Advertisement

Search

Thursday, August 2, 2018

मैप इन्लार्जमेंट से क्या समझते है ?

पिछले पोस्ट में हमने सिल्वा कंपास के बारे में जानकारी प्राप्त की इस पोस्ट में हम मैप के प्रक्षेपण यानि इन्लार्जमेंट (Map Enlargement ki jankari hindi me) के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे !


यदि कोई जवान मैप रीडिंग में निपुणता  प्राप्त करना चाहता है तो उसे  आवश्यक है की वह मैप की हर डिटेल को बारीकी से समझे और इसके लिए जरुरी है की उसे मैप के उसे हिस्से को कागज के ऊपर बनाकर एक बड़े साइज़ में देखा जा सकता है और उसे आसानी से समझा सकता है ! और उस एरिया के बारे में जो भी शक या सुभा हो   उसे अच्छी तरह से समझा जा सकता है !


इस ब्लॉग पोस्ट को आगे पढने से पहले मै अपने पाठको से यह अनुरोध करूँगा की अगर आप ने मेरा ब्लॉग सब्सक्राइब और फॉलो नहीं किये हो तो उसे सब्सक्राइब औरफॉलो करले वह बहुत ही आसान है और मेरे इस पोस्ट को लाइक और शेयर करे ! आपके इतना करने से हमे और अच्छा करने की प्रेरणा मिलती है !


इस पोस्ट में हम मैप इन्लार्जमेंट के से सम्बंधित निम्न विषयों के बारेमे जानकारी प्राप्त करेंगे :
Map Enlargment
Map Enlargment
1. इन्लार्जमेंट का क्या मतलब होता है ?(Enlargement ka kya arth hota hai?)
2. इन्लार्जमेंट का परिभाषा क्या होता है ?(Enlargement  ka pribhasha kya hota hai ?)
3.इन्लार्जमेंट की जरुरत क्यों पड़ती है ?(Enlargement  ki jarurat kyo padti hai)


1. इन्लार्जमेंट का क्या मतलब होता है ?(Enlargement ka kya arth hota hai?): इन्लार्जमेंट का शाब्दिक अर्थ होता है किसी बस्तु को उसके साइज़  से बड़ा कर के  दिखाना !यदि किसी मैप पे दिखाए गए जमीनी इलाके को अगर किसी कागज के ऊपर या ड्राइंग शीट के ऊपर मैप के स्केल से बड़ा करके दिखाया जाये तो उसे एनलार्जमेंट कहा जायेगा !सीधी भाषा में कहे तो किसी चीज को ज़ूम करना इन्लार्जेमेंट है !

अब प्रश्न यह उठता है की क्या 1/25000 की स्केल का मैप 1/250000 की स्केल का दस गुना एनलार्जमेंट है क्या तो उसका जवाब है नहीं  kyo की अलग अलग स्केल के मैप एक दुसरे के एन्लार्जेमेंट नहीं कहे जायेंगे क्यों की उसमे फर्क दिखाए गए जमीनी एरिया का इलाका भिन्न भिन्न होता है !जब की इन्लार्जमेंट के लिए जरुरी है की यह किसी मैप के केवल एक या कुछ ही वर्गों का चित्रण किसी विशेष उद्देश्य के लिए किया गया होता है !


2. इन्लार्जमेंट का परिभाषा क्या होता है ?(Enlargement  ka pribhasha kya hota hai ?): जब मैप के एक या एक से अधिक वर्गों के जमीनी इलाके को उस मैप की स्केल से बड़ी स्केल में उसकी पूरी डिटेल्स और मैप की कमियों को पूरा करते हुए किसी कागज के ऊपर स्केच के रूप में बनाया जाता है तो उस स्केच को को एनलार्जमेंट कहते है ! किसी भी चीज को आवशयकता के अनुसार अनुपाती स्केल से बड़ा करके बनाने  को इन्लार्जमेंट कहते है !

