Sponser


Monday, July 10, 2017

कॉन्वॉय कितने प्रकार का होता है ? कॉन्वॉय प्रोटेक्शन की पार्टिया कौन कौन सी होती ?


पिछले पोस्ट में हमने Road Opening Party और उसके महत्व के बारे में जानकारी प्राप्त किये ! इस पोस्ट में हम कॉन्वॉय के प्रकार तथा उसको प्रोटेक्शन करने में सामिल होने वाली पार्टियों(Types of Convoy aur uske protection karne me shamil hone wali partiya) के बारे में जानकारी हासिल करेंगे !


आज के समय में जहा आतंकवाद तथा नक्सलवाद की गतिविधिया इतनी बढ़ गई जिससे यह जरुरी हो गया है की सुरक्षा बल , नेताओ, VIP तथा साजोसामान को उनकी यात्रा के दौरान रोड पर या रेल में सुरक्षा कवर प्रदान किया जाये !

 इस लिए ऐसे प्रभावित इलाको के सुरक्षा बल अपनी तथा किसी अतिविशिष्ट व्यक्ति को एक जगह से दुसरे जगह जाना होता है तो उसकी सुरक्षा के लिए बहुत से इन्तेजाम किया जाता है और उनकी गाड़िया एक कॉन्वॉय के रूप में मूव करती है ताकी अगर कोई हमला होतो उसे रोका जाये !

जरुर पढ़े : पेट्रोलिंग और नाईट पेट्रोलिंग और उसके टास्क और नफरी

इस विषय को अच्छी तरह से समझने के लिए हम इस पोस्ट को निम्न बिंदु सार बाटते है :
Layout of Convoy escort
Layout of Convoy escort

  1. कॉन्वॉय कितने प्रकार  के होते है ?(Convoy kitne prakar ki hoti hai )
  2. कॉन्वॉय प्रोटेक्शन एस्कॉर्ट की पार्टिया (Convoy protection  escort ki partiya)
  3. कॉन्वॉय एस्कॉर्ट की संख्या (Convoy escort ki sankhya)
1. कॉन्वॉय कितने प्रकार  के होते है ?(Convoy kitne prakar ki hoti hai ):आतंकवाद प्रभावित इलाके में सभी गाडियों को कॉन्वॉय में ओर्गानाइज कर चलाया जाता है ! ट्रैफिक , चेक पोस्ट द्वारा यह यकीं किया जाता है की कोई भी गाड़ी अकेले न चले ! कॉन्वॉय दो प्रकार के होते है :

जरुर पढ़े : अम्बुश और काउंटर अम्बुश, अम्बुश का उद्देश्य , अम्बुश का पार्टिया , अम्बुश का टारगेट
  • रूटीन कॉन्वॉय(Routine Convoy) : यह ज्यादातर बंदोबस्ती कॉन्वॉय होती है जो की फार्मेशन या किसी एक सुरक्षा एजेंसी द्वारा चलाई जाती है ! इनमे सिविलियन गाड़िया भी शामिल हो सकती है और इन कॉन्वॉय के समय या तारीख को लगतार बदलाव करना मुमकिन नहीं होता है ! इस लिए एसी कॉन्वॉय पर उग्रवादियो के हमले की संभावना ज्यादा होती है !
  • स्पेशल कॉन्वॉय(Special Convoy) : यह यूनिट्स के ऑपरेशनल मूवज के दौरान चलाये जाते है अथवा सीनियर कमांडर या VIP के मूवमेंट के दौरान चलाया जाता है ! ऐसी कॉन्वॉय की संख्या कम से कम रखनी चाहिए ! स्पेशल कॉन्वॉय के लिए हायर हेड क्वार्टर से एक स्टैंडिंग आर्डर  जारी किया जाता है जिसमे साफ साफ हिदायते दी होती है ! आमतौर पे ऑपरेशन कॉन्वॉय में 6 गाड़िया और पलटन के कॉन्वॉय में कम से कम 3 गाड़िया सामिल होनी चाहिए !

