Search

11 October 2022

9 mm पिस्टल की सुरक्षा , खोलना ,जोड़ना, भरना और खाली करना का इंटीग्रेटेड वेपन ट्रेनिंग के लेसन को सरल शब्दों में

पिछले ब्लॉग पोस्ट में हमने  9 mm पिस्टल की परिचय और बेसिक डाटा  के बारे जानकारी प्राप्त की और अब इस इंटीग्रेटेड वेपन ट्रेनिंग के इस लेसन में हम 9 mm पिस्टल  की सुरक्षा , खोलना ,जोड़ना, भरना और खाली करना का इंटीग्रेटेड वेपन ट्रेनिंग के लेसन को सरल शब्दों में जाएँगे (9 mm Pistol ki surksh, kholna, safail, jodna, bharna aur khali karna ka IWT saral sabdo me  ) ! इस पोस्ट को आसान बनानके लिए हमने इसे कांस्टेबल के बेसिक ट्रेनिंग में जिस क्रमबद्ध तरीके से सिखाया जाता है उसी क्रम में लिखेगे! 

1. शुरू-शुरू का काम -

  • (क) क्लास की गिनती और गुपों में बाँट
  • (ख) हथियार और सामान का निरीक्षण
  • (ग) बंदोबस्ती की कार्यवाही

2 दोहराई :-पिस्टल की विशेषताएँ और सीक्यूबी. पर किये जायें।

3. पहुँच :-अचानक और कम रेंज पर निकलनेवाले टारगेट को जल्दी से बर्बाद करने के लिए यह जरूरी है कि पिस्टल के मैगजीन को भना-खाली करना और सफाई प्रत्येक जवान को आना चाहिए, ताकि जरूरत पड़ने पर पिस्टल को खोलकर टूट-फूट की बदली और सफाई किया जा सके। यह तभी संभव है, जब हर जवान पिस्टल को खोलना, जोड़ना और सफाई करना अच्छी तरह जानता हो।

4. उद्देश्य -9 एम.एम. पिस्टल को खोलना, सफाई, जोड़ना, भरना और खाली करने का तरीका सिखानाहै (उद्देश्य को दोहराये) ।

5. सामान :-9 एमएम पिस्टल, मैगजीन, 9 एम.एम. ड्रील काट्रिज, पिस्टल केश, क्लिनिंग रॉड, चिन्दी, टारगेट फिगर 11 और ग्राउण्डशीट।

6. भागों में बाँट -

  • भाग 1- पिस्टल की सुरक्षा. खोलना, सफाई और जोड़ना।
  • भाग 2- मैगजीन को भरना और खाली करना।
  • भाग 3-पिस्टल को भरना और खाली करना।

7.अच्छी आदतें - पिस्टल इस्तेमाल करनेवाले जवान को चंद एक अच्छी आदतों पर अमल करना चाहिए

  • (क) बंद पिस्टल को हमेशा भरा हुआ समझा जाय।
  • (ख) पिस्टल को किसी को देते या लेते समय निरीक्षण किया जाय।
  • (ग) निरीक्षण करने के बाद ट्रिगर दबाते समय बैरल आसमान की तरफ रखी जाय, जब पिस्टल भरा हुआ हो तो हैमर को आगे के पोजीशन में रखा जाय।
  • (घ) जब फायर करने की जरूरत न हो तब अंगुली को ट्रिगर पर न रखा जाय।
  • (ड) पिस्टल का मजल किसी साथी की तरफ या ऐसे हालात में जहाँ फायर करने से कोई हादसा हो सकता है न किया जाय । 
  • (च) पिस्टल के साथ नाजायज छेड़छाड़ न किया जाय और इसे बगैर जरूरत केश से बाहर न निकाला जाय।

भाग 1- पिस्टल की सुरक्षा, खोलना, सफाई और जोड़ना

सुरक्षा :-

(क) परख पिस्टल पर कार्रवाई

(i) पिस्टल को केश से निकालें (पिस्टल किस हाथ से निकाली जाये, यह फायरर के मास्टर हाथ

पर निर्भर है)।

(ii) मजल ऊपर की तरफ और कलमे वाली अंगुली ट्रिगर गार्ड पर ।

(iii) दाहिने हाथ के अंगूठे से मैगजीन कैच को दबाएँ और बायें हाथ से मैगजीन को उतारें (पाउच या

