Search

14 October 2022

9 mm पिस्टल की चाल और रोके और उसे दूर करने का तरीका

 पिछले ब्लॉग पोस्ट में हमने 9 mm पिस्टल का फायर करने जानकारी प्राप्त की और अब इस इंटीग्रेटेड वेपन ट्रेनिंग के इस लेसन में हम 9 mm पिस्टल की चाल और रोके और उसे दूर करने का तरीका  का इंटीग्रेटेड वेपन ट्रेनिंग के लेसन को सरल शब्दों में जाएँगे (9 mm Pistol ki chaal aur roke aur use dur karne ka tarika ka IWT saral shabdo me  ) ! इस पोस्ट को आसान बनानके लिए हमने इसे कांस्टेबल के बेसिक ट्रेनिंग में जिस क्रमबद्ध तरीके से सिखाया जाता है उसी क्रम में लिखेगे! 

1. शुरू-शुरू का काम -
  • (क) क्लास की गिनती और गुपों में बाँट
  • (ख) हथियार और सामान का निरीक्षण
  • (ग) बंदोबस्ती की कार्यवाही 
2 दोहराई :- पिस्टल के रेडी और फायर से लिया जाय।
3. पहुँच :-9 एम.एम. पिस्टल शॉट रिक्वाइल के सिद्धांत पर काम करता है। इसका बैरल छोटा होता है।
इसलिए इस हथियार के हादसों से बचने के लिए इसकी चाल को जानना जरूरी है, ताकि किसी मुठभेड़ या फायरिंग रेंज में पड़नेवाली रोकों को जल्दी से दूर किया जा सके। पिस्टल में पड़ने वाली रोकों को तभी दूर किया जा सकता है. जब इसकी चाल के बारे में मालूम हो तथा रोकों को दूर करने का अभ्यास किया हो।
4. उद्देश्य:-9 एमएम पिस्टल की चाल, पड़ने वाली रोकें तथा उन्हें दूर करने का तरीका सिखाना है
(उद्देश्य को दोहराये) ।
5. सामान :-9 एमएम पिस्टल, मैगजीन. ड्रील कार्टिज, लाइनिंग यार्ड, पिस्टल केश, टारगेट फिगर 11
और ग्राउण्डशीट।
6. भागों में बाँट :-
  • भाग 1- हिस्से-पुर्जे के नाम और काम।
  • भाग 2- पिस्टल की चाल।
  • भाग 3- रोकों को दूर करना।

भाग 1- हिस्से-पुर्जे के नाम और काम :

पिस्टल को मुख्यतः तीन बड़े भागों में बाँटा गया है- 1. फ्रेम 2 स्लाइड 3. बैरल ।
पोजीशनल लैग :- यह बैरल के पीछे और ऊपर होता है, इसका काम बैरल और स्लाइड को लॉक करना है।
लॉकिंग पीस :-रिसीवर पर फ्रेम इस प्रकार माउंट होता है कि जब बैरल पीछे की हरकत करता है तो इसका काम बैरल को नीचे की तरफ खींचना है।
ट्रिगर मैकेनिज्म के हिस्से-पुर्जे :- ट्रिगर ट्रिपिंग लीवर. ट्रिपिंग लीवर टेल, सियर लीवर, सेफ्टी कैच और स्लाइड के अन्य भाग।
पिस्टल की चाल:- पिस्टल की चाल 8 एक्शन में पूरा होता है।

पीछे की चाल में 4 एक्शन-
  • अनलॉक,
  • एक्सट्रेक्ट,
  • इजेक्ट एवं
  • कॉक
और आगे की चाल में 4 एक्शन-
  • फीड,
  • लोड,
  • लॉक
  • और फायर।
पीछे की चाल :- फायर हुए राउण्ड से पीछे की ओर धक्का लगता है. जिसे रिक्वाइल कहते हैं। इस धक्के से ब्रिज ब्लॉक, स्लाइड और बैरल एकसाथ पीछे की हरकत शुरू करते हैं। इस दौरान सियर लीवर का अगला हिस्सा ट्रिगर लीवर के नोज के पिछले भाग से पीछे हो जाता है। स्लाइड और बैरल एकसाथ पीछे की हरकत करने के बाद बैरल नीचे की ओर चला जाता है और स्लाइड से अलग हो जाता है। यहाँ पर अनलॉक की कार्रवाई पूरी होती है। स्लाइड के पीछे की हरकत जारी रहती है। इस दौरान एक्सट्रेक्टर खाली केश को पकड़कर पीछे लाता है। इसे एक्सट्रेक्ट की कार्रवाई कहते हैं। खाली केश इजेक्टर से टकराकर इजेक्शन स्लॉट से दाहिनी ओर नीचे गिर जाता है. कार्रवाई इजेक्ट की होती है। रिटर्न लिंग सिकुड़ जाता है और स्लाइड चैम्बर के ऊपर से गुजरता है. जिससे हैमर कॉक हो जाता है, कार्रवाई कॉक की होती है। जब स्लाइड रिसीवर में लगे फॉरवर्ड लेग से टकराता है. यहाँ पर पीछे की चाल पूरी हो जाती है।

