Sponser


Saturday, August 27, 2016

51mm मोर्टार को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स के नाम

पिछले पोस्ट में हमने 51mm मोर्टार के बेसिक डाटा के बारे में जानकारी प्राप्त किये ! इस पोस्ट में हम 51 mm मोर्टार को खोलना और जोड़ने (51mm Mortar ko kholna aur jodna)का तरीका के बारेमे जानकारी प्राप्त करेंगे !



जैसे की जानते है की मोर्टार को प्लाटून कमांडर के तोपखाना भी बोलते है ! यह एक सीधा साधा हथियार है  मगर इसका फायर बहुत कारगर होता है ! इसका ज्यादा से ज्यादा रेंज(maximum range of 51mm mortar) 480मीटर  होता है ! ऐसे तो इसे 51mm मोर्टार बोला जाता है लेकिंन  इसकी  बैरल की वास्तविक डायमीटर(actual daimeter) 50.8 mm होता है !और इससे 5 किस्म के बम फायर किये जाते है !


51mm Mortar ke parts
51mm Mortar ke parts 
 51mm मोर्टार को फायर करने वाली टीम की नफरी (51mm Mortar se fire karne wali team ki nafri)

इसको एक जवान आसानी से ले जासकता है  और फायर कर सकता है लेकिंन इसमें काम करने वाली टीम में आमतौर पर दो जवान और एक फायर का रुख बदलने और उस पर काबू रखने वाला डीटचमेंट कमांडर(Detachment commander) होता है   

जरुर पढ़े: 9mm कार्बाइन का टेक्नीकल डाटा -II

51mm मोर्टार का निरिक्षण करने का तरीका(51mm Mortar ka nirikshan karne ka tarika) : किसी भी हथियार को इस्तेमाल करने से पहले उसकी निरिक्षण की करवाई की जाती है ! उसी प्रकार से 51mm मोर्टार का भी इस्तेमाल करने से पहले निरिक्षण की करवाई की जाती है जो इस प्रकार से है !
  • मुज्ज्ले कवर को उतारे 
  • बैरल को थोडा ऊपर करते हुए देखे की बैरल में कोई चीज़ तो नहीं है और यकीन होनेपे की कोई चीज़ नहीं है तो मुज्ज्ल कवर लगा दे ! इस प्रकार से निरिक्षण की करवाई ख़त हुई !
  • इस प्रकार से मोर्टार को इस्तेमाल करने से पहले निरिक्षण की करवाई जरुर की जाय !
51 mm मोर्टार के हिस्से पुरजो का नाम(51mm Mortar ke parts ka name) : हिस्से पुरे इस प्रकार से है  :
मजल कवर , बैरल , कार्रिंग हैंडल , बैरल लॉकिंग थ्रेड , ब्रीच पीएस, लीवर , लान्यार्ड , स्पेड बसे प्लेट , शू , फायरिंग पिन , फायरिंग थ्रेड , पिन पुश होल , स्टील पद और फिक्सिंग स्क्रू !


51 mm मोर्टार को खोलने का तरीका(51 mm Mortar ko kholne ka tarika) :
  1. मजल कवर को उतारे और बाएँ हाथ के अंगूठे से बैरल कैच को निचे और पीछे दबाये !
  2. अब बाएँ हाथ से घडी के सुइओं के उलटे रुख में घुमाये 
  3. (अगर दुसरे किस्म की बैरल है तो उस को 1/4 चक्कर बाएँ से दाहिने को दे और बैरल को अलग कर दे !
  4. कॉम्बिनेशन टूल ले स्टील पैड फिक्सिंग स्क्रू को बाएँ हाथ से स्टील पैड पर काबू रखते हुए दो या तीन चक्कर दाहिने करे !
  5. स्टील पैड फायर पीन और फायरिंग पीन को निकले ! याद रखे मोर्टार को इससे ज्यादा नहीं खोलना चाहिए  !
51 mm मोर्टार को जोड़ने  का तरीका(51mm Mortar ko jodne ka tarika) :जोड़ने के लिए खोलने की तमाम करवाई  उल्टा करे !
  1. फायरिंग पीन का मोटा हिस्सा निचे डालते हुए लगे और फिरे फायरिंग स्प्रिंग डाले !
  2. स्टील पैड को लगा दे !
  3. स्टील पैड को बाएँ हाथ से काबू रखते हुए कॉम्बिनेशन टूल से स्टील पैड फिक्सिंग स्क्रू को टाइट करे दे !
  4. बैरल को जोड़ने के लिए सफ़ेद लाइन का ख्याल रखते हुए बैरल को 1/4 दाहिने रखे !
  5. अब घडी के सुइओं के रुख में घुमा के कास दे ! 
  6. अगर दूसरी किस्म की बैरल है तो उसकी सफ़ेद लाइन 1/4चक्कर  घुमादो !
  7. यकीन करो की बैरल ठीक तरह से जुड़ गया है !मजल कवर लगा दे !

इस प्रकार से यहाँ 51 mm मोर्टार को खोलना  जोड़ने तथा निरिक्षण करने का तरीका के जानकारी ख़त्म हुई ! उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगी ! अगर कोई कमेंट हो तो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे !ब्लॉग को  सब्सक्राइब और अपने दोस्तों के बिच भी फेसबुक के ऊपर शेयर  कर हमलोगों को सपोर्ट  करे 

इस ब्लॉग से कोई भी पोस्ट रिलेटेड पीडीऍफ़ डाउनलोड(PDF version ) करना होतो आप डाउनलोड सेक्शन में जा कर कर सकते है ! 


इसे भी जरुर पढ़े:
  1. 9 mm पिस्तौल का खुबिया और खामिया
  2. .303 LE राइफल का इतिहास
  3. Lee Enfield .303राइफल का टेक्नीकल डाटा
  4. Lee Enfield 303राइफल की खूबिय और खामिया
  5. 9 mm कार्बाइन मचिन या सब मचिन गन का इतिहास और खुबिया
  6. 9mm कार्बाइन का टेक्नीकल डाटा -II
  7. 9 mm कार्बाइन मचिन का बेसिक टेक्नीकल डाटा -I
  8. 5.56 mm INSAS LMG का बेसिक डाटा और स्पेसिफिकेशन
  9. इंसास राइफल का पार्ट्स का नाम और खोलना जोड़ना
  10. इंसास राइफल के डेलाइट टेलीस्कोपिक और पैसिव साईट का डिटेल.

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...