Sponser


Sunday, July 3, 2016

36 ग्रेनेड के बेसिक जनरल डाटा और ग्रेनेड का इस्तेमाल और पार्ट्स के नाम

पिछले पोस्ट में हमने 9mm पिस्तौल में पड़ने वाले रोके तथा उसे दूर करने का तरीका के बारे में जानकारी ली इस पोस्ट में हम  नम्बर -36 हैण्ड ग्रानेड के बारे में जानकारी हासिल करेंगे !

हाई एक्सप्लोसिव नंबर 36 ग्रेनाड को हम ज्यादातर हैण्ड ग्रेनेड ही कहते है यह  एंटी पर्सनल इस्तेमाल होता  है जो की  तीन प्रकार के होते है :

जरुर पढ़े : 9 mm पिस्तौल की खुबिया और कमिया
  1. ड्रिल ग्रेनेड : यह सफ़ेद कलर का होता है जिसमे पांच छेद होते है ! इसका इस्तेमाल ग्रेनेड का थ्रोविंग की प्रैक्टिस के लिए किआ जाता है !



  2. इंस्ट्रूकसनल  ग्रेनेड : इसका रंग सर्विस ग्रेनेड जैसा होता है लेकिन लाल धारी नहीं रहती है ! इसका बॉडी का कुछ भाग कटा रहता है जहा से ग्रेनेड  का मेकनिज्म दिखाई देता है इसका इस्तेमाल ग्रेनेड के बारे में सिखलाई देने में किआ जाता  है !
  3. लाइव ग्रेनेड : यह जिन्दा ग्रेनेड होता है जिसका इस्तेमाल एंटी पर्सनल वेपन  के तौर पे किआ जाता है ! यह ग्रेनेड जन से मर डालने वाले ग्रेनेड है ! यह फटने से 8 मीटर यानि 9 गज  चारो तरफ के आदमी को जान से मार सकता है और 270 मीटर तक जख्मी कर देने की शक्ति रखता है ! 
          इस ग्रेनेड को उन जगहों पर इस्तेमाल किआ जाया है जहा फ्लैट त्रजेक्ट्री के हथियार  कारगर नहीं होते है जैसे  मोर्चे , मकानों के अन्दर , टूटी फूटी ज़मीन, रात के वक्त हमले के आखिर में , AFVs के खिलाफ अगर टैंक के तुर्रेट खुले हो तो उस में ग्रेनेड फेक कर अन्दर बैठे क्रू को काफी नुकसान पहुचाया जा सकता है !
  • ग्रेनेड का वजन : 1 पौंड 10.5 औंस 
  • ग्रेनेड का मार डालने का एरिया : 8 मीटर या 9 गज   चारो ओर
  • कासुअलिटी एरिया : 250 गज चारो ओर
  • खतरनाक एरिया : 300 गज या 270 मीटर  चारो ओर
  • ग्रेनेड  के इग्निटर सेट का पहचान :4 सेकंड वाले इग्निटर सेट में कैप चैम्बर के ऊपर रिंग बाने होते है और 7 सेकंड वाले इग्निटर सेट पर रिंग नहीं बने होते है !
  • ग्रेनेड का इस्तेमाल करने का एरिया : जहा पर फ्लैट त्राजेक्ट्री के हथियार कम नहीं करते है वाला हैण्ड ग्रेनेड का इस्तेमाल किआ जाता है !
  • ग्रेनेड में झिरिया क्यों कटती रहती है : झिरियो के कारण ग्रेनेड जब फटता है तो उसका बॉडी का छोटे छोटे स्प्लिन्टर आसानी से बन जाता है!
  • ग्रेनेड में कौन सा एक्सप्लोसिव भरा हुआ रहता है : हाई एक्सप्लोसिव (High Explosive)
  • एक सामान्य जवान ग्रेनेड को कितना दूर फेक सकता है : 25 गज से 35 गज तक 
  • हवा में ब्लास्ट करने के लिए ग्रेनेड में क्या किआ जाता है :4 सेकंड का इग्निटर लगाके GF राइफल या एसएलआर या इंसास से फिरे किया जाता है !
  • ग्रेनेड थ्रोविंग का प्रैक्टिस करते समय हाई वायर की उचाई कितनी रहती है : 18 फीट 3 फीट नेट के साथ 
  • ग्रेनेड को हवा में ब्लास्ट करने की जरुरत कब पड़ती है : जब दुश्मन पेड़ के ऊपर हो !
  • ग्रेनेड को राइफल से फिरे करने के लिए कौन सा अमुनिसन इस्तेमाल किआ जाता है : बलास्टिक कार्ट्रिज 
  • बलास्टिक कार्ट्रिज का क्या पहचान होता है : आधा काला होता है 
  • डिस्चार्ज कप का वजन क्या होता है : 2 पौंड 2 औंस 
  • डिस्चार्ज कप का डैया मीटर क्या होता है :2.5 इंच 
  • डिस्चार्ज कप की पूरी लम्बाई कितनी होती है : 6.5 इंच 
  • G. F राइफल से ग्रेनेड फिरे करते समय ग्रेनाड के बेस में क्या लगाराहता है : गैस चेक प्लेट 

