Sponser

Search

Thursday, November 5, 2020

शत्रु फायर के निचे आने पर क्या करवाई करनी चाहिए?

पिछले पोस्ट में हमने सेक्शन बैटल ड्रिल के दौरान सुरु सुरु की करवाई के बारे में जानकारी प्राप्त की अब इस पोस्ट में हम सेक्शन बैटल ड्रिल से सम्बंधित एक नै पोस्ट के बारे में जानेगे की सेक्शन बैटल ड्रिल के दौरान अगर शत्रु के कारगर फायर के अंदर आ जाते है तो क्या करवाई करेंगे (shatru ke kargar fire ke niche aane par kya karwai karni chahie ?)!

सेक्शन कमांडर जैसे हीवह आगे बढ़ता है तो लगतार इन चीजों के लिए देख भाल करेगा :

  • फायर कण्ट्रोल आर्डर देने के लिए नयी रिफरेन्स पॉइंट चुनता है , जैसे ही सेक्शन आगे बढती है तो वह इस रिफरेन्स पॉइंट अपने जवानों को बतलायेगा !
  • ऐसे मुमकिन पोजीशन जहाँ की सेक्शन शत्रु के कारगर फायर के निचे आने पर पोजीशन ले सकती है अगर मुमकिन हो तो ऐसा पोजीशन सेक्शन कमांडर पहले से ही बता देगा, मसलन अगर सेक्शन शत्रु के कारगर फायरके निचे आ जाती है तो ब्रेन ग्रुप उन झाडियो में और राइफल ग्रुप बांध के साथ पोजीशन पकड़ेगी !
  • कारगर फायर के अन्दर आने पर कुदरतन जवान ज़मीन पर लेट जाने के अदि होते है !यह गलत है क्यों की जब टारगेट खुले मैदान में होता है तभी शत्रु फायर खोलता है ! सबसे बेहतर करवाई यह होगी की जल्दी से भाग कर मुनासिब पोजीशन पकड़ी जाये ताकि शत्रु के लिए एक मुस्किल टारगेट बने !इस तरह करवाई करने से कण्ट्रोल टूट जाने का खतरा है लेकिन अगर निचे लिखी हिदायतों पर गौर किया जाए तो कण्ट्रोल नहीं टूटेगा !
  • आड़ पकड़ने का हुकुम सेक्शन कमांडर के तरफ से हुकुम के तौर पे यानि “आड़ पकड़ो” दिया जाये !
  • आड़ पकड़ने का हुकुम मिलने पर हर एक आदमी नजदीक आड़ को दौड़ के पकड़ेगा या उस आड़ की तरफ जायेगा जो की सेक्शन कमांडर ने पहले से बताई थी ! कोई भी आदमी 15 गज से ज्यादा आड़ पकड़ने के लिए नहीं दौड़ेगा  सिवाए उस हालत के जब की सेक्शन कमांडर की बताई हुई आड़ दूर हो !
  • सब आदमी तेज़ी से आड़ पकड़ेंगे और रेंग कर मुनासिब पोजीशन में जायेंगे ताकि दोबारा उस को हरकत करनी पड़े तो यह न हो की शत्रु पहले से ही उस जगह पर शिस्त लिए हुए हो.
  • हर एक आदमी देख भाल कर के पोजीशन अख्तियार करेगा !अगर कोई आदमी सेक्शन कमांडर की आवाज़ न सुन सके तो रेंग करके नजदीक आएगा .
  • अगर किसी आदमी को दुश्मन की पोजीशन का पता लग जाता है तो बगैर सेक्शन कमांडर के हुक्म का इन्तेजार किए हुए फायर करेंगे !
जब की शत्रु के साथ लगाव हो जाता है तो सेक्शन कोई आदमी बेकार नहीं बैठेगा ! हर एक आदमी में लड़ने का जोश होना चाहिए और वह नीच की करवाई में से कोई एक कम करते रहने चाहिए :

(i)   फायरिंग

(ii)   या देखभाल

(iii)  या देखभाल करने के लिए नै पोजीशन को हरकत

(iv)  या नई फायरिंग पोजीशन की हरकत

(v)   या असाल्ट के लिए हरकत

·  सिवाए बारें नो-1 और 2 के जब की ज़रूरी हो बाकि आदमी एक वक्त में इकठे होकर टारगेट नहीं बनेगे ! खुले इलाके में दिन के समय एक आदमी से दुसरे का दुर्मियाँ ५ गज से कम फासिला नहीं होना चाहिए !

·      सेक्शन कमांडर के तरफ से आड़ पकड़ो के हुकुम पर यह करो

“ दौड़ो,लेटो,रेगो ,देखो,, साईट लगाओ और फायर करो “

इस प्रकार से से शत्रु  फायर के निचे आने पर क्या करवाई करनी चाहिए से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की आप को पसंद आएगी !इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित !

इसे भी पढ़े : 
  1. ऑपरेशनलन आर्डर क्या होता है और ऑपरेशनल आर्डर पास करने के तरीके
  2. वर्बल आर्डर देनेका तरतीब और तरीका क्या होता है ?
  3. वर्बल आर्डर में जमीनी निशान देने का तरीका क्या होना चाहिए ?
  4. फौजी टैक्टिकल वर्ड गुरिल्ला बैंड और गुरिल्ला बेस क्या होता है ?
  5. काउंटर इन्सेर्जेंसी पेट्रोलिंग और कन्वेंशनल पेट्रोलिंग में अंतर
  6. CI पेट्रोलिंग के प्रकार और CI पेट्रोलिंग के लिए जरुरी बाते
  7. CI ऑपरेशन के दौरान की पेट्रोलिंग करते समय ध्यान में रखनेवाली कुछ मुख्य बाते
  8. ड्राइव एंड हंट ऑपरेशन क्या होता है ?
  9. ड्राइव एंड हंट ऑपरेशन की पहले स्टेज में की जानेवाल...
  10. ड्राइव एंड हंट ऑपरेशन के स्टेज-2 की करवाई और पार्...

No comments:

Post a Comment