Sponser


Tuesday, March 11, 2014

Police Duties(पुलिस कर्तव्य)

Following duties will be discussed  in this post
    i.     VIP सुरक्षा ड्यूटी
   ii.     VIP एस्कॉर्ट ड्यूटी
  iii.     मीटिंग रैली प्लेस ड्यूटी
  iv.     VIP हेलीकाप्टर सुरक्षा ड्यूटी.
   v.     कैदी एस्कॉर्ट ड्यूटी
  vi.     डाक ड्यूटी
 vii.     गस्ती ड्यूटी
viii.     बैंक ड्यूटी
  ix.     टेलीफोन ओपरेटर ड्यूटी.
   x.     संतरी एवं गार्ड ड्यूटी
  xi.     मेलो तथा ग्रामिद बाज़ार हटो में पुलिस ड्यूटी.
 xii.     घाट ड्यूटी
xiii.     पिकेटिंग  एवं नका बंदी ड्यूटी
xiv.     बस स्टैंड सिक्यूरिटी ड्यूटी
 xv.     इलेक्शन ड्यूटी
xvi.     सांप्रदायिक दंगा या फसाद के दौरान पुलिस ड्यूटी.
xvii.     भूमि विवाद के समय ड्यूटी.
xviii.     सांस्कृतिक समारोह एवं खेल  के दौरान ड्यूटी
xix.     बाढ़ के समय ड्यूटी
 xx.     आगजनी के समय ड्यूटी
xxi.     महामारी के दौरान ड्यूटी.



गन मन की ड्यूटी:
    i.     अपने उस व्यक्ति के सुरक्षा के प्रति वफादार होना चाहिए जिसके साथ लगाया गया है.
   ii.     ड्यूटी का पायबंद होना चाहिए.
  iii.     शारीरिक तौर पे फिट होना चाहिए.
  iv.     दुस्मानो को पहचाननेवाला होना चाहिए
   v.     हथियार की पूर्ण जानकारी होनी चाहिए.
  vi.     हर समय सावधान एवं तैयार होना चाहिए.
 vii.     आत्म विश्वास से पूर्ण होना चाहिए.
viii.     समझदार व हर बात को गुप्त रखने वाला ठंडे स्वाभाव से कम करने वाला
  ix.     घटिया बात चित में सामिल नहीं होना चाहिए.
   x.     अपना कमजोर पहलु किसी को नहीं बताना चाहिए.
  xi.     उस व्यक्ति को कभी अकेला नहीं छोड़ना चाहिए जिसके प्रति आप डिटेल्ड है.
VIP आवास पर सुरक्षा ड्यूटी.
    i.     घर का एकही दरवाजा खुला रहेगा जिससे वह अन्दर बहार आ जा सके अन्य सभी दरवाजे बंद रहेंगे.
   ii.     खुले दरवाजे पर एसी जगह खड़ा होना जिस स्थान से हर आने जाने वाले व्यक्ति पर निगाह  रख सके.
  iii.     VIP से मिलने आये अगन्तुओ को भली बहती जाँच कर के ही मिलने देना
  iv.     किसी व्यक्ति को अन्दर बैग, या कोई और संदिग्ध सामान के साथ उंदर नहीं जाने देना चाहिए.
   v.     शक्की और अजनबी व्यक्तियों को निकट नहीं आने देना चाहिए.
VIP के सफ़र के समय ड्यूटी:
    i.     वाहन को चेक करना और सही पाने पे ही उसमे VIP को बैठना चाहिए.
   ii.     वाहन का दरवाजा अच्छी तरह से बंद होना चाहिए. खिडकिय अन्दर बहार से अच्छी तरह से बंद होनी चाहिए.
  iii.     VIP की सिट बदलने का सलाह देना चाहिए.
  iv.     रस्ते में कही अम्बुश का सामना करना पड़े तो तुरंत जबाबी कारवाही  करनी चाहिए. तथा किल्लिंग जों से VIP को बचाते हुवे बाहर निकलना चाहिए.
   v.     यदि वाहन कही रुकी हूवी है तो पहले अपने उतर कर देखना चाहिए की क्या बात है और अपना पोजीशन लेलेना चाहिए.
