Search

13 March 2022

शिनाख्त परेड(TIP) की जरुरत और ध्यान देनेवाली बाते

पिछले ब्लॉग पोस्ट में हमने इनक्वेस्ट और उसकी जरुरत के बारे में जानकारी प्राप्त  की थी और अब इस ब्लॉग पोस्ट में हम शिनाख्त परेड की जरुरत और ध्यान देनेवाली बाते जिन्हें सभी पुलिस ऑफिसर  को मालूम होनी चाहिए उसके (Test Identification Parade in hindi) के बारे में जानेगे !

पहचान परेड जाँच अधिकारी को अपने आप को किसी केस को ट्रायल के लिए  भेजने से पहले अपने आप को संतुष्ट करने के लिए एक शिनाख्त परेड है जिसके करने के बाद जाँच अधिकारी अपनी जाँच को अच्छी तरह से कोर्ट में रख सके !

इस विषय को अछि तरह से समझने के लिए हमने इसे निम्न भागो में बाँट दिया है :

Test Identification Parade
Test Identification Parade

  • शिनाख्त परेड कब  किया जाता है ?(Test of Identification Kab kiya jata hai)
  • शिनाख्त परेड क्यों किया जाता है ?(Test of Identification Kyo kiya jata hai)
  • शिनाख्त परेड कौन करता है ?(Test of Identification Kaun karta hai)
  • शिनाख्त परेड करते समय मजिस्ट्रेट को ध्यान में रखने वाली बाते (Test of Identification karte samay magistrate ko dhyan me rakhne wali baate)
  • शिनाख्त परेड करने से पहले ध्यान में रखने वाली बाते (Test of Identification karne se pahle dhyan me rakhne wali baate)

1. शिनाख्त परेड कब  किया जाता है ?(Test of Identification Kab kiya jata hai)

शिनाख्त परेड ज्यादातर अपराधिक केस में ही किया जाता है जब केस का जाँच किया जा रहा है !शिनाख्त परेड का एक अहम उद्देश्य होता है विटनेस की यदाश्य को चेक के अपराधी को पहचान करना जो की अपराधिक घटना में सम्मिलित हो ! इस प्रकार की शिनाख्त परेडसभी प्रकार की डकैती , या लोगो के समूह में उपस्थित व्यक्तियो जो किसी रायटिंग या संज्ञे अपराध में सामिल हो आदि का पहचान करने के लिए किया जाता है !

इस का एक और उद्देश्य होता है की जो गवाह है को एक मौका देना की उसे अपराधी को कभी भी मिलने पर उस अपराधी को पहचान सकता है !शिनाख्त करना एक दिमागी कार्य है जो की तथ्य और दिमाग में बने छवि जो की उसने अपराधी द्वारा परध करते समय देखा है उसके आधार पर बनती है ! इसी लिए जरुर हो की :
  • गवाह को अपराधी को देखने का मौका मिला हो 
  • अपराधी को देखते समय माकूल प्रकास और पहचान पाने जितना दुरी हो 
  • शिनाख्त परेड ज्यादा दिनों के बाद नहीं कराया जा रहा हो 
  • गवाह विश्वनीयता और देखने की शक्ति 
  • पुलिस और गवाह के बीच कोई साठ गाठ न हो 
2.शिनाख्त परेड क्यों किया जाता है ?(Test of Identification Kyo kiya jata hai)
शिनाख्त परेड दोनों प्रकार के केसों में किया जाता है ओ चाहे अपराधिक केस हो या सिविल केस जब जाँच अधिकारी किसी की पहचान करानी हो :

  • मृत्य या जिन्दा या जान या अनजान व्यक्ति को पहचान करने के लिए 
  • पकड़ी गई सम्पति, सामान या हथियार की पहचान करने के लिए 
  • फोटोग्राफ , फिंगर प्रिंट्स , फूट प्रिंट्स, हैण्ड राइटिंग या वौइस् का पहचाना कराने के लिए !
अधिकतर शिनाख्त परेड  अपराधिक केस में ही किये जाते है जिससे की अपराधी को प्रमाणितया अप्रमाणित और सामान के संदर्भ में पहचान कराया जा सके !

3. शिनाख्त परेड कौन करता है ?(Test of Identification Kaun karta hai): किसी कानून में यह नहीं लिखा हुवा है की शिनाख्त परेड कौन करा सकता है कोई ऑफिस अधिकारी भी शिनाख्त परेड करा सकता है ! शिनाख्त परेड का कोई अहमियत नहीं रहती है जब उसे पुलिस अधिकारी करे! कुछ अहमियत दी जाती है जब उसे  या कोई आम व्यक्ति करे तो  इसलिए मजिस्ट्रेट को शिनाख्त परेड करने के लिए कहा जाता है  और उनका शिनाख्त मेमो रिकॉर्ड करजाता है जो  CrPC 164 में अंतर्गत आता जाता है और  एविडेंस एक्ट सेक्शन 80 में एविडेंस  के तौर पे मान लिया जाता है !
मजिस्ट्रेट के अनुपस्थिति में पांच भी शिनाख्त परेड करा सकता है !
4. शिनाख्त परेड करते समय मजिस्ट्रेट को ध्यान में रखने वाली बाते (Test of Identification karte samay magistrate ko dhyan me rakhne wali baate)