2. कॉन्वॉय प्रोटेक्शन एस्कॉर्ट की पार्टिया (Convoy protection escort ki partiya): कॉन्वॉय प्रोटेक्शन एस्कॉर्ट की निम्न पार्टिया होती है :
  • फ्रंटल एस्कॉर्ट(Frontal Escort) 
  • मिडल एस्कॉर्ट (आमतौर पर लम्बी कॉन्वॉय के लिए )(Middle Escort)
  • रियर एस्कॉर्ट (Rear Escort)

3. कॉन्वॉय एस्कॉर्ट की संख्या (Convoy escort ki sankhya): एस्कॉर्ट पार्टी की संख्या कॉन्वॉय की लम्बाई व आतंकवादियो द्वारा संभावित खतरों की किस्म पर निर्भर करेगी ! जीन स्थानों पर IED का खतरा ज्यादा होगा वह पर गाडियो में कम ट्रूप्स बैठना चाहिए , ताकि नुकशान होने का खतरा कम से कम हो !

गाडिओ में ट्रूप्स को इसप्रकार से बिठान चाहिए की मौका पड़ने पे वे जल्दी से जल्दी अपने हथियारों का उपयोग कर सके !

कॉन्वॉय की सुरक्षा अच्छे तरीके से तभी हो सकती है जब उसमे बैठने वाले ट्रूप्स बिजली की तेजी से आक्रामक कार्यवाही कर सके , इसके लिए जरुरी है की हर गाडी के कमांडर नियुक्त हो और उसमे बैठने वाले ट्रूप्स की बेहतर तरीके से ब्रीफिंग की गई हो ! 

एस्कॉर्ट पार्टी की संख्या निम्न बातो पर निर्भर करती है :
  • कॉन्वॉय पर खतरे की किस्म 
  • यात्रा करने वाले व्यक्तियों व सामान पर 
  • कॉन्वॉय की लम्बाई 
  • रस्ते में पड़ने वाली अम्बुश पॉइंट 
  • ट्रूप्स की उपलब्धता 
  • आतंकवादियो की क्षमता व उनका पिछला रिकॉर्ड 

इस प्रकार से यह कॉन्वॉय के प्रकार तथा उसको प्रोटेक्शन करने में सामिल होने वाली पार्टियों से सम्बंधित  एक संक्षिप  ब्लॉग पोस्ट समाप्त हुई! उम्मीद है की पोस्ट आपको पसंद आएगा ! अगर कोई  या ब्लॉग के बारेमे हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरूर लिखे ! और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब तथा फेसबुक शेयर तहत लिखे करके हमलोगों को प्रोतसाहित करे और अच्छा करने के लिए !  


इसे भी पढ़े :


  1. सेक्शन फार्मेशन एंड प्लाटून फार्मेशन के फायदे और नुकशान
  2. टेक्टिकल वर्ड्स और उसका मतलब हिंदी में -II
  3. टेक्टिकल वर्ड्स और उसका मतलब हिंदी में -I
  4. कामौफ्लाज और कांसिल्मेंट के ऊपर एक संक्षिप्त जानकारी
  5. पेट्रोलिंग के परिभाषा और पेट्रोलिंग के प्रकार
  6. पेट्रोलिंग पार्टी को ब्रीफिंग देने का तरीका ?
  7. अम्बुश का परिभाषा और अम्बुश की पार्टिया
  8. आतंक प्रभावित इलाके में सिक्यूरिटी पोस्ट लगान
  9. रात के संतरी तथा स्काउट की ड्यूटी क्या होता है
  10. फील्ड फोर्टीफीकेसन में इस्तेमाल होने वाले फौजी टेकटिकल शब्दों का क्या मतलब
  11. फौजी टैक्टिकल शब्द जैसे फर्स्ट लाइट फ्लैंक गार्ड यदि क मतलब
  12. अम्बुश की जुबानी हुक्म क्या होता है और इसमें सामिल होने वाले मुख्य बाते
  13. रोड ओपनिंग पार्टी/पट्रोल और उसके महत्व के बारे




No comments:

Post a Comment

match contents