  vi.     यदि वाहन पे हमला होता है तो VIP को सितो के बिच छुपने को बोलकर अन्दर से बैगर रुको बहार के दिशा में फायर करना चाहिए.
 vii.     गंतव्य जगह पे पहुचने पर पहले अपने उतर का मुयायना करना चाहिए तब VIP को उतरने देना चाहिए.
viii.     सुनसान जगहों पे वाहन को कभी भी नहीं रुकने देना चाहिए.
  ix.     अपनी हत्थियार हमेश तयारी पोजीशन में रखना चाहिए.
   x.     बेक मिरर से हमेश पीछे देखते रना चाहिए.
मीटिंग वाले जगहों पर सुरक्षा :
    i.     सभा स्थल तथा उसके आस पास के इलाके को मेटल डिटेक्टर , मिने स्वीपर, एक्स्प्लोसिवे डिटेक्टर आदि द्वारा चेक कर लेना चाहिए.
   ii.     चेक करने के पश्चात उसकी पूर्ण निगरानी रखने ताकि कोई वह बोम नहीं रख सके.
  iii.     सभा स्थल में दाखिल होने वाले दरवाजो पर मेटल डिटेक्टर लगाया जय जहा से होकर प्रत्येक व्यक्ति को गुजरनी चाहिए.
  iv.     मेटल डिटेक्टर के साथ HHMD भी लेकर एक सिपाही खड़ा होना चाहिए जो किसी व्यक्ति का बैग या सामान चेक काना चाहिए.
   v.     आवश्यकता अनुसार वाचरो की ड्यूटी लगायी जाये. आउटर रिंग राउंड की ड्यूटी भी लगायी जाये.
  vi.     VIP के कार के पास ड्यूटी करना.
 vii.     स्टेज की सीढिया , स्टेज के दोनों तरफ तथा पीछे की तरफ ड्यूटी लगाना.
viii.     स्टेज के निकट जितनी भी उच्ची इमारते है या बृक्ष, पानी टंकी आदि को चेक कर लेना.
हेलिपैड एवं एअरपोर्ट पर सुरक्षा
    i.     किसी प्रकार के जानवर सुरक्षा दाएरे में न आये
   ii.     अपरिचित व्यक्तियों को प्रवेश से रोकना चाहिए.
  iii.     हलिपद के आसपास झाड़ी हो तो उसे चेक कर लेना चाहिए.
कैदी एस्कॉर्ट ड्यूटी:
    i.     कैदी को एस्कॉर्ट के दौरान उचित आरक्षी संरक्षण में ले जाये.
   ii.     आवश्यकता अनुसार हथकड़ी का एवं रस्सा का व्यवहार किया जाना चाहिए.
  iii.     हत्कड़ी और रस्से का जाँच कर लेना चाहिए.
  iv.     कैदी को निजी बहनों एवं उनके सगे संबंधियों के साथ नहीं ले जाना चाहिए.
   v.     कैदी को थाना से कोर्ट ले जाते समय सभी जरुरी कागजातों को चेक कर लेना चाहिए.
  vi.     कैदी के पास से मिला हुवा सामान को जेलर के पास जमा कर के जमा पावती ले लेना चाहिए.
 vii.     कैदी को एस्कॉर्ट करते समय उसे कभी भी फ्री नहीं छोड़ना चाहिए.
डाक ड्यूटी
    i.     डाक जहा लेना हो वह के लिए आर्डर ले लेना चाहिए.
   ii.     डाक को येता अविलम्ब पहुचना चाहिए क्योकि सम्बन्ध आवश्यक कागजात या सुचना विलम्ब से पहुचने पर आवश्यक कार्य में रुकावट आ सकती है.
  iii.     जिस व्यक्ति या कार्यालय से डाक सम्बंधित हो वही उसे पहुचना चाहिए और रसीद प्राप्त कर लेना चाहिए.
  iv.     किसी भी डाक को खोल कर नहीं देखना चाहिए.
   v.     डाक को ले जाने में पूरी सतर्कता बरतनी है ताकि वह कही गम न हो जाये.
  vi.     जिस कार्यालय में डाक जमा करना है वह अगर कोई वापसी डाक हो या अन्य आवश्यक डाक लाना हो उसे लेलेना चाहिए.
