Sponser

Search

Saturday, September 29, 2018

SSG-69 राइफल की फायरिंग और पकड़ का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने इंसास राइफल और इंसास एल एम् जी के पाउच अम्मुनिसन के बारे  में जानकारी प्राप्त किया और अब इस पोस्ट में हम SSG-69 राइफल के फायरिंग पोजीशन तथा पकड़ के बारे में जानकारी प्राप्त कर्रेंगे !


जैसे की हम जानते है की स्नाइपर राइफल की फायरिंग में पकड़ और ऐमिंग का एक बड़ा ही अहम् रोल होता है अगर स्नाइपर  का फायरिंग और पकड़ उम्दा नहीं होगा तो वह स्नाइपर राइफल SSG-69 से वाजिब फायदा नहीं ले सकता है ! 

इस पोस्ट में हम SSG-69 राइफल के निम्न विषयों के बारे मे जानकारी प्राप्त करेंगे :
SSG-69 rifle ki firing position
SSG-69 rifle
1.मार्क मैन शिप के बुनियादी उसूल क्या क्या होता है ?(Marksman ship ki buniyadi usul kya hota hai)
2.SSG-69 राइफल के  लायिंग  पोजीशन सपोर्टेड  की जानकारी (SSG-69 rifle ke laying position supported)
3 SSG-69 राइफल की सिटिंग पोजीशन की जानकारी (SSG-69 rifle ki siting position)
4.SSG-69 की मजबूत पकड़ की जानकारी (SSG-69 ki majbut pakad)
5.SSG-69 राइफल के ट्रिगर ऑपरेशन की जानकारी (SSG-69 rifle ki trigger operation)
6.SSG-69 राइफल के बाई पोड का इस्तेमाल (SSG-69 rifle ki Bipod ka istemal)

जरुर पढ़े: इंसास राइफल का बेसिक डट और खूबिया 

1.मार्क मैन शिप के बुनियादी उसूल क्या क्या होता है ?(Marksman ship ki buniyadi usul kya hota hai)

मार्क्स मैन शिप के निम्न पांच बुनियादी उसूल है :

  • पकड़ और पोजीशन(Pakad aur position) : दुरुस्त पकड़ और दुरुस्त फायरिंग पोजीशन को शुरू से शिखर तक मद्दे नजर रखा जाए !
  • कुदरती सिधाई(Kudrati Sidhai) :- पोजीशन लेने के बाद हथियार कुदरती तोर पर टारगेट के ऐमिंग मार्क के सिद्ध में आना चाहिए ! अगर नहीं आता और  उसको जबरदस्ती जाने की कोशिस किया जाय तो शिस्त भले ही मिल जाये , लेकिन गोली टारगेट के पॉइंट ओफ एम पर नहीं लगेगी ! कुदरती सिधाई पाने के लिए बदन में हरकत देकर हथियार को टारगेट के सिद्ध में लाया जाए !
  • दुरुस्त साईट एलाईमेंट और पिक्चर(Durust sight aliangment and Picture) : दुरुस्त साईट एलाईमेंट को मद्दे नजर रखते हुए सही साईट पिक्चर हासिल करे !
  • दुरुस्त  ट्रिगर ऑपरेशन(Durust Trigger Operation) :- ट्रिगर को झटके से न दबाये बल्कि एक ही दबाव को बरक़रार  रखते हुए ऊँगली को धीरे धीरे क्लोज करे ! ट्रिगर  अपने आप दब जायेगा !
  • गोली को पीछा करना(Goli ki pichha karna) : फायर के तुरंत बाद , आँख को शिस्त की जगह से नहीं हिलाना चाहिए, बल्कि बैरल से निकली हुई गोली की मार को उसी शिस्त से देखते रहना चाहिए ! इसे गोली का पीछा करना या अंग्रेजी में शॉट रिलीज  एंड फॉलो थ्रू कहते है !
अगर एक स्नाइपर मार्कमैन शिप के इन पांच बातो को मद्दे नजर रखते हुए किसी भी पोजीशन से फायर करे तो उसकी पहली गोली दुश्मन को मार डालेगी और शूट टू  किल का मुद्दा हासिल होगा !
जरुर पढ़ेइंसास राइफल की रोके 

2.SSG-69 राइफल के  लायिंग  पोजीशन सपोर्टेड  की जानकारी (SSG-69 rifle ke laying position supported)

जैसे की हम जानते है की स्नाइपर को ज्यादा से ज्याद 2 या 3 राउंड्स ही फायर करना पड़ता है और इसी के दौरान उन्हें टारगेट को हिट करना होता  है इसी लिए फायरर को चाहिए की राइफल ठीक तरफ सपोर्टेड हो , ताकि निशाना लेने में किसी किस्म की कठिनाई न हो और वह एक से दो राउंड में ही टारगेट को बर्बाद कर सके !

