Search

1.11.2021

टोपोग्राफिकल फॉर्म्स | टेकरी क्या होता है ?| NCC कैडेट के लिए भी उपयोगी

 पिछले ब्लॉग पोस्ट में हमने कुछ टोपोग्राफिकल टर्म्स जैसे सैडल क्या होता है और उसे मैप पे कैसे दिखाया जाता है उसके बारे में जेकरि शेयर की और आज के इस पोस्ट में हम उसी शृंखला को आगे बढ़ाते हुए  हुए जानेगे की टेकरी और डिवाइड क्या होता है और उसे मैप पर कैसे दिखया जाता है ! 

इस  ब्लॉग पोस्ट को पढ़ने के बाद आप निम्न टोपोग्राफिकल फॉर्म के बारे में पूरी तरह से वाकिफ हो जायेगे ! जो की निचे दी हुई है :

1. टेकरी या नॉल क्या होता है और उसे मैप पर कैसे दिखाया जाता है ?

2. डिवाइड क्या होता है ?

3. जल विभाजक या वाटर शेड क्या होता है ?

4. जल प्रवाह मार्ग या वाटर सोर्स क्या होता है ?

5. डिफायल क्या होता है ?

इसे  भी पढ़े :अपना खुद का लोकेशन मैप पे जानना और नार्थ पता करने के तरीके

 टेकरी या नोल (Knoll): वह अकेली पहाड़ी नोल कहलाती है जिसका किसी पहाड़ी सिलसिले से कोई सम्बन्ध नहीं होता है ! इसकी कंटूर रेखाए गोल होती है और ऊंचाई कम होने से आमतौर पर एक ही कंटूर से दिखाई जाती है ! इस मैप के ऊपर निम्न तरीके से दिखाया जाता है :

Tekari 
2.   डिवाइड(Divide):-लंबी और ऊंची पर्वत श्रेणी कि उस  ऊँची उठी  पीठ को डिवाइड कहते हैं जहां से पानी दो अलग-अलग दिशाओं को बहने लगता है।

 जल विभाजक या वाटर सेड(Water Shed):-जब किसी पर्वत श्रेणी का ऊंचा भाग जो जल प्रवाहो को अलग करें उसे जल विभाजक या वाटर सेड कहते हैं। यह जरूरी नहीं कि वाटर शेड के लिए पर्वतीय श्रृंखला का सबसे ऊंचा भाग हो। इसे मैप पर निम्न प्रकार से दिखाते है !

Water Shed 

4. जल प्रवाह मार्ग या वाटर कोर्स(Water Course):-किसी इलाके में सबसे नीची जगह जल प्रवाह मार्ग कहलाती है जहां से होकर उस इलाके का पानी बहता  है। यह  सुखा भी हो सकता है और पानी से भरा भी हो सकता है!

 5. डिफायल(Defile) : किसी रास्ते के उस तंग भाग को डिफायल कहते है जिससे पार  होने के लिए सेना को अपनी फॉरमेशन छोटी करनी पड़े. डिफायल कुदरती वह बनावटी दोनों होती है:-
  • कुदरती पहाड़ियों के तंग रास्ते या दर्रा घने जंगल आदि  
  • बनावटी पूल सुरंग आदि

इस प्रकार से टोपोग्राफिकल फॉर्म जैसे टेकरी , डिवाइड आदि  से सम्बंधित या ब्लॉक पोस्ट समाप्त हुआ और उम्मीद है कि यह आप लोगों को लिए उपयोगी साबित होगा। अगर यह मेरा ब्लॉक ब्लॉक पोस्ट आपको पसंद आया हो तो मेरे ब्लॉक को शेयर और सब्सक्राइब करें और अगर कोई सुझाव मेरे ब्लॉक पोस्ट के बारे में हो तो नीचे के कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पर लाइक करें और हम लोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोत्साहित करें।

इन्हे भी पढ़े :
  1. मैप रीडिंग की अवाश्काताये तथा मैप का परिभाषा
  2. 15 जरुरी पॉइंट्स मैप को सही पढने के लिए
  3. मैप कितने प्रकार के होते है ?
  4. कंपास को सेट करना तथा इस्तेमाल करने का तरीका
  5. कंटूर रेखाए क्या है ? एक मैप की विश्वसनीयता और कमिया किन किन बाते पे निर्भर करती है ?
  6. मैप रीडिंग में दिशाओ के प्रकार और उत्तर दिशा का महत्व
  7. दिन के समय उत्तर दिशा मालूम करने का तरीका
  8. कन्वेंशनल सिग्न ,कन्वेंशनल सिग्न के प्रकार , कन्वेंशनल सिग्न बनाने का तरीका
  9. रात के समय उत्तर मालूम करने का तरीका
  10. सर्विस प्रोटेक्टर का परिभाषा और सर्विस प्रोटेक्टर का प्रकार
  11. सर्विस प्रोटेक्टर का उपयोग और सर्विस प्रोटेक्टर से बेक बेअरिंग पढने का तरीका

No comments:

Post a Comment