गस्ती ड्यूटी .
    i.     गस्ती के दौरान आरक्षी निर्दिष्ट क्षेत्रो में गस्ती करना चाहिए.जहा के लिए आपको आदेश मिला है.
   ii.     गस्ती हेतु निर्धारित समयावधि तक गश्ती करना चाहिए.
  iii.     गश्ती के दौरान अपने क्षेत्रो के फरारी, दागियो तथा सक्रीय व संधिग्ध आपराधियो पर निगरानी तथा आवश्यकतानुसार गिरफ्तारी करना चाहिए.
  iv.     गस्ती के दौरान अंजन व्यकियो से पूछ ताछ तथा आसूचना संग्रह करना चाहिए.
   v.     गस्ती के दौरान शराब, जुवा घरो, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, रेस्ट रूम , बाज़ार बैंक यदि पे विशेष निगरानी रखनी चाहिए. अवैध शराब तथा जुवा के स्थानों को तोड़ने का कम करना चाहिए.
  vi.     गस्ती के क्रम में विधि व्यवस्था की समस्या या किसी संज्ञेय  आराध की असंका, भूमि विवाद यदि की स्तिथि होने पर अविलम्ब थाना प्रभारी एवं वरीय पदाधिकारी को सुचना देनी चाहिए.
 vii.     नाईट गस्ती हेतु आदेश मिलने पर अपराध प्रभावित इलाको , सडको सक्रीय अप्रध्कर्मियो, दंगयियो पर निगरानी रखते हुवे सघन गस्ती करनी चाहिए,
viii.     गस्ती के दौरान कोई पदाधिकारी हो तो उसके आदेश का पालन करना चाहिए.
  ix.     गस्ती को सिर्फ एक खाना पूर्ति या रुतिनेवार्क न समझ कर इसे गंभीरता से तथा पूर्ण सचेत एवं उत्साह के साथ करना चाहिए क्योकि इसे कारगर ढ़ंग से दूरगामी प्रभाव एवं लाभ मिलता है.
   x.     गस्ती के दौरान मोहला तथा ग्राम के व्यक्ति को विश्वास में लेकर उनसे क्षेत्रो के सम्बन्ध में अपराधियो की आवाजाही आदि की जानकारी लेना चाहिए.
बैंक ड्यूटी :
    i.     सम्बंधित बैंक में निर्धारित समय पर अपनी लगायी गयी ड्यूटी पर तैनात हो जाना चाहिए.
   ii.     ड्यूटी के दौरान कैंपस में आने जाने वालो पर नजर रखना चाहिए. संदिग्ध होने पे उसे बैंक परिसर में आने का कारन पूछना चाहिए. अगर जवाब संतोषप्रद नहीं लगे तो ठाणे में उसकी जानकारी देना चाहिए और उस व्यक्ति को अपने पास तब तक बैठा के रखना चाहिए जब तक की ठाणे से कोई आ न जाये.
  iii.     संकट की या विशेष परिस्थियों में सुझबुझ से कम लेते हुए जितने जल्दी हो सके ठाणे को खबर करना चाहिए.
  iv.     ड्यूटी के दौरान अपनी ड्यूटी से ही मतलब रखे. बैंक के किसी दुसरे कार्यो में दखल न दे.
   v.     कोई ऐसी बात जिससे खतरा हो सकता है उसे बैंक प्रबंधन को और ठाणे को खबर करे.
  vi.     बैंक सयेरन, टेलीफोन ठीक स्थिति में है या नहीं इसकी जाच कर बैंक प्रबंधन से उसे दुरुस्त करिए.
 vii.     बैंक के बहार चाय, पण, ठेला यदि के पास अनावश्यक संदिग्ध प्रतीत होने वाले लोगो की जाच करे.
