव क्राउड (Acquisitive crowd kya hota hai?)
Acquisitive crowd
Acquisitive crowd
अकुजिटिव भीड़ उसे कहते है जो किसी सामान को बलपूर्वक हासिल करना  चाहती है ! जैसे की पता चल गया की सरकारी  राशन के दुकान चलाने वाले दुकानदार  ने राशन रहते हुए भी लोगो  को राशन नहीं दे रहा है या ब्लैक में बेच रहा है ऐसे में जो भीड़ इकठ्ठा  होती है उसका मुख्या उद्देश्य होता है की राशन की दुकान को बलपूर्वक तोड़ कर राशन को लोगो में बाँट दिया जाय ऐसे भीड़ को  अकुजिटिव भीड़ कहते है ! ऐसे भीड़ के ऊपर समय रहते एक्शन नहीं लिया गया तो वह बहुत ही बड़ा लॉ & आर्डर का इशू बन  जायेगा !

जरुर  पढ़े : टियर स्मोक गैस का सिद्धांत और इसके इस्तेमाल करते समय ध्यान में रखने वाली बाते 

5.एक्स्प्रेस्सिव क्राउड (Expressive crowd kya hota hai?)  
Expressive crowd
Expressive crowd
जैसे की स्ट्राइक, रैली  , प्रोसेसन पोलिटिकल मीटिंग धार्मिंक धरना यदि  जिसे लोग सामिल होते है बुत ही अधिक संख्या में और अपने समस्याओ को या अपनी बातो को  स्लोगल, नाच & गाना और नौटकी के द्वारा पर्दर्शित करते है ! ऐसे भीड़ में लॉ & आर्डर का समस्या शुरू शुरू में नहीं होती है लेकिंग पुलिस को हमेश सजग रहना पड़ता है क्यों की असामाजिक  तत्व उस भीड़ में घुस कर उपद्रव शुरू कर सकते है और इनके द्वाराशुरु किया गया उन्माद बहुत ही बड़ा लॉ & आर्डर का समस्या बन जाता है जिसको संभल पाने में पुलिस को बहुत ही मोसक्कत करनी पड़ती है और कभी कभी बहुत ही जान माल का नुकशान भी होता है !इस तरह के भीड़ को हम एक्सप्रेसिव भीड़ कहते है !

जरुर  पढ़े : आश्रू गैस को स्टोर करते समय ध्यान में रखने वाली बाते 

6.फ़्लैश म़ोब ((Flash Mob Kya hota hai?): 
Flash Mob
Flash Mob
फ़्लैश म़ोब वह होता  है  जो ज्यादातर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया या सोशल मीडिया के द्वारा ओर्गानाइज  होता है ! जो अभी तक देखा गया है की वो अपने को किसी विशेस एक्ट या कॉमिक एक्शन लिखे पिलो फाइट ,  म्यूजिक या डांस करना किसी सार्वजनिक या पब्लिक प्लेस पे जहा ज्यादा लोग इकठ्ठा होते है ! इस प्रकार का म़ोब लॉ बिन्डिंग होता है  यह केवल अचानक लोगो को आश्चर्यचकित करने के लिया किया जाता है !इस में पुलिस का ज्यादा रोल नहीहोता है लेकिन आज के पोलिटिकल माहौल में अगर किसी पोलिटिकल पार्टी के कार्यकर्त्ता किसी दुसरे पोलिटिकल पार्टी के मीटिंग में ऐसा करके लॉ & आर्डर के सिचुएशन को बिगड़ सकते है इस लिए पुलिस को हमेश सजग रहनी चाहिए !

जरुर  पढ़े : टियर स्मोक स्क्वाड पार्टी के लिए करने और न करने वाली बाते और सावधानिया

इस प्रकार से यहाँ की पुलिस और  क्राउड और क्राउड में पुलिस का ब्यवहार की बारे में जानकारी से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुआ !उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगा ! अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे 
इन्हें भी पढ़े :

  1. 7.62mm LMG से अच्छी तरह सेफायर कैसे किया जाये 
  2. LMG  के चाल तथा फौरी इलाज से दूर होने वाले 4 LMG के रोके l
  3. ट्राईपोड़ और LMG को माउंट और डिसमाउंट करने का तरीका
  4. 7.62 LMG को फिक्स्ड लाइन पर लगाने और फायर करने का तरीका
  5. 51 mm मोर्टार तथा इसके डायल साईट के बेसिक टेक्निकल जानकारी
  6. 51mm मोर्टार को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स के नाम
  7. 51mm मोर्टार की साफ सफाई का तरीका
  8. 51mm मोर्टार के हाई एक्सप्लोसिव बम की चाल और पहचान
  9. स्मोक और इल्लू बम का चाल और बेसिक डाटा
  10. 30mm AGL के बेसिक टेक्नीकल डाटा , विशेषताए और पार्ट्स का नाम


No comments:

Post a Comment

.