Advertisement

Search

Saturday, September 1, 2018

अब कांस्टेबल नहीं बने सकते सब इंस्पेक्टर बी एस ऍफ़ में

जैसे की हम जानते है की बीएसऍफ़  भारत की सबसे बड़ी परा मिलिट्री फ़ोर्स है जो भारत के पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा की सुरक्षा की ड्यूटी के साथ साथ देश की आंतरिक सुरक्षा और बहुत सी सुरक्षा सम्बंधित ड्यूटी करती है !


यह फ़ोर्स अपने कर्तव्य परायणता और दिलेरी के लिए जानी जाती है !  कठिन ड्यूटी के कारण इस फाॅर्स में अच्छे जवान आ सके इसके लिए बहुत सरे ऐसे प्रावधान रिक्रूटमेंट और प्रमोशन के अन्दर किया गया है की जिससे योग्य जवानों को इस फ़ोर्स को ज्वाइन करने के लिए आकर्षित किया जा सके ! उस आकर्षण में सामिल था जवानो को सब इंस्पेक्टर  और ऑफिसर बनने  के लिए छुट और जवान जो 5 साल नौकरी कर लिए है ओ LDCE के द्वारा टेस्ट देकर सब इंस्पेक्टर  बन जाते थे !

जरुर पढ़े :V.I.P. सिक्यूरिटी बंदोबस्त ड्यूटी में पुलिस की भूमिका 

लेकिंन  पिछले कुछ सालो   इन सर्विस एक्सपीरियंस को देखते हुए इन LDCE परीक्षा प्रणाली  में बड़ा  मूल चुल परिवर्तन करने का प्रस्ताव रखा  है और एक सिपाही LDCE परीक्षा के माध्यम से सब इंस्पेक्टर नहीं बन सकते ! ओरास्ताव का मसौदा  जो इस प्रकार से है :
BSF LDCE Examination
BSF LDCE Examination
ग्रुप बी और सी कैडर रिव्यु समिति(Cader Review Committee) का गठन किया गया था जिसका काम था की वह ग्रुप बी और सी  जनरल ड्यूटी कैडर को रिव्यु कर करके अपना सुझाव दे ! कैडर रिव्यु समिति ने जो अपना सुझाव दिया है वह इस प्रकार से है :
  • अभी सब इंस्पेक्टर (जीडी) का भारती 33% सीधी , 50% पदोंती तथा 17%  LDCE माध्यम से की जा रही है !
  • समिति ने यह पाया की अभी एक कांस्टेबल जो 5 साल के नौकरी कर के सीधे सब इंस्पेक्टर (जीडी) बन जाता है LDCE चैनल के माध्यम से, और प्लाटून को कमांड करने लगता  है जबकि उनके पास एक सेक्शन ए एस आई(ASI) के तौर पे कमांड करने का तजुर्बा नहीं होती है !
  • इसके कारण  प्रशाशनिक और ऑपरेशनल दोनों स्तर पर बहुत से समस्या को उत्पन्न  हो रही है  और ओवर आल (Over all) प्लाटून के कार्यप्रणाली और कार्य कुशलता को प्रभावित कर रही है!
  • इस लिए यह समिति यह प्रस्ताव करती है की सब इंस्पेक्टर(जीडी) की भारती 25% सीधी तथा 75% पदोंत्ति के द्वारा की जाये !
  • इस प्रस्ताव के कारण शुरू में जो 10% भारती ए एस आई का उत्पन्न हो रही है उसे LDCE चैनल से भरा जाए!
  • उसके बाद ए एस आई का भारती 10 % LDCE चैनल से और बाकि के 90% पदोंत्ति के माध्यम से की जाय !
  • ऐसी व्यवस्था करने से अनुभवी कमांडर सेक्शन लेवल से लेकर हर स्तर उपलब्ध  मिलेंगे !
अगर यह प्रस्ताव कैडर रिव्यु समिति का मान लिया जाता है तो उसके बाद से बीएसऍफ़ के सिपाही जो 5 साल नौकरी के बाद LDCE चैनल के माध्यम से परीक्षा देकर सब इंस्पेक्टर बन जाते थे उनके लिए अब सब इंस्पेक्टर LDCE परीक्षा  के माध्यम से बनने  का रास्ता बंद हो जायेगा और  ओ अब LDCE की परीक्षा देकर ए एस आई ही बन सकते है !

यह अभी प्रपोजल   है जो  एप्रूव्ड होने के बाद, अगर बी एस ऍफ़ का कोई सिपाही सब इंस्पेक्टर बनना चाहता है तो उसे UPSC की परीक्षा जैसे स्कूल /कॉलेज  के लड़के जैसे पास कर के आते है वैसे ही आना पड़ेगा ! लेकिन वह LDCE परीक्षा  के माध्यम से ASI बन सकते है !

इस प्रकार से LDCE  परीक्षा से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की ये पोस्ट पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब तथा फेसबुक पेज लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे बेहतर लिखने के लिए !
इसे भी पढ़े :

  1. बीट और बीट पेट्रोलिंग क्या होता है ?एक बीट पट्रोलर का ड्यूटी
  2. पुलिस नाकाबंदी या रेड् क्या होता है ?नाकाबंदी और रेड के समय ध्यान में रखनेवाली बाते 
  3. निगरानी और शाडोविंग क्या होता है ? किसी के ऊपर निगरानी कब रखी जाती है ?
  4. अपराधिक सूचना कलेक्ट करने का स्त्रोत और सूचना कलेक्ट करने का तरीका
  5. चुनाव के दौरान पुलिस का कर्तव्य
  6. थाना इंचार्ज के चुनाव ड्यूटी सम्बंधित चेक लिस्ट
  7. पुलिस फाॅर्स के जवानों लिए इलेक्शन ड्यूटी सम्बंधित चेक लिस्ट
  8. V.I.P. सिक्यूरिटी बंदोबस्त ड्यूटी में पुलिस की भूमिका
  9. पुलिस की छवि और छवि का पुलिस के ड्यूटी पे पड़ने वाले असर कौन कौन से है
  10. पुलिस यूनिफार्म पहनते समय ध्यान में रखने वाली बाते


2 comments:

  1. Hi there, You've performed a fantastic job. I will definitely digg it
    and for my part suggest to my friends. I am sure they'll be benefited from this site.

    ReplyDelete