Sponser


Saturday, August 27, 2016

51 mm मोर्टार तथा इसके डायल साईट के बेसिक टेक्निकल जानकारी

पिछले पोस्ट में हमने 7.62 mm LMG को फिक्स्ड लाइन पे कैसे लगाया जाता है इसके बारे में जानकारी शेयर की पोस्ट में हम 51mm मोर्टार के बेसिक सामान्य टेक्निकल डाटा तथा इसके डायल साईट(51mm Mortar ke basic technical data aur dail site ki jankari) के बारे में जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करेंगे !




जैसे की हम जानते है की 2" मोर्टार में कुछ कमिया थी  जिसके कारन ही 2" मोर्टार के को आर्म्ड फोर्सेज ने अपने यहाँ से हटाया और 51mm मोर्टार के रूप में एक दूसरी मोर्टार को अपनाया जो की 2" मोर्टार में मौजूद कमियों को दूर कर के बनाया गया है !51mm मोर्टार के बेसिक डाटा इस प्रकार से है :
51mm Mortar with sling and muzzle cover
51mm Mortar with sling and muzzle cover
  • वजन(weight of 51mm Mortar) : 4.88 kg  सीलिंग और मजल कवर के बिना 
  • बैरल(51mm mortar barrel wight)  :2.14 kg
  • बेस(weight of 51mm mortar base) : 2.74 kg
  • लम्बाई(51mm mortar ki lambai) : 670 mm
  • बैरल की लम्बाई(51mm mortar barrel lambai) :540mm
  • कैलिबर (कुत्तर-लो)(51mm mortar barrel dia-low): 51.18mm
  • कैलिबर (कुत्तर-हाई)(51mm mortar barrel dia-high):51.28mm
  • मजल वेलोसिटी(51mm mortar ki muzzle velocity) :107 m/second
  • रेट ऑफ़ फायर(51mm Mortar ke rate of fire): नार्मल -8 बम (3मिनट)
  • रेट ऑफ़ फायर तेज -12बम (3 मिनट)
  • मजल कवर तथा स्लिंग का वजन(51mm mortar ki muzzle cover aur sling ka wajan) : 280gm
  • ब्रीच केस की लम्बाई(51mm mortar ki breach kes ki lambai) : 190mm
  • ब्रीच केस की चौड़ाई(breach kes ki chaudai) :110mm
51mm मोर्टार के कुछ विशेषताए  जो की 2" मोर्टार में नहीं थी(51mm Mortar vs 2" mortar) :

जरुर पढ़े : 5.56 mm INSAS राइफल के मग्जिन को भरना खाली करना और रेंज लगाना
  • 51 mm मोर्टार का ऊपर वाला भाग बेल टाइप का है !
  • 51 mm मोर्टार में कोलर ब्रैकेट लगा है जिसमे डायल साईट फिट किया जाता है 
  • इसमें डायल साईट की सुविधा है !
  • बैरल और नटकैच  2"मोर्टार से अलग है !
  • 51 mm मोर्टार की लमाबाई ज्यादा है 2" मोर्टार से !
  • फायरिंग लीवर मुड़ा हुवा है जिससे की उससे प्रेस करने में ज्यादा तकलीफ नहीं होती ! 
  • फायरिंग मेचानिज्म अलग है 
  • बेस प्लेट चौड़ा है 
  • बैरल की थ्रेड बहार है !
  • 2" मोर्टार में रेंज लाने के लिए एंगल और डिग्री का इस्तेमाल किया जाता है जब की 51mm में डायल साईट का इस्तेमाल किया जाता है !
51mm मोर्टार के साथ आने वाले एक्सेसरीज (51mm mortar ke sath aane wale accessories)
  1. स्क्रू ड्राईवर -       6 x 100mm
  2. स्क्रू ड्राईवर -       4mm
  3. स्पिनर डबल -     100 x 100mm
  4. LN key        -     5mm
  5. बॉक्स स्पानेर-      24mm
  6. स्पिनर डबल - 17 x 19 mm
  7. कैन आयल 
  8. बोर क्लीनिंग ब्रश 

स्पेयर पार्ट बॉक्स के सामान(51mm mortar ke spare boxke saman)
  •  फायरिंग पीन(Firing pin) 
  • फायरिंग स्प्रिंग(firing spring) 
  • LN की(LN Key)
  • स्ट्राइकर गेज (stricker gause)
  • विंग नट(wing nut)
  • एक बम एक्सटेंसन की आता है ! जब बैरल ज्यादा गरम या गन्दा हो जाता है मिस फायर बम बैरल में फंस जाता है उसको बहार निकलने के लिए !

