Sponser


Tuesday, June 12, 2018

11 अहम् बाते 81 mm मोर्टार के रंजिंग और फायर से सम्बंधित

पिछले पोस्ट में हमने 81 mm मोर्टार के फायर कण्ट्रोल से सम्बंधित महत्वपूर्ण 5 बाते के बारे में जनकारी प्राप्त की! इस पोस्ट में हम 11 बाते 81 mm मोर्टार के फायरिंग और  रंजिंग  के बारे में जानेगे !



इस पोस्ट को अच्छी तरह से समझने के लिए है इसे निम्न भागो में बाँट दिया है :

1.81 mm मोर्टार में रंजिंग क्यों जरुरी है और इसका उद्देश्य क्या है ?(81 mm mortar me ranging kyo kiya jata hai)
2. रंजिंग पॉइंट की खूबिया कौन कौन सी है ?(Ranging point ki khubiya kaun kaun si hai)
3.रंजिंग कितने प्रकार की होती है ?(Ranging kitne prakar ki hoti hai)
4. 81 mm मोर्टार का बम लाइन से हट कर गिरने का क्या कारण होता है ?(81 mm mortar ka bomb line se hat kar girne ka kya karan hota hai )
5.कारगर फायर  में फायर की रफ्तार मुकरर करते समय कौन सी बाते ध्यान में रखना चाहिए ?(Kargar fire  me fire ki raftar mukarar karte samay kaun si bate dhyan me rakhna chahiye)
6. 81 mm मोर्टार के बेल्ट ऑफ़ फायर  से क्या मतलब होता है ?(mortar ka belt of fire ka kya matlab hota hai)
7. कारगर फायर में सरप्राइज  हासिल करने के लिए क्या किया जाता है ?(kargar fire me surprise hasil karne ke liye kya kya kiya jta hai)
8. 81 mm मोर्टार फायरिंग में टारगेट ग्रिड प्रोसीजर के क्या फायदे होते है?(mortar firing me target grid procedure se kya fayda hote hai)
9. 81 mm मोर्टार एम् ऍफ़ सी टारगेट को किन किन तरीको से जाहिर करते है ?(81 mm mortar me MFC target ko kin kin tariko se jahir karte hai)
10.  प्रेदिक्टेड शूट के फायदा क्या होता है ?(Predicted shoot ke fayde kya hota hai)
11. 81 mm मोर्टार से धुएं का परदे बनाने के  क्या क्या फायदा होता है (81 mm mortar se dhuye ka parde bana ne ka kya kya fayde hota hai)

जरुर पढ़े: 5.56 MM INSAS LMG के ऊपर दुरुस्त पकड़ बनाने का तरीका

1. 81 mm मोर्टार में रंजिंग क्यों जरुरी है और इसका उद्देश्य क्या है ?(81 mm mortar me ranging kyo kiya jata hai):रंजिंग के मेथड से हम टारगेट के बिच की दुरी ज्ञात करते है ! तो मोर्टार की किसी जातीय और ऍफ़ सी की ग्रिड रिफरेन्स निकलने की गलती को दूर करने के लिए जरुरी है  की किसी टारगेट पर जरुरी फायर खोलने से पहले रंजिंग कर लिया जाए ! 
रंजिंग का उद्देश्य कम से कम या बगैर अमुनिसन खर्च करते हुए हर मोर्टार के लिए टारगेट का सही फासला और दिशा मालूम करना !

2. रंजिंग पॉइंट की खूबिया कौन कौन सी है ?(Ranging point ki khubiya kaun kaun si hai):रंजिंग पॉइंट में निम्न खुबिया होनी चाहिए :

  • निशाना अलग अलग हो और मसहुर हो 
  • रिवर्स स्लिप में नहीं हो 
  • अगर एक डिग्री से ज्यादा हो तो उसका कोई एक किअनर लिया जाय 
  • टारगेट एरिया के तक़रीबन मध्य में हो !
3.रंजिंग कितने प्रकार की होती है ?(Ranging kitne prakar ki hoti hai):रंजिंग दो प्रकार के होता है :
  • नार्मल रंजिंग 
  • साइलेंट रंजिंग 


4. 81 mm मोर्टार का बम लाइन से हट कर गिरने का क्या कारण होता है ?(81 mm mortar ka bomb line se hat kar girne ka kya karan hota hai )मोर्टार के बम लाइन से हट कर गिरने के कुछ एक निम्न कारण है :

  • शुरू शुरू में दिश मालूम करने की गलती 
  • नॉन कैलिब्रेशन ऑफ़ मोर्टार 
  • बीटन जोन की चौड़ाई 
  • 90 डिग्री पे चलने वाली हवा 
5.कारगर फायर  में फायर की रफ्तार  मुकरर करते समय कौन सी बाते ध्यान में रखना चाहिए ?(Kargar fire  me fire ki raftar mukarar karte samay kaun si bate dhyan me rakhna chahiye): फायर की रफ़्तार मुकरर करते समय निम्न बातो का ध्यान रखना चाहिए :
  • अमुनिसन कितना है 
  • फायर कितनी देर तक करना है 
  • दुश्मन की पोजीशन कितनी मजबूत है 
  • अगर हमला करने वाली फ़ौज को मदद डी जा रही है तो उस जमीन का हालत कैसी है जिस पर से वह गुजरा रही है !
6. 81 mm मोर्टार के बेल्ट ऑफ़ फायर  से क्या मतलब होता है ?(mortar ka belt of fire ka kya matlab hota hai): मोर्टार के बेल्ट ऑफ़ फायर का मतलब  होता है  जब किसी फायर यूनिट का मोर्टार एक दुसरे के मत्वाजी में फायर करे तो उनका दरमियानी फासला और 50 % बीटन जोन मिलकर जो इलाका बनता है उसे बेल्ट ऑफ़ फायर कहते है !