टेलीफोन ऑपरेटर की ड्यूटी :
    i.     सभ्य रूप से परिचय दे तथा टेलेफोन कर्ता का परिचय ले.
   ii.     सन्देश का तुरंत पालन करे .
  iii.     वरीय पदाधिकारी नहीं रहने पर प्राप्त सन्देश को लिखे तथा पदाधिकारी के आने पर शीघ्र सन्देश से आवगत कराये.
  iv.     टेलीफोन का दुरूपयोग न करे.
   v.     फजूल के बातो में टेलीफोन को व्यस्त न रखे.
  vi.     बोलते समय आवाज़ को धीमी रखे.
 vii.      संछिप्त में बातचीत करे.
viii.     अगर बात एक बार में समझ में न आये तो दुबारा  पूछ ले.
  ix.     शिस्टाचार का परिचय दे.
x.   अति आवश्यक सन्देश को उच्च प्राथिमिकता दे
संतरी एवं गार्ड :गार्ड व्यक्ति या जवानों के उस समूह को कहते है जिन्हें किसी स्थान, व्यक्ति एवं सम्पति की रक्षा हेतु लगाया गया हो जबकि संतरी गार्ड के जवानों में से एक या अधिक जवानों को कहते है जिन्हें एकही समय में किसी एक स्थान पे ड्यूटी के लिएय तैनात किया गया हो.अर्थात संतरी किसी एक गार्ड का एक हिस्सा होता है.
संतरी ड्यूटी
    i.     संतरी ड्यूटी पे तैनात आरक्षी की वर्दी साफ-सुथरी व कायदे की होनी चाहिए.
   ii.     पुलिस ठाणे में आने वाले व्यक्तियों से सभ्यता से बात करनी चाहिए.
  iii.     अपनी ड्यूटी पूरी चुस्ती के साथ खड़ा रह कर ही करनी चाहिए.
  iv.     कैदियों, मालखाना, सरकारी सम्पति पर निगरानी रखना चाहिए.
   v.     ठीक समय पे हथियार लेना और जमा करना चाहिए.
  vi.     ड्यूटी के दौरान धुम्रपान नहीं करना चाहिए.
 vii.     जिस किस की रक्षा के लिए आपकी ड्यूटी लगायी गयी हो उसकी रक्षा करना अपना परमधर्म समझना चाहिए.
viii.     जब कोई कुछ पूछे तो उसे सही जबाब देना चाहिए.
  ix.     ड्यूटी पे जाने के बाद अपने ड्यूटी की एरिया का पूरा मुयाना कर लेना चाहिए.
   x.     रात  के समय अगर ड्यूटी कर रहे है और कोई आपके तरफ आ रहा है और आप नहीं पहचानते तो उसे दूर से ही रोक कर पूछना चाहिए और सही जबाब देने पर ही उसे पास आने देना चाहिए नहीं तो आपने और साथियों को बुलाना चाहिए.
मेलो तथा ग्रामीण बजार में पुलिस ड्यूटी.
    i.     मेलो के अवसर पर लगातार पुलिस प्रबंध चलन चाहिए.
   ii.     समाज विरोधी तत्वों, विशेष कर लूटेरो, चोरो , जेबकतरों पर विशेष निगरानी रखना चाहिए.
  iii.     जहा अधिक भीड़ होने की संभावना है वह विशेष ध्यान रखना चाहिए.
  iv.     माइक द्वारा बिच बिच में लोगो को असमाजिक तत्वों के बारे में आगाह करते रहना चाहिए.
   v.     एक नियंत्रण कक्ष बनान चाहिए जहा किसी भी तरह की असुबिधा या अशांति की तुरंत सुचना दी जय सके.
  vi.     खोये हुए व्यक्तियों के बारेमे उद्घोषणा करना चाहिए.
 vii.     मेलो में जुवा और शराब यदि को रोकना चाहिए.
viii.     महिलाओ के छेड़छाड़ करने वालो गुंडों पर विशेष ध्यान रखना चाहिए.
  ix.     मेलो में सड़क लाइन, साइड पर ज्यादा से ज्यादा गस्त लगनी चाहिए.
   x.     रात्रि के समय दुकानदारो की दुकानों की सुरक्षा सुनिश्चित करना चाहिए.
  xi.     घायलों और वीमार लोगो को नजदीक के हॉस्पिटल में भेजना चाहिए.