लायिंग पोजीशन की करवाई : जैसे ही हुकुम मिलता है लेटकर पोजीशन , तो करवाई इसप्रकार से करे : 
  • दाहिने हाथ से राइफल को उछाले और बाए हाथ से तोलवाली जगह से पकडे !
  • दाहिने हाथ को टेक बनाते हुए जमीन पर लेट जाए , साथ ही राइफल को सैंड बैग  पर रखे !
  • राइफल को सैंड बैग पर इतना आगे करे की ट्रिगर गार्ड सैंड बैग के साथ लग जाए !
  • बाए हाथ से राइफल के स्माल बट के निचे से गोल मुट्ठी से पकडे और दाहिने हाथ से स्माल बट के ऊपर कलम वाली ऊँगली ट्रिगर गार्ड के आरपार !
  • राइफल के बट को कंधे में जाए और सर को बट के ऊपर रखे !
इस पोजीशन में देखने वाली बाते :
  • टांग खुली हुई और बदन के दोनों तरफ फैली हुई हो 
  • टारगेट , राइफल और बदन एक सीध में 
  • राइफल इतनी आगे हो की आसानी से कंधे में लाया जा सके ! खड़े होने के लिए राइफल को बाए हाथ से पकडे और दाहिने हाथ से सहारे लेते खड़े हो जाये !

3 SSG-69 राइफल की सिटिंग पोजीशन की जानकारी (SSG-69 rifle ki siting position)

कभी कभी स्नाइपर को ऊँची /ऊपर से या मोर्चा हाईड से फायर  करना पड़ सकता है ऐसी हालत में बैठ कर फायर करना पड़ेगा !
सिटिंग पोजीशन की करवाई :
  • आसानी से जमीन पर बैठ जाए 
  • राइफल को सैंड बैग पर रखे 
  • ट्रिगर को सैंड बैग के साथ मिलाये 
  • पकड़ पहले की तरह 
  • कोहनी को बैच पर टिकाये जिससे सपोर्ट मिलेगा 
  • टाँगे खुली और पोजीशन आरामदेह 

4.SSG-69 की मजबूत पकड़ की जानकारी (SSG-69 ki majbut pakad)

जैसे की फायरिंग पोजीशन देने के बाद आदेश मिलता है मजबूत पकड़ बनाना तो मजबूत पकड़ बनने के लिए करवाई इस प्रकार से करे :
  • बाए हाथ की पकड़ : राइफल को निचे सपोर्ट देना 
  • दाहिने हाथ की पकड़ : राइफल को मजबूती से पकड़ना और फायर  करना और अंगूठा  बाए की तरफ  , तीन अंगुलिया दाहिने से निचे और कलम वाली उंगली ट्रिगर पर ! इस हाथ से राइफल को कंधे के साथ जमाने में मदद मिलती है !
  • कंधे का काम : बट को दाहिने कंधे की गद्दी में मजबूती से जमाये ! इस प्रकार मजबूती से दबाने पर पीछे का धक्का कम होगा और राइफल कंधे से नहीं फिसलेगा !
  • सिर का काम : सिर से राइफल को ऊपर से लॉक किया जाता है ! गाल बट के साथ लगाओ ! टेलेस्कोप चढ़ी हुई राइफल से सही शिस्त पाने के लिए आँख को 6 से 8 सेमी दूर रखे !
  • सांस  को रोकना : फायर करने से पहले लम्बी सांस ले कुछ सांस को छोड़े और बाकी साँस को काबू रखते हुए निशाना ले और फायर करे ! सांस को ज्यादा देर तक न रोके नहीं तो थरथराहट शुरू हो जाएगी !