7 . कारगर फायर में सरप्राइज  हासिल करने के लिए क्या किया जाता है ?(kargar fire me surprise hasil karne ke liye kya kya kiya jta hai): कारगर में सरप्राइज हासिल करने के लिए कुछ एक  निम्न करवाई की जाती है :
  • रंजिंग पॉइंट टारगेट से थोड़ी दूर लेकिंग ऐसी जगह चुने जहा से टारगेट के फासले और दिशा के बारे में खबर मिल सके !
  • कारगर फायर भरी तादाद में खोला जाये
  • राउंड का तादाद बदलते रहना चाहिए 
  • फायर का तरीका भी बदलते रहना चाहिए 
  • तेज मोर्टार फायर केवल जरुरत पड़ने पे ही खोलना चाहिए 
8. 81 mm मोर्टार फायरिंग में टारगेट ग्रिड प्रोसीजर के क्या फायदे होते है?(mortar firing me target grid procedure se kya fayda hote hai):ग्रिड प्रोसीजर के निम्न फायदे है :
  • ओ पी कही भी बैठा हो यह तरीका इस्तेमाल हो सकता है !
  • एम् ऍफ़ सी प्रोसीजर भी इसी प्रकार होता है !
  • यह तरीका आसान  है क्यों की इसमें करेक्शन ऑफ़ टारगेट लाइन से ही गजो में दी जाती है ! 
  • इस प्रोसीजर में बटालियन का कोई ऑफिसर या एस ओ मोर्टार को कण्ट्रोल कर सकता है 
  • इस प्रोसीजर में ऍफ़ सी को एम् (मोर्टार पोजीशन ) की जाने की जरुरत नहीं पड़ती !
9. 81 mm मोर्टार एम् ऍफ़ सी टारगेट को किन किन तरीको से जाहिर करते है ?(81 mm mortar me MFC target ko kin kin tariko se jahir karte hai): निम्न तरीको से जाहिर करते है :
  • दर्ज किये हुए टारगेट के मदद से 
  • किसी मशहूर निशान के मदद से 
  • साल्वो के मदद से 
  • स्मोक बम के फायर से 

10.  प्रेदिक्टेड शूट के फायदा क्या होता है ?(Predicted shoot ke fayde kya hota hai)प्रेदिक्टेड शूट के निम्न फायदे है :
  • वह टारगेट जो की पहाड़ी के पीछे रेवेर्स  स्लोप में नजर नहीं आ रही है उसे भी इंगेज  किया जा सकता है !
  • धुएं धुंध या अँधेरे में फायर किया जा सकता है !
  • सरप्राइज हासिल किया जा सकता है !
  • किसी वजह से रंजिंग नही हो सका हो तभी फायर किया जा सकता है !
  • मोर्टार पोजीशन जाहिर नहीं होती है !
11. 81 mm मोर्टार से धुएं का परदे बना ने के  क्या क्या फायदा होता है (81 mm mortar se dhuye ka parde bana ne ka kya kya fayde hota hai)निम्न फायदे है :
  • एच ई बम के बनासिपत थोडा अमुनिसन खर्च होता है 
  • काफी एरिया को एक साथ ब्लाइंड किया जा सकता है 
  • काफी जल्दी बनाया जा सकता है !
  • दुश्मन को धोखा दिया जा सकता है !
  • इशारे के भी काम आत है !

इस प्रकार से 11 बाते काफी जरुरी बाते 81 mm मोर्टार के फायरिंग और रंजिंग से सम्बंधित  एक संक्षिप्त पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित करे !
इसे भी पढ़े :
  1. इंसास एलएमजी में पड़ने वाले रोके और फौरी इलाज से दूर करने का तरीका
  2. इंसास एलएमजी में पड़ने वाले शख्त खिचाव के रोक और उसे दूर करने का तरीका
  3. INSAS LMGमें पड़ने वाली गैस की कमी का रोक और उसे दूर करने का तरीका
  4. INSAS LMG में पड़ने वाले अन्य रोके तथा उसे दूर करने का तरीका
  5. 9mm पिस्तौल के चाल और चाल में सामिल होने वाले हिस्से पुर्जे
  6. 9 mm पिस्तौल में पड़ने वाले रोके और उसे दूर करने का तरीका
  7. 9mm कार्बाइन मचिन के रोके और उसे दूर करने का तरीका
  8. इंसास राइफल के थ्री ब्रस्ट मेचानिस्ज्म की चल और पुर्जे
  9. जनरल टेक्निकल डिटेल्स 5.56 mm इंसास राइफल के कार्ट्रिज के बारे में
  10. इंसास राइफल की दुरुस्त ट्रिगर ऑपरेशन

No comments:

Post a Comment