ग्रेनेड के हिस्से पुर्जो का नाम :
Parts of  No-36 Granade
Parts of  No-36 Granade 
सेफ्टी पिन को लगते समय ध्यान में रखने वाली बाते :
जो जवान ग्रेनेड को दाहिने हाथ से फेकता हो तो ग्रेनेड का फिलिंग स्क्रू  अपनी तरफ रख कर दाहिने से बाये सेफ्टी पिन निकले ! और बाये हाथ से फेकने वाला उल्टा सेफ्टी पिन  लगाये !

ग्रेनेड को फेकने से पहले ध्यान में रखने वाली बाते 
  1. यकींन  कर लेना चाहिए की सेफ्टी पिन निकला हुआ है
  2.  अपने सभी जवान  जवान और खुद भी पोजीशन लिया हुआ हो यानि जमीन पकडे हुए हो 
ग्रेनेड के इग्निटर सेट के कौन कौन से हिस्से होते है :
  • कैप चैम्बर 
  • फ्यूज 
  • डिटोनेटर
  • .22 कैप 

राइफल से ग्रेनेड को किन किन पोजीशन से फायर किआ जाता है 
  • निलिंग
  • सिटींग 
  • मोर्चे से स्टैंडिंग 
ग्रेनेड के फेकते समय ध्यान में रखने वाली बाते :
  • रौशनी से बचा जाय 
  • छाया को छुपाया जाय 
  • इसका ध्यान रखा जाय की ग्रेनेड किसी चीज से टकरा के फिर वापस न आ जाय 
  • हरकत तेजी से की जाय 
डिस्चार्ज कैप के गैस पोर्ट पर रेंज लगाने का तरीका क्या है 
  • गैस पोर्ट पूरा खुला हो तो  - 80 गज 
  • एक चौथाई खुला हो तो - 110 गज 
  • आधा बंद हो तो - 140 गज 
  • तीन चौथाई बंद हो - 170 गज 
  • पूरा बंद हो तो -200 गज 
राइफल से ग्रेनेड फायर करने के लिए ट्रिगर दबाते समय ध्यान में रखने वाली बाते :
  • ट्रिगर को एकही दबाव से दबाया जाय 
  • फायरर का शिर काफी पीछे हो 
  • फायरर निचे न देखे 
इग्निटर सेट को इस्तेमाल करने से पहले उसके कौन कौन से हिस्से का निरिक्षण करना चाहिए 
  • .22 कैप छेद ठीक से सिल है 
  • कैप चैम्बर कही से दबा न हो 
  • सेफ्टी फुजे सही हालत में हो 
  • सेफ्टी फुजे कैप चैम्बर और डिटोनेटर के साथ ठीक से लगा हो 

हाई वायर का इस्तेमाल क्यों किआ जा है और जमीन से हाई वायर का निचे वाला किनारा कितना ऊँचा होना चाहिए 
  • ग्रेनेड को गोलाई देकर फेकने का प्रैक्टिस करने के लिए 
  • हाई वायर का निचला किनारा 15 फीट ऊँचा होता है 
ये रही नंबर 36 ग्रेनेड के बारे में जानकारी उम्मीद है की पोस्ट पसंद आया होगा कोई सजेसन हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे और हथियारों के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए इंडेक्स लिंक को जरुर देखे !

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...