आगे की चाल-सिकुड़ा हुआ रिटर्न स्प्रिंग अपनी तनाव को पूरा करता है, तो स्लाइड को आगे धकेलता है, इस दौरान ब्रिज ब्लॉक का फीड पीस मैगजीन के ऊपरवाले राउण्ड को धकेलकर चैम्बर में दाखिल करता है। इस कार्रवाई को फीड कहते हैं। एक्सट्रेक्टर चैम्बरवाले राउण्ड को मुंह में पकड़ लेता है, इस कार्रवाई को लोड की कार्रवाई कहते हैं। ब्रिज ब्लॉक के दबाव से बैरल आगे की हरकत करता है, जिससे केश के नीचे वाली सतह पर लॉकिंग पीस का जोड़ पड़ता है और ब्रिज ब्लॉक ऊपर उठ जाता है, जिससे बैरल का लौकिग लेग स्लाइड के लोकिग रिसस में फस जाता है और बरल लाकहा जाता है। इस लोक की कार्रवाई कहते हैं । इस दौरान ब्रिज ब्लॉक और बैरल आगे की हरकत करते हैं। स्लाइड के साथ सियर लीवर आगे की हरकत करता है और ट्रिगर लीवर को आगे धकेल देता है, जिससे सियर लीवर के नीचे आ जाता है, ट्रिगर दबाने पर ट्रिगर लीवर ऊपर उठता है. जिससे कि सियर लीवर का अगला सिरा ऊपर दबता है और पिछला सिरा नीचे दबता है। रिसीवर में लगे लेग सियर पर जोड़ डालता है, चैम्बर लिंग की ताकत से आगे की ओर ऊपर की हरकत करता है, जिससे हैमर ब्रिज ब्लॉक में लगी फायरिंग पिन के पिछले सिरे पर ठोकर मारता है और गोली फायर हो जाती है. इसे फायर की कार्रवाई कहते हैं।
रोकों को दूर करना:- अगर पिस्टल शुरू से फायर न करे या फायर के दौरान रोक पर जाता है, तो फायर न होने के ये कारण हो सकते हैं।
  • (क) खाली मैगजीन-पिस्टल में आखरी राउण्ड फायर होने के बाद स्लाइड पूरा पीछे रुक जाता है। फायर के दौरान स्लाइड और हैमर पूरा पीछे दिखाई दे तो खाली मैगजीन की रोक समझकर खाली मैगजीन को उतारे भरी मैगजीन को चढ़ाएँ और फायर करें।
  • (ख) मिसफायर- हैमर और स्लाइड पूरा आगे हो तो राउण्ड को मिसफायर समझकर पिस्टल को कॉक करे और फायर जारी करें।
  • (ग) अनफिट राउण्ड -हेमर पूरा पीछे हो और स्लाइड चैम्बर से थोड़ा पीछे हो तो अनफिट राउण्ड समझकर स्लाइड के पीछेवाले भाग पर थपकी लगायें जिससे अनफिट राउण्ड चैम्बर में फिट हो जाएगा। पिस्टल को फायर में शामिल करें।
  • (घ) बॉडी में रोक- स्लाइड पूरा आगे और हैमर पूरा पीछे हो तो बॉडी की रोक समझकर कार्रवाई करें। मैगजीन को निकालें. पिस्टल को दाहिने टर्न करें, स्लाइड को पीछे खींचें जिन्दा राउण्ड या खाली केश बाहर गिर जाएगा । अगर न निकले तो पिस्टल को हिलायें, निकल जाने के बाद फायर जारी करें।
अन्य रोकें :
  • (क) गंदा मैगजीन या खराब एम्युनिशन – फिट एवं फायर न होना ।
  • (ख) टूटा फायरिंग पिन-फायर न होना, राउण्ड के पेंदे पर चोट नहीं।
  • (ग) फिट न होना- भरने में रुकावट, पुर्जी की सही हरकत नहीं होना।
रोकों को कम करने के लिए कार्रवाई :
  • (क) मैगजीन लिप्स एवं स्प्रिंग को चेक करें।
  • (ख) फायरिंग पिन को पीछे से धकेलकर चेक करें ।
  • (ग) एक्सट्रेक्टर साफ और टूटा न हो ।
संक्षेप :- रोकों को दूर करने का सभी जवानों से अभ्यास करायें। अभ्यास के दौरान सवाल-जवाब भी साथ किये जाएँ।

इसके साथ ही 9 mm  पिस्टल का चाल और रोके तथा दूर करने का तरीका    से  सम्बंधित IWT का पाठ समाप्त हुवा !उम्मीद है की आपलोगों के ए पोस्ट पसंद आएगी ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब या फेसबुक पेज को लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे! 

इन्हें भी पढ़े :
  1. Basic data of 5.56mm INSAS and It characteristics.
  2. 5.56mm INSAS ki chal in hindi , 5.56mm INSAS की चाल हिंदी में.
  3. 9 mm पिस्तौल ब्राउनिंग का बेसिक टेक्नीकल डाटा
  4. 7.62 mm एसएलआर राइफल की खुबिया और खामिया
  5. 9 mm पिस्तौल का खुबिया और खामिया
  6. .303 LE राइफल का इतिहास
  7. Lee Enfield .303राइफल का टेक्नीकल डाटा
  8. Lee Enfield 303राइफल की खूबिय और खामिया
  9. 9 mm कार्बाइन मचिन या सब मचिन गन का इतिहास और खुबिया
  10. 9mm कार्बाइन का टेक्नीकल डाटा -II


No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Add