केश में रखें)।

(iv) बायें हाथ से स्लाइड को पूरा पीछे खींचें और स्लाइड के लॉकिंग लीवर कटाव को दाहिने हाथ

के अंगूठे से पिछलेवाले हिस्से को अगलेवाले कटाव में मिलाएँ।

(v) मैगजीन को लें और मैगजीन प्लेटफार्म को आगे की ओर रखते हुए बायें हाथ की हथेली पर

मैगजीन को रखें। पिस्टन और मैगजीन का निरीक्षण करें और वापस पिस्टल का हुक्म दें।

(ख) वापस पिस्टल पर कार्रवाई

  • (i) बायें हाथ की मदद से मैगजीन को चढ़ये (ध्यान रहे कि मैगजीन खाली है)।
  • (ii) बायें हाथ से स्लाइड को थोड़ा पीछे खींचें और दायें हाथ के अंगूठे से ही स्लाइड लॉकिंग लीवर को नीचे की तरफ दबाएँ और स्लाइड को आगे की तरफ जाने दें। 
  • (iii) बैरल को सामने सुरक्षित दिशा में करके ट्रिगर प्रेश करें और पिस्टल को वापस केश में रख दें।

पिस्टल को खोलना :- खोलने से पहले यकीन कर लेना चाहिए कि पिस्टन में भरी मैगजीन नहीं चढ़ी है तथा पिस्टल पर रस्सी लगी हो तो खोल दें।

  • (i) मैगजीन कैच दबाते हुए मैगजीन को निकालें।
  • (ii) बायें हाथ से स्लाइड को पूरा पीछे खींचें और स्लाइड के आगे वाले कटाव में सेफ्टी कैच को लगायें।
  • (iii) स्लाइड लॉकिंग लीवर के पिछले हिस्से को ऊपर दबाते हुए पिस्टल के दाहिने तरफ वाले पिनको अंदर दबाते हुए उसे निकालें ।
  •  (iv) बायें हाथ से स्लाइड को पीछे रोके रखें और दाहिने हाथ के अंगूठे स सेफ्टी कैच को नीचे की तरफ दबायें और स्लाइड पर कन्ट्रोल रखते हुए उसे आगे जाने दें और बॉडी से अलग करें । 
  • (v) स्लाइड को उल्टा करके बायें हाथ से पकड़ें और दाहिने हाथ से मेन स्प्रिंग को मजल की तरफ खींचते हुए मेन स्प्रिंग और गाइड को बाहर निकालें। 
  • (vi) बैरल को थोड़ा पीछे और ऊपर को उठाते हुए निकालें। 
मैगजीन को खोलना:-  बटम प्लेट को ऊपर उठाते हुए और स्प्रिंग पर काबू रखते हुए प्लेट, स्प्रिंग और प्लेटफार्म को बाहर निकालें इससे ज्यादा पिस्टल को न खोला जाय तथा खोले गये पुर्जे को साफ जगह

सफाई :-सफाई में काम आनेवाले सामान- चिन्दी, क्लियरिंग रॉड या पुलभू ब्रश. साफ कपड़ा और सूत।

  • (i) मौसम को ध्यान में रखते हुए पिस्टल की सफाई करें ।
  • (ii) पिस्टल को सीखे हुए तरीके से खोलें।
  • (iii) बैरल और चैम्बर की सफाई के लिए (10x712 am) चिन्दी का इस्तेमाल करें तथा (10x5 cm) चिन्दी का इस्तेमाल करते हुए तेल लगायें। 
  • (iv) चिन्दी. सूत और ब्रश की मदद से पिस्टल के बॉडी और अन्य हिस्सों को भी साफ करें। यकीन करें धूल, गर्दा तथा पुराने तेल के दाग साफ हो गये हैं। 
  • (v) यदि मैगजीन गीला या ज्यादा गंदा हो गया हो, तो मैगजीन की सफाई करें। ध्यान रहे कि मैगजीन को बार-बार न खोला जाय। 
  • (vi) पिस्टल के अन्दर और बाहरी हिस्सों पर हल्का तेल लगायें । 
  • (vii) पिस्टल को जोड़ें और स्लाइड को आगे-पीछे हरकत दें ताकि सभी पुर्जा में तेल बराबर हो जाय। 
जोड़ना :-जोड़ने की कार्रवाई इस प्रकार की जाय - 