ग्रामीण बाजारों में पुलिस ड्यूटी:
    i.     बाज़ार से सम्बंधित स्थान तथा वह पर जानेवाली सभी मार्गो की पूर्ण जानकारी रखनी चाहिए.
   ii.     ग्रामीण बाज़ार में आने जानेवाले ग्रामीण के भेष में शंदिग्ध या अपराधी भी हो सकते है.इस पर विशेष ध्यान रखना चाहिए.
  iii.     शाम के समय छिना झपटी की घटनाये अधिक होती है ऐसे में विशेष सतर्कता आवश्यक है.
  iv.     गाँव के समानित व्यक्तियों तथा बाज़ार संचालक के संपर्क में रहना चाहिए.
   v.     गाँव की सभी शरारती तत्वों , दागियो की सूचि तैयार कर उन पर विशेष निगरानी रखनी चाहिए.
घाट ड्यूटी:
    i.     घाटो पे नहाने वालो को नदी के बहाव की ओर जाने से रोके
   ii.     गोताखोर सिपाही को हर समय डूबता एवं बहते हुवे लोगो को बचाने के लिए तैयार रखे.
  iii.     जो स्थान स्त्रियों को नहाने के लिए निश्चित है उसमे पुरुष का प्रवेश वर्जित करे.
  iv.     तीर्थ स्थान पे धार्मिक भावना भड़काने वाला कोई कार्य न करे.
   v.     कच्चे पूल पे अधिक भीड़ न होने दे.
पिकेटिंग एवं नाकाबंदी
    i.     रैली एवं बड़े समारोहों के समय वाहन चेकिंग, तलाशी एवं फ्रिश्किंग ड्यूटी.
   ii.     Anti dacoity picket duty
  iii.     रेड अलर्ट ड्यूटी
  iv.     पूर्ण रूप से सतर्कता वर्तनी चाहिए.
   v.     चोरी के वाहनों के नंबर की जानकारी रखनी चाहिए.
  vi.     रेड अलर्ट का पूर्ण व्योरा रखना चाहिए.
 vii.     बरिकेट को अच्छे से लगनी चाहिए.
viii.     वांछित सुचना के अधर पे ही चेकिंग करनी चाहिए.
  ix.     अधिकारियो से निरंतर संपर्क बनाये रखना चाहिए. सुचना से हट कर कोई जानकारी हो तो वरीय अधिकारियो को सूचित करना चाहिए.
   x.     सभी नागरिको से अच्छा व्यवहार करना व चेकिंग की जानकारी देना चाहिए.
  xi.     नागरिको की सुविधा का पूरा ख्याल रखना चाहिए.
नाकाबंदी ड्यूटी;
    i.     सुचना एवं नका पॉइंट का गुप्त रखना चाहिए.
   ii.     वर्दी या पहने हुए वस्त्र में कोई चमकीली वास्तु न रखे.
  iii.     सुचना की पूर्ण जानकारी रखना चाहिए.
  iv.     नका लगाने के बाद कोई बातचीत नहीं करना या हरकत न करना और इशारो में ही बात करना.
   v.     नियत्रण/ घेरे में आने से पहली अपराधियों को नहीं छेड़ना चाहिए.
  vi.     निर्धारित कोड वार्ड को फोल्लो करे.
 vii.     अपराधी की पूरी तलाशी के बाद ही गिरफ्तार करे.
viii.     निर्दोष को कभी भी तंग न करे.
  ix.     किसी प्रकार का अत्याचार न करे.
