Sponser

Search

Wednesday, March 27, 2019

आड़ फिट लिम्बर अप से क्या समझते है ?

पिछले पोस्ट में हमने SSG-69 स्नाइपर राइफल के ज़ेरोइंग के बारे में जानकारी प्राप्त की आब इस पोस्ट में हम एक छोटे से क्वेश्चन का जवाब देने का कोसिस करूँगा जो मेरे कुछ पाठक जानना  चाहे है ! 



आज जब मैंने अपना अकाउंट ओपन किया तो वह पाया की बहुत से पाठक है उन्होंने ये सवाल छोड़ा था की "लिम्बर अप से आप क्या सझते है ?" तो इस सवाल का जवाब मै आज देने का कोशिस करूँगा और चाहुगा की जिन लोगो ने ये सवाल किया है उनको जवाब मिल जाये !


इस सवाल का जवाब को अच्छी तरह से समझने के लिए हमने इसे निम्न हिस्से में बता है :
Aad fit limber up
Aad fit limber up
1. लिम्बर अप कमांड : यह कमांड फायरिंग रेंज पर फायर  करते समय दिया जाता है ! जब फायरर लेट के पोजीशन से फायर करने वाला होता   है तो  उस समय कमांड दिया जाता है " लेट के पोजीशन या लायिंग पोजीशन " और  इस कमांड पर जैसे ही फायरर लायिंग पोजीशन अख्तियार करता है  तो उस समय एक दूसरा कमांड दिया जाता है "आड़ फिट लिम्बर अप (Aad fit limber up)"! 

जैसे की हम जानते है की जब भी लायिंग पोजीशन से फायरिंग रेंज पे फायर किया जाता है तो सैंड बैग या किसी न किसी चीज का सपोर्ट ले कर ही फायर करते है ! बहुत बार ऐसा होता है की फायरर जब लेट के पोजीशन अख्तियार करता है तो वह सैंड बैग के आड़ (cover) में इतना पीछे छुप जाता है की उसे टारगेट अच्छी तरह से दिखाई नहीं देता है  और उसी पोजीशन से फायर करने का कोशिश करता है तो  उसे सही टारगेट पर निशान लेने के लिए कमांड दिया जाता है "आड़ फिट लिम्बर अप " जिस का मतलब होता है की जो सैंड बैग है उसे अच्छी तरह से अपनी सुविधा के अनुसार फिट करो और लिम्बर का मतलब होता है बॉडी का ऊपर वाला हिस्सा उसे आड़ (cover) के अनुसार ऊपर या निचे  करके अच्छी तरह से पोजीशन बनाओ की दिया हुवा कवर के आड़ से अच्छी तरह से एम ले कर टारगेट के ऊपर एम के साथ फायर कर सको !


2. आड़ फिट लिम्बर अप के कमांड पे करवाई(aad fit limber up ke command pe karwai) : जैसे आदेश मिलता है की आड़ फिट लिम्बर अप तो उसपे कर वी इस प्रकार से करते है की राइफल को आड़ के ऊपर रख कर टारगेट के ऊपर एम लेते है और देखते है की तो आड़ यानि सैंड बैग  सपोर्ट के लिए दिया गया है उसके इस्तेमाल करने में कोई तकलीफ तो नहीं हो रही है और अपने सुविधा के नुसार सैंड बैग को फिट करते है और अपने बॉडी को उस आड़ के अनुसार आगे पीछे कर के दुरुस्त पोजीशन अब्नाते है ताकि फायरिंग के दौरान कोई तकलीफ न हो जिससे के फायर करते समय कोई तकलीफ हो जिससे की आपका फायर करते समय टारगेट  से ध्यान हट जाये और गोली टारगेट को अच्छी तरह से हिट न कर पाए !

 इस आदेश पर  फायर को चाहिए की सैंड बैग और अपनी बॉडी के टारगेट के अनुसार एडजस्ट करे और अपने बॉडी के आस पास कोई कंकड़ या चुभने वाली बस्तु हो उसे भी साफ कर दे !  ये सब करवाई  बहुत ही चटकी से किया जाता है !

3. लिम्बर अप का मतलब होता है(Limber up se aap kya samjhte hai ) फायरर को अपनी बॉडी का ऊपर वाला हिस्सा को आड़ या सपोर्ट के उनुसार ऊपर करे ताकि निशान लेते समय पोजीशन अच्छी बने और बिना किसी तकलीफ से दुरुस्त फायर कर सके !


इस प्रकार से आज हमने लिम्बर अप के बारे में जानकारी प्राप्त किया !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित !

इसे भी पढ़े : 
  1. SSG-69 राइफल को भरना और खाली करने का तरीका
  2. SSG-69 राइफल को रेडी, मेक सेफ और खाली कर का तरीक...
  3. 7.62 mm MMG के माउंट ट्राई पोड की करवाई के समय ध्...
  4. 7.62 mm MMG के फायर आर्डर का क्रम और वक्फा के दौरा
  5. 7.62 mm MMG के टारगेट का नाम और MMG में पडनेवाले र...
  6. 7.62 mm MMG को फायर के लिए तैयार करते समय ध्यान मे...
  7. 6 महत्वपूर्ण बाते 84 mm मोर्टार के बारे में
  8. 5 जरुर जाननेवाली बाते 81 mm मोर्टार के बारे में ?...
  9. 81 mm मोर्टार के 10 छोटी छोटी बेसिक बाते
  10. 5 मुख्य बाते 81 mm मोर्टार के फायर कण्ट्रोल से सम


1 comment:

  1. Wow, that'ѕ what Ι was looking for, what а materiаl!
    present here at this weblog, thankѕ admin of this web
    page.

    ReplyDelete