Sponser

Search

Wednesday, October 17, 2018

एक स्नाइपर द्वारा फायरिंग पोजीशन का चुनाव करना

पिछले ब्लॉग पोस्ट में हमने स्नाइपर राइफल के टेलेस्कोप स्काउट रेजिमेंट का इस्तेमाल करने के बारे में जानकारी प्राप्त किये और अब इस पोस्ट में हम जानेगे की एक स्नाइपर फायर पोजीशन के चुनाव करते समय किस बात को ध्यान में रखता है !(Sniper dwara firing position chunna)


जैसे की हम जानते है की स्नाइपर को स्टैकिंग करते समय फायरिंग पोजीशन का चुनाव करना पड़ता है !और साथ ही साथ उन आडो तक पहुचने के लिए उसको सभी हरकत टैक्टिकली  करनी पड़ती है ! रास्ते में उसके साथ कभी कभी दुश्मन का सामना भी हो सकता ऐसी हालत में उसकी तुरंत फायरिंग पोजीशन का चुनाव करना होगा !

जरुर पढ़े :स्निपिंग राइफल SSG -69 का एक संक्षिप्त परिचय

इस लिए यह जरुरी है की  स्नाइपर को फायरिंग पोजीशन चुनने में माहिर होना चाहिए ताकि जरुरत पड़ने पर जल्द से जल्द फायरिंग पोजीशन अख्तियार कर सके !

एक स्नाइपर को फायरिंग पोजीशन चुनते वक्त निम्न कुछ बातो का ख्याल रखना चाहिए 
  • आड़ गोली की हो और छुपाव वाली हो 
  • देखभाल और फायर करने के लिए फील्ड ऑफ़ फायर साफ होहथियार दुरुस्त इस्तेमाल के लिए जगह हो 
  • आड़ तक जाने का रास्ता छुपाव वाला हो 
  • आड़ के आगे जाने का रास्ता हो 
  • आड़ मशहुर न हो और न ही मशहुर निशान के पास हो 
  • आल्टरनेट आब मौजूद हो या चुन ली जाए 
  • आड़ हवाई रैकी से बचाव में हो 
आड़ पकडे न का प्रैक्टिस करते रहना चाहिए और आड़ को चुनने के बाद उसके ऊपर ग्रुप में नुक्ता चीनी करना चाहिए जिससे की आड़ के खूबिया  और कमिया  अलग अलग दृष्टिकोण से पटाया लगाया जा सके !

इस पराक्र से एक स्नाइपर द्वारा फायरिंग पोजीशन चुनते समय ध्यान में रखने वाली बातो से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित !

इसे भी पढ़े : 
  1. सेक्शन फार्मेशन और सेक्शन फार्मेशन का बनावट
  2. आतंक प्रभावित इलाके में सिक्यूरिटी पोस्ट लगान
  3. रात के संतरी तथा स्काउट की ड्यूटी क्या होता है
  4. फील्ड फोर्टीफीकेसन में इस्तेमाल होने वाले फौजी टेकटिकल शब्दों का क्या मतलब
  5. फौजी टैक्टिकल शब्द जैसे फर्स्ट लाइट फ्लैंक गार्ड यदि क मतलब
  6. अम्बुश की जुबानी हुक्म क्या होता है और इसमें सामिल होने वाले मुख्य बाते
  7. रोड ओपनिंग पार्टी/पट्रोल और उसके महत्व के बारे
  8. कॉन्वॉय कितने प्रकार का होता है ? कॉन्वॉय प्रोटेक्शन की पार्टिया कौन कौन सी होती ?
  9. कॉन्वॉय कमांडर और कॉन्वॉय मूवमेंट से पहले जानने वाली बातें
  10. रोड ओपनिंग पार्टी की तैनाती करने का तरीका तथा ROP ड्यूटी के दौरान IED से बचा के लिए ध्यान में रखनेवाली बाते

No comments:

Post a Comment