बस स्टैंड की ड्यूटी:
    i.     यात्री विश्रमयालय की निगरानी रखे.
   ii.     आने जाने वाले यात्रियों पर नजर रखे ताकि उनमे कोई संदिग्ध बाख कर न निकल जाये.
  iii.     यात्रियों का सुरक्षा निश्चित करे.
  iv.     सामानों यदि में कुछ संदिग्ध लेन तो उसका जाँच करे.
   v.     बस स्टैंड पर सभी यात्री बसों के आगमन प्रस्थान के समय उपस्थित रहे.
  vi.     बस में सफर करने वाले अपराधियों या संदिग्धों की जानकारी मिलने पे इसकी सुचना थाना को दे.
 vii.     बस स्टैंड से कोई अपने क्षेत्र में सक्रीय अपराधी के बारे में कोई सुचना मिले तो थाना को बताये.
viii.     खानाबदोश गिरोह की सुचना मिलने पर उसकी निगरानी रखे.
    i.     बस स्टैंड के अन्दर कोई अबैध शराबखाना, जुवाघर आदि की सुचना मिलने पर जाँच करे और उसके बाद अपने थान को बताये.
   ii.     बस स्टैंड पे शांति बनाये रखना चाहिए.
  iii.     बस स्टैंड पर भिकारियो, कुलियों के वेश में अपराधिक या असमाजिक तत्वों की सुचना मिलने पे उसकी जाँच करे.
  iv.     बस में अधिक भीड़ की स्तिथि में इसकी सुचना थाना को दे.
   v.     बस कंडक्टर को अपेक्षित सहायता करे.
  vi.     तस्करी करने वाले गिरोह पे नजर रखे.
भूमि विबाद के समय ड्यूटी:
    i.     उच्चाधिकारी के आदेश का पालन करे.
   ii.     निषेधाज्ञ लगाये गए जगह पे जाकर शांति बनाये रखना तथा दोनों पक्षों को उसका उलंधन करने से रोकना
  iii.     उलंधन करने वालो की सुचना थाना या उचाधिकरियो को देना.
  iv.     फसल काटने के समय ड्यूटी के समय विशेष सावधानी वर्तना.
चुनावी ड्यूटी;
    i.     आरक्षियो को चुनाव कानूनों के बारे में जानकारी होना चाहिए.
   ii.     चुनाव के दौरान आरक्षी ड्यूटी मिलती है उसे सर्वाधिक महत्पूर्ण समझ कर निभाना चाहिए. उससे बचने का कभी कोशिश नहीं करना चाहिए.
  iii.     चुनाव के क्रम में आरक्षी की जहा के ड्यूटी लगती है वह के बारे में स्थानीय थाना प्रभारी या पुलिस से समुचित जानकारी ले लेना चाहिए.
  iv.     आरक्षी केंद्र में ब्रीफिंग के दौरान यदि कोई शंका हो तो उसको तुरंत दूर करा लेना चाहिए.
    i.     चुनाव यदि उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र में करना हो तो अम्बुश एवं आ.ई.डी. से बचने का निर्देश का पालन करना चाहिए.
   ii.     पोलिंग स्टेशन पर किसी भी राजनैतिक दल के खाने पिने की वास्तु ग्रहण न करे.
  iii.     पोलिंग स्टेशन के 600 गज के दायरे में व्यकियो की भीड़ न होने दे.
  iv.     भीड़ के बिच में स्वयं को न रखे.
   v.     सशत्र बल में रहने पर बूथ के पीछे एवं सामने पूरी मुस्तैदी से संतरी ड्यूटी करे ताकि प्रत्येक दिश से आने जाने वालो पर निगरानी रख सके.
  vi.     मतदान के समय लाइन लगाके मत गिराने की व्यस्था करना चाहिए.
 vii.     किसी भी स्तिथि में बूथ कैप्चरिंग न होने दे. इसलिए जो भी आवश्यक कारवाही हो किया जय.
viii.     एसे अफवाह का खंडन करे जिससे आम जनता में तनाव तथा गुटवाजी को बढ़ावा मिलता हो.
  ix.     चुनाव कर्तव्य पर प्रतिनियुक्ति सिविल कर्मी के साथ तालमेल रखना चाहिए.
   x.     मत पेटियो को जमा करने तक उनकी पूर्ण सुरक्षा करे.