51 mm मोर्टार के डायल साईट का बेसिक जानकारी (51mm Mortar ke dailsite ki basic jankari):

जैसे की हम जानते है की   2" मोर्टार में रेंज लाने के लिए एंगल और डिग्री का इस्तेमाल किया जाता है जब की 51mm में डायल साईट का इस्तेमाल किया जाता है !डायल साईट की बेसिक टेक्निकल डाटा इस प्रकार से है :

  • वजन(weight of 51 mmMortar dail site)  : 350 gm
  • डायमीटर(Daimeter of 51 mmMortar dail site): 125 x 110 mm
डायल साईट के हिस्से पुर्जे (parts of 51mm dail site):
  1. हाउसिंग (housing)
  2. हाउसिंग ब्रैकेट (Housing bracket)
  3. ब्रैकेट स्क्रू (Bracket screw)
  4. रेंज स्केल (Range scale)
  5. पोलोथेर्म प्लेट  (Poletherm plate)
  6. विंग नट(wing nut)
  7. स्प्रिट बब्ल(sprit bubble)
  8.  क्रुस्सर लाइन (crusser line)

51 mm के बदलाव के फायदे (Merit of 51mm Mortar):
  1. 51 mm मोर्टार में बेस प्लेट होने के कारन ये रेट और मिटी में आसानी से नहीं घुस पता है इसलिए इसका इस्तेमाल रेत और मिटी में भी आसानी से किया जा सकता है !
  2. डायल साईट लग जाने के कारन अब सही रेंज लगाकर टारगेट के ऊपर बम गिराया जा सकता है ! 
सावधानिया(Precauation in handling 51mm Mortar): इस पर दो रेडियो एक्टिव सिग्न(radio active sign) होते हैअगर साईट टूट जाती है तो इसके नजदीक वे जवान का मेडिकल चेक उप करना चाहिए ! और टूटी हुई साईट को पॉलिथीन में पैक करके वर्कशॉप में भेज देना चाहिए ! 

जरुर पढ़े : 9 mm पिस्तौल ब्राउनिंग का बेसिक टेक्नीकल डाटा

इस प्रकार से यहाँ 51mm मोर्टार की सामान्य जानकारी ख़त्म हुई, उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगा !अगर कोई कमेंट हो तो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! ब्लॉग को सब्सक्राइब और अपने दोस्तों के बिच भी फेसबुक के ऊपर शेयर  कर हमलोगों को सपोर्ट  करे 

इस ब्लॉग से कोई भी पोस्ट रिलेटेड पीडीऍफ़ डाउनलोड(PDF version ) करना होतो आप डाउनलोड सेक्शन में जा कर कर सकते है ! 
इन्हें भी जरुर पढ़े : 
  1. 7.62 mm एसएलआर का बेसिक डाटा -I
  2. 7.62 Self Loading Rifle basic data-II?
  3. 7.62 Self Loading Rifle basic data-III?
  4. अच्छे राइफल फायर कैसे बने ? 
  5. फायरिंग के दौरान फायरर द्वारा की जानेवाली कुछ गलतिया ? 
  6. 7. 62 mm राइफल में पड़ने वाले रोके कौन कौन से है ?
  7. 7.62mm LMG के बारे में कुछ जानकारिय
  8. 7.62mm ki chal. एस एल आर कैसे काम करता हा(एसएलआर की चाल). 
  9. Basic data of 5.56mm INSAS and It characteristics.
  10. 5.56mm INSAS ki chal in hindi , 5.56mm INSAS की चाल हिंदी में.

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...