5.SSG-69 राइफल के ट्रिगर ऑपरेशन की जानकारी (SSG-69 rifle ki trigger operation)

ट्रिगर  ऑपरेशन की सही करवाई अच्छी फायरिंग का चौथा बुनियादी उसूल ! ट्रिगर दबाने का काम कलम वाली ऊँगली करती है ! पहला पुलाव लिया जाय और फिर आहिस्ता आहिस्ता ट्रिगर को एक ही दबाव के साथ खिचे ! गलत ट्रिगर दबाने से गोली दुरुस्त जगह पर नहीं लगेगी ! अगर ट्रिगर को झटके से या घबराहट से दबायेंगे तो बैरल हरकत करेगी !

6.SSG-69 राइफल के बाई पोड का इस्तेमाल (SSG-69 rifle ki Bipod ka istemal)

इस राइफल के साथ एक बाई पोड होता है ! यह बाई पोड अमेरिका की एक कंपनी ने बनाया है ! बाई पोड का वजन 300 ग्राम है ! बाई पोड लेग की जरुरत के मुताबिक लम्बा या छोटा किया जा सकता है ! लेग के अन्दर लगी हुई स्प्रिंग काफी ताकतवर होती है जो की आसानी से बाई पोड लेग को अन्दर खीच लेता है !

बाई पोड को चढाने का तरीका 

बाई पोड के ले और फिक्सिंग स्क्रू को ढीला करे , लेग को मगज़ीन की तरफ रखते हुए फिक्सिंग स्क्रू के निचे स्टफ स्कायर को राइफल के बॉडी के निचे बनी हुई रेसेज की सिद्ध में लाये और काबू रखते हुए बाई पोड को चढ़ा दे !

जरुरत के मुताबिक बाई पोड को कही भी फिट करे और फिक्सिंग स्क्रू को कस दे  ! बाई पोड के लेग को बारी बारी बहार की तरफ खिचे ! राइफल को बाई पोड की हाईट के मुताबिक ऊँचा करने के लिए लेग  को खींचे और वापस करने के लिए स्टोपिंग कैच को दबाके ! अगर बाई पोड लेग को बीचो बिच करना होतो लेग जरुरत के मुताबिक खिचे और लेग फिक्सिंग नट दाहिने तरफ मोड बाई पोड बीचो बिच रुक जायेगा ! अन्दर करने के लिए फिक्सिंग नट को ही ढीला करना पड़ेगा !

बाई पोड को उतारने का तरीका 

बाई पोड को उतारने के लिए सीखे हुए तरीके से फिक्सिंग स्क्रू को ढीला करे और स्टफ स्कायर को रेसेज में से बहार निकले ! बाई पोड चढ़ा कर अगले गोली फायर करनी पड़े तो सुझाव के तौर पर हर गोली फिरेर के बाद फिक्सिंग  स्क्रू को कस देना चाहिए ! इस काम के लिए स्क्रू को क्स देना चाहिए ! इस काम के लिए स्क्रू ड्राईवर या किसी नुकीली चीज की मदद ली जा सकती है !
पुरे ड्रिल को करने के बाद एक बात तो साफ हो गई की फायरिंग पोजीशन कोई भी हो लेकिंग हाथो का काम एक ही रहता है और दुरुस्त फायर के लिए फायरिंग के बुनियादी उसूलो के ऊपर ज्यदा ध्यान देना चाहिए !

इसके साथ ही SSG-69 राइफल के फायरिंग पोजीशन और पकड़ से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित करे !
इसे भी पढ़े :
  1. 9 mm पिस्तौल ब्राउनिंग का बेसिक टेक्नीकल डाटा
  2. 7.62 mm एसएलआर राइफल की खुबिया और खामिया
  3. 9 mm पिस्तौल का खुबिया और खामिया
  4. .303 LE राइफल का इतिहास
  5. Lee Enfield .303राइफल का टेक्नीकल डाटा
  6. Lee Enfield 303राइफल की खूबिय और खामिया
  7. 9 mm कार्बाइन मचिन या सब मचिन गन का इतिहास और खुबिया
  8. 9mm कार्बाइन का टेक्नीकल डाटा -II
  9. 9 mm कार्बाइन मचिन का बेसिक टेक्नीकल डाटा -I

1 comment:

  1. The Walking Dead revient à la rentrée sur AMC et OCS.

    ReplyDelete