सांप्रदायिक दंगो या अशांति के दौरान ड्यूटी;
    i.     दंगा विरोधी संसाधनों को अपने साथ रखना तथा उनके उपयोग की पूरी जानकारी होनी चाहिए.
   ii.     निष्पक्ष पूर्वक ड्यूटी करना चाहिए.
  iii.     वरीय पदाधिकारियों के आदेश के बिना अपने ड्यूटी स्थल नहीं छोड़ना.
  iv.     संवेदनशील स्थानों/क्षेत्रो पर चौकसी रखना चाहिए.
   v.     कम से कम एवं उचित बल प्रयोग करना चाहिए.
सरकारी भवनों एवं अन्य सार्वजनिक सम्पतियो की सुरक्षा करना चाहिए.
    i.     ड्यूटी के दौरान पूरी पुरे मनोयोग से कार्य करना चाहिए.
   ii.     उग्र भीड़ में अस्माजोक दुश्चरित्र एवं सद्भाव बिगड़ने वाले व्यक्तियों पर निगाह रखना.
  iii.     घायलों की अविलम्ब मेडिकल सुविधा देना चाहिए.
  iv.     साम्प्रदायिक अफवाहों को त्वरित खंडन करे.
   v.     उच्च पदाधिकारी के आदेश का अनुपालन करे.
  vi.     यदि परा मिलिटरी या सेना की प्रतिनियुक्त होतो उनके साथ पूरा सहयोग करे तथा मार्गदर्शन करना चाहिए.
 vii.     आवश्यक सुचंये इकठा करना चाहिए.
भीड़ जुलुश कण्ट्रोल ड्यूटी.
    i.     भीड़ किस कारन जुटी है इसका पूर्ण विवरण प्राप्त करना चाहिए.
   ii.     यदि किसी अफवाह के कारन भीड़ लगी हो तो लोगो का संदेह दूर कर भीड़ को ख़त्म करने का प्रयाश करना चाहिए.
  iii.     लोगो के साथ अच्छा व्यवहार करना चाहिए.
  iv.     यातायात को सुचारू रूप से चलाना चाहिए.
   v.     निश्पक्ष्तापुर्वाक ड्यूटी करना चाहिए.
  vi.     उच्च अधिकारियो के आदेश का पालन करना चाहिए.
 vii.     भीड़ में महिलायों एवं बच्चो पर विशेष ध्यान देना चाहिए
viii.     उतेजना दिलाने पर भी शांत रहना चाहिए.
  ix.     एसी बात या भाषा का इस्तेमाल नहीं करना जिससे भीड़ उतेजित हो.
   x.     जब तक भीड़ हिंसक न हो तब तक हथियार का प्रयोग नहीं करना चाहिए.
  xi.     आग्नेयाश्त्र चलने से पहले अश्रुगैस , लाठी चार्ज का इस्तेमाल करना चाहिए एवं मैजूदा सक्षम अधिकारी के आदेश पर ही पूरी कारवाही करनी चाहिए.
सांस्कृतिक समारोह एवं खेल के दौरान ड्यूटी:
    i.     समारोह स्थल के आसपास यातायात की व्यवस्था सुचारू ढंग से करना.
   ii.     गाडियों की उचित पार्किंग की व्यवस्था करना.
  iii.     यदि समारोह में कोई महत्पूर्ण व्यक्ति आ रहे हो तो उसकी सुरक्षा की व्यस्था करना.
  iv.     विनम्र व्यवहार करना.
   v.     असामजिक तत्वों पर पूर्ण निगरानी रखन.
  vi.     समारोह स्थल के आसपास कोई शीघ्र ज्वलनशील वास्तु तो नहीं है इस्पे ध्यान रखना.
 vii.     अपने ड्यूटी के दौरान चुस्त-दुरुस्त, धैर्य्पुर्वाक तथा अनुशाशन में रहना.
viii.     खेल के मैदान में अवांछनीय तत्वों के प्रवेश पर रोक लगाना.