  • शिनाख्त परेड को खुले जगह पे नहीं करना चाहिए  व्यक्ति की प्राइवेसी को बनाये रखा जाए !
  • कोई पुलिस ऑफिसर वह उपस्तिथ न रहे !
  • अगर जेल के अन्दर कराया जा रहा हो तो कोई जेल के अधिकार मजिस्ट्रेट के  आस पास न हो !
  • नॉन सस्पेक्ट को ऐसा चुनाव किया जाय जिनका कद काठी सस्पेक्ट के कद काठी के जैसा ही हो और उन्हें सस्पेक्ट के साथ मिक्स्ड करके खड़ा करे !अगर अम्भाव हो तो सस्पेक्ट और नॉन सस्पेक्ट का रेश्यो 1:9 हो !
  • मजिस्ट्रेट को यह भी सुनिश्चित करनी चाहिए की कोई एक व्यक्ति विचित्र ड्रेस ना पहना हो !
  • सस्पेक्ट से यह पूछ लेना चाहिए की उसे इन सारी प्रक्रियाओ में कोई ऑब्जेक्शन है !
  • सस्पेक्ट को शिनाख्त परेडखड़ा होने की जगह  खुद सेलेक्ट करने का मौका देना चाहिए !
  • जो गवाह शिनाख्त परेड में शिनाख्त करने आ रहा है वह सस्पेक्ट को शिनाख्त परेड पहले  नहीं देखना चाहिए !
  • गवाह से यह पूछ लेना चाहिए की क्या आप सस्पेक्ट को पहले से जानते हो !
  • एक एक करके गवाह को  शिनाख्त परेड में शिनाख्त करने के लिए बुलाना चाहिए !
  • अगर किसी भी सस्पेक्ट का कोई भी ऑब्जेक्शन शिनाख्त परेड के दौरान हो तो उसे रिकॉर्ड करी चाहिए !
  • और भी कोई बाते जो शिनाख्त परेड के सम्बन्ध में उसे भी रिकॉर्ड करी चाहिए !

5. शिनाख्त परेड करने से पहले ध्यान में रखने वाली बाते (Test of Identification karne se pahle dhyan me rakhne wali baate): सबसे महत्वपूर्ण साक्ष्य गवाह के द्वारा दियागया बयान जो ओ कोर्ट के अन्दर देता है !शिनाख्त  के दौरान सस्पेक्ट को गवाह पहचान करता है तो उसका ज्यादा अहमियत नहीं होती है क्यों की बहुत से चांसेस होते है की गवाह सस्पेक्ट को कोर्ट आते देख लिया ओ या कोई पहचाना करा दिया हो इसलिए यह जरुरी है को सस्पेक्ट का शिनाख्त परेड पहले ही करा ली जाये ! इस संदर्भ में उच्चतम न्यालय का रेम्श्वर सिंह बनाम स्टेट ऑफ़ जम्मू & कश्मीर (Rameswar Singh V s. State of Jammu & Kashmir reported in 1972 (SC 102)) के लॉ है! 

 इस प्रकार से यह शिनाख्त परेड से सम्बंधित यह भाग संपत हुवा शिनाख्त परेड बाकी के जो भाग है उसे अगले ब्लॉग पोस्ट में सामिल करेंगे !

इस प्रकार से  शिनाख्त परेड से  सम्बंधित  यह ब्लॉग पोस्ट समाप्त हुवा !उम्मीद है की यह  पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित !

इन्हें भी  पढ़े :

  1. पुलिस ड्यूटी
  2. फर्स्ट इनफार्मेशन रिपोर्ट में होनेवाली कुछ कॉमन गलतिया
  3. 6 कॉमन गलतिया अक्सर एक आई ओ सीन ऑफ़ क्राइम पे करता है
  4. क्राइम सीन पे सबसे पहले करनेवाले काम एक पुलिस ऑफिसर के द्वारा
  5. बीट और बीट पेट्रोलिंग क्या होता है ?एक बीट पट्रोलर का ड्यूटी
  6. पुलिस नाकाबंदी या रेड् क्या होता है ?नाकाबंदी और रेड के समय ध्यान में रखनेवाली बाते 
  7. निगरानी और शाडोविंग क्या होता है ? किसी के ऊपर निगरानी कब रखी जाती है ?
  8. अपराधिक सूचना कलेक्ट करने का स्त्रोत और सूचना कलेक्ट करने का तरीका
  9. चुनाव के दौरान पुलिस का कर्तव्य
  10. थाना इंचार्ज के चुनाव ड्यूटी सम्बंधित चेक लिस्ट

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Add