Sponser

Search

Tuesday, March 25, 2014

One Minute Drill- एक पैर पे खड़ा होकर जूता का लेस बंधना

पिछले पोस्ट में हमने एक  मिनट ड्रिल के क्लासिफिकेशन के बारे में जानकारी प्राप्त की और इस पोस्ट में हम जानेगे की की एक पैर पे खड़ा होकर जूता की लेस को बंधना वला एक मिनट ड्रिल कैसे कंडक्ट करते है !

जरुर पढ़े: ड्रेस बदलना थोड़े समय में 

जैसे की हम जानते है की एक जवान के रोजाना के ड्यूटी में  एकग्रता की बहुत ही अहम रोल होता है ! इस लिए इस तरह के एक मिनट ड्रिल के द्वारा जवान के अन्दर एकग्रता और बैलेंस कैसे कायम रखे उस का प्रैक्टिस इस एक्सरसाइज के द्वारा कराया जा सकता है !

इस one minute drill  में एक जोड़ी में जवानों को एक पैर पे सीधे खड़ा कर के उन्हें जूता या बूट लेस बंधने को कहा जाता है.

(Source of pic: 1MD Book)
  • ड्रिल का नाम:              एक पैर पे खड़ा हो कर जूता बंधना
  • Participant   :               एक या एक से ज्यादा जवान 
  • सामान :                      जूता लेस के साथ 


कैसे कराये :  इस ड्रिलके दौरान जवानों से बोले की ओ एक पैर पे सीधा खड़ा हो कर सामने देखते हुवे अपनी बैलेंस बनाते हुए अपे पैर की जीते या बूट की लेस को सही तरीके से बंधे और इस दौरान ये भी ध्यान से सुने  की और क्या क्या बोला जाता है और जब अपना जुटे का लेस बढ़ ले तो इस दौरान जो सन्देश बोला गया है!


 उसे रिपीट करे. इस ड्रिल को gradually करना चाहिए जिसमे पहले जवान तो लेस निचे देखते हु बंधने देना चाहिए उसके बाद फिर सामने देखते हुवे और अंत में सामने देखते हुवे और इस दौरान कुछ और आदेश दे और फिर ड्रिल ख़त्म होने पर उस दिए हुवे आदेश को फिर से सुने. 

फायदे: इस ड्रिल से एक जवान के अन्दर बॉडी बैलेंस बनाते हुवे क्लियर व्यू और मानसिक सजगता  की माजदा पैदा होता है. इससे जवान के अन्दर बहुमुखी (Multi tasking) होने का बढ़ावा मिलता है.यह   ड्रिल  जवान को हमेश सजग, watchful और हाई डिग्री सिक्यूरिटी कोन्सिअस  रहने का गुण पैदा  करता है. इस ड्रिल  के  फायदे उन जवानों को ज्यादा है जो सहरी क्षेत्र में सीरियस लॉ & आर्डर  या गहन CI ऑपरेशन में तैनात है.

इस प्रकार से एक पैर पे खड़ा होकर जूता बढ़ने से सम्बंधित एक मिनट ड्रिल संपत हुई !उम्मीद है की ये पोस्ट पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे  और इस ब्लॉग को सब्सक्राइब तथा फेसबुक पेज  लाइक करके हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे बेहतर लिखने के लिए !

इसे भी जरुर पढ़े 

No comments:

Post a Comment