बाढ़ के समय बचाव कार्य ड्यूटी.
    i.     तैरक आरक्षी को अपने साथ जीवन रक्षक बेल्ट अवश्य रखना चाहिए.
   ii.     तुरंत बचाव कार्य में लगकर बाढ़ से घिरे व्यक्तियों को सुरक्षित स्थान में पहुचना चाहिए.
  iii.     बाढ़ में प्रभावित व्यक्तियों को तुरंत उचित प्राथमिक उपचार देना चाहिए.
  iv.     अपराधिक तत्वों प् कड़ी निगरानी रखना चाहिए.
   v.     उचाधिकरियो से निरंतर संपर्क बनाये रखना चाहिए.
  vi.     राहत समग्रिः को उचित रीती से बताना चाहिए.
 vii.     स्वयेम  सेवी संस्थायो से सहायता लेनी चाहिए.
viii.     आवश्यक दवायों तथा एनी स्वास्थ्य सेवाए लोगो को उपलभ करना चाहिए.
  ix.     बिना स्वामित्व वाली सम्पति का सुरक्षा करना चाहिए.
   x.     लाश यदि को निकलवाना एवं अन्त्येशी यदि की व्यवस्था करनी चाहिए.
आगजनी के समय ड्यूटी:
    i.     आगजनी की सुचना मिलने पर अविलम्ब घटना स्थल पर पहुचना चाहिए.
   ii.     आग को फैलने से रोकना चाहिए.
  iii.     आग में फंसे लोगो को निकलने का प्रयास करना चाहिए.
  iv.     जख्मी व्यक्तियों को प्राथमिक सहायता प्रदान करना चाहिए तथा तुरंत अस्पताल भिजवाने की व्यवस्था करना चाहिए.
   v.     लोगो की भीड़ जमा होने से रोकना चाहिए.
  vi.     फायर ब्रिगेड के कार्य में सहयोग करना चाहिए.
 vii.     खाद्य, पेयजल की व्यवस्था करवाना चाहिए.
viii.     आग लेन की सुचन मिलने पर तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचित करना चाहिए तथा वरीय पदाधिकारी को सुचना देना चाहिए.
  ix.     आवश्यक सेवायो, वरीय पदाधिकारियों का टेलीफोन नोम्बेर  सदैव पास में रखे.
   x.     अग्नि से प्रभावित मकानों के आसपास के सभी अवरोध को हटाने में मदद करे.
  xi.     अग्नि कांड स्थल से यातायात को दूर रखे.
 xii.     जलाशय पर ड्यूटी करे ताकि फायर ब्रिगेड को अपने कार्य करने में कोई दिकत न हो.
महामारी के समय ड्यूटी:
    i.     महामारी के समय उपस्थित चिकित्षक के डालो को हर संभव सहायता करे .
   ii.     दवाओ का वितरण डाक्टर के सलाहानुसार ठीक ढंग से बत्वाना चाहिए.
  iii.     ज्यादा बीमार को तुरंत अस्पताल पहुचना चाहिए.
  iv.     निषेध खाद्य एवं पेय पदार्थ के सेवन को सख्ती से रोकना चाहिए.
   v.     अफवाहों को फैलने से रोकना चाहिए.
  vi.     लाशो, पशुओ के शवो को निपटना चाहिए.
 vii.     स्वास्थ्य व्यक्तियों को पीड़ित व्यक्तियों से अलग रखे.
प्राकृतिक आप्दयो के सम्बन्ध में ड्यूटी;
    i.     अपराधिक प्रवृति के व्यक्तियों पर विशेष निगरानी रखना चाहिए.
   ii.     अफवाहों को फैलने से रोकना चाहिए.
  iii.     महिलाओ, बच्चो, वृद्धो तथा कमजोर व्यक्तियों के विशेष रूप से सुरक्षा देना चाहिए.
  iv.     आवश्यक सेवाओ को जरी रखने में मदद करना चाहिए.
   v.     अनावश्यक भीड़ को हटाना चाहिए.
  vi.     निष्पक्ष से कार्य करना चाहिए.
 vii.     प्रभावित व्यक्तियों के धन सम्पति का रक्षा करना चाहिए.
viii.     उच्च अधिअक्रियो के आदेश एवं निर्दे के अनुसार कार्य करना चाहिए. मृतक पशुओ या जीव जो काफी साद गल गये हो उन्हें तुरंत हटवाना चाहिए ताकि वातावरण प्रदूषित न होरहत सामग्री का उचित रूप से आवंटन करना चाहिए


No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...