3.इन्लार्जमेंट की जरुरत क्यों पड़ती है ?(Enlargement  ki jarurat kyo padti hai):ट्रेनिंग और किसी रेजिमेंटल आवश्यकता को पूरा करने के लिए इलाके का ज्यादा से ज्यादा जानकारी की आवश्यकता पड़ती है जिनको हम उपयोग करना चाहते है लेकीन  उसे साधारण सामान्य मैप के ऊपर नहीं समझा जा सकता है  इस लिए मैप इन्लार्ग्मेंट की जरुरत पड़ती है ! 


मैप इन्लार्जमेंट की जरूरत निम्न कामो में पड़ती है :

(a)जैसे ट्रेनिंग या किसी ऑपरेशन के दौरान उसके प्रयोग का इलाका प्राय 1000 किमी तक हो सकता है  जिसे 1/50000 के सर्वे मैप पर केवल एक वर्ग में ही दिखाया जाता है ! मैप के इस छोटे से वर्ग में समस्त जरुरी डिटेल्स को या जमीनी बनावटो  को नहीं दिखाया जा सकता है इसलिए इन्लार्जेमेंट की जरुरत पड़ती है !

(b) डिफेन्स की हालत में हमे अपनी यूनिट के सभी हथियार , जवानों तथा सपोर्टिंग आर्म्स को लगाने या दूसरी मोर्चाबंदी करने के लिए ऐसे उचित स्थानों की जरुरत पड़ती है जो सर्वे मैप पर दिखाना संभव नहीं हो सकता है !

(c) सभी यूनिट कमांडर्स को अपने जिम्मेवारी के इलाके में फॉरवर्ड पोस्ट(Forward post) और उनकी बनावट की पूरी जानकारी रखने के लिए सभी पिकेट के इन्लार्जमेंट अपने पास रख पड़ता है !


(d) बड़े बड़े कमांडर्स(senior commanders) अपनी योजनाओ को अपने से छोटे कमांडर्स को  समझाने के लिए इन्लार्जमेंट का सहायता लेता है !   

(e) ऑपरेशन की योजना बनने के लिए भी बड़े कमांडर अपने पास आवश्यक इलाके का इन्लार्जमेंट रखते है !

(f)  युद्ध सम्बंधित ट्रेनिंग या टैक्टिक्स को सफल बनने के लिए इन्लार्जेमेंट की जरुरत पड़ती है वर्तमान और उस समय की जमीनी बनावट को समझाने के लिए इन्लार्जमेंट की जरुरत पड़ती है !

(g) मैप की त्रुटी को दूर करने के लिए भी इन्लार्गेमेंट की जरुरत पड़ती है !
(h) सैंड मॉडल(Sand Model) बनाने  से पहले उसमे दिखाए जाने वाले इलाके का इन्लार्जमेंट बनाना आवश्यक है !
(i) ट्रेनिंग के दौरान प्रैक्टिस के लिए भी इन्लार्जमेंट बनवाया जाता है !


इस प्रकार से हम इस पोस्ट के माध्यम से जान पाए की मैप इन्लार्जेमेंट क्या होता है और उसका जरुरत क्यों पड़ता है !उम्मीद है की ये पोस्ट पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे  और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब तथा फेसबुक पेज  लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे बेहतर लिखने के लिए !
इन्हें  भी  पढ़े :
  1. मैप रीडिंग में दिशाओ के प्रकार और उत्तर दिशा का महत्व
  2. दिन के समय उत्तर दिशा मालूम करने का तरीका
  3. कन्वेंशनल सिग्न ,कन्वेंशनल सिग्न के प्रकार , कन्वेंशनल सिग्न बनाने का तरीका
  4. रात के समय उत्तर मालूम करने का तरीका
  5. सर्विस प्रोटेक्टर का परिभाषा और सर्विस प्रोटेक्टर का प्रकार
  6. सर्विस प्रोटेक्टर का उपयोग और सर्विस प्रोटेक्टर से बेक बेअरिंग पढने का तरीका
  7. 13 तरीके मैप सेट करने का !
  8. 5 तरीका मैप पे ऊपर खुद का पोजीशन को पता करने का
  9. 5 तरीको से मैप टू ग्राउंड और ग्राउंड टू माप जाने
  10. मैप रीडिंग के उद्देश्य तथा मैप रीडिंग के महत्व

No comments:

Post a Comment