  • (i) मैगजीन का जोड़ना-सिंग को पहले प्लेटफार्म पर लगायें और प्लेटफार्म का मोटा वाल मैगजीन के सामने की तरफ रखते हुए सिंग और प्लेटफार्म को मैगजीन में डालें। स्प्रिंग पर काबू रखते हुए बटम प्लेट का कैच वाला हिस्सा आगे की तरफ रखते हुए बटम प्लेट को खिसकाएँ.  यकीन करें कि बटम प्लेट सही जगह पर बैठ गया है। 
  • (ii) पिस्टल को जोड़ने से पहले यकीन करें कि पिस्टल के हिस्से-पूर्जे का नम्बर सही है। 
  • (iii) स्लाइड को बायें हाथ से उल्टा पकड़ते हुए बैरल को स्लाइड में डालें. मजल आगे की तरफ धकेल दें जबतक की बैरल ठीक से बैठ न जाय, फिर पीछे की ओर खींचें । 
  • (iv) प्लंजर का लूप नीचे की ओर रखते हुए मेन सिंग और प्लंजर को आपस में लगायें । 
  • (v) स्लाइड के निचले और पिछले हिस्से को पिस्टल के बॉडी पर बने हुए फ्रंट गाइड पर रखें और स्लाइड को इतना पीछे खींचें कि सेफ्टी कैच आगेवाले कटाव में लग जाये। 
  • (vi) लॉकिंग लीवर को स्लाइड के बॉडी पर लगायें और इतना दबायें कि सही तरीके से अपनी जगह पर बैठ जाय। 
  • (vii) यकीन करें कि लॉकिंग लीवर का पिछला हिस्सा नीचे हैं । स्लाइड को पीछे रोकते हुए सेफ्टी कैच को नीचे की तरफ दबाएँ और स्लाइड को आगे जाने दें। 
  • (viii)खाली मैगजीन को चढ़ाएँ और बैरल को ऊपर करके ट्रिगर प्रेस करें। अगर पिस्टल में लाइन यार्ड लगाना हो तो छोटी गाँठ को बट के रिंग में फंसायें बड़ी गाँठ को दाहिने या बायें कंधे में डालें। 

भाग 2- मैगजीन को भरना और खाली करना 

मैगजीन को भरना:- यकीन करें कि मैगजीन और राउण्ड साफ है, मैगजीन में खराबी न हो, जिससे फायर के दौरान रुकावट पड़े। मैगजीन को भरते समय राउण्डों की गिनती की जाय।  बायें हाथ से मैगजीन को ऐसे पकडें कि मैगजीन का छोटावाला भाग अपनी तरफ हो मैगजीन प्लेटफार्म के अगलेवाले किनारे को राउण्ड के पेंदे से दबाते हुए दोनो लीप्स के नीचे से आगे खिसकाओ। बायें हाथ के अंगूठे से राउण्ड के पेदे को दबाते हुए अन्य राउण्ड ऊपरवाले राउण्ड पर रखते हुए नीचे और आगे की तरफ करें। हर राउण्ड को भरते समय यकीन किया जाय कि राउण्ड का पेदा मैगजीन की दीवार के साथ लगा हुआ है। इस प्रकार मैगजीन में 13 राउण्ड भरे जाते हैं।

मैगजीन को खाली करना:- बायें हाथ से मैगजीन को इस तरह पकड़ें की राउण्ड का बुलेटवाला हिस्सा नीचे की तरफ हो। अंगूठे से राउण्डों को एक-एक करके बाहर निकालें और उन्हें साफ जगह पर रखे। गिनती करें व डिच में वापस बंद करें। मैगजीन को वापस पिस्टल केश में रखें और केश को बंद करे। ऐसी हालात में जब मैगजीन को भरा हुआ रखने की जरूरत पड़े तो समय व हालात के अनुसार दिन में एक दफा खाली करके रख दिया जाये ताकि मैगजीन का किंग सही काम करे (अगर सफाई करने की जरूरत हो तो मैगजीन व राउण्डों को साफ करें)

नोट - क्लास को मैगजीन भरने व खाली करने पर अभ्यास लिया जाये।

भाग 3-पिस्टल को भरना और खाली करना

भरना:-पिस्टल भर के आदेश पर पिस्टल गिप को पकड़ते हुए पिस्टल को केश से बाहर निकालें, भर पोजीशन अख्तियार करें। मजल को सुरक्षित दिशा में रखते हुए कलमे वाली अंगुली को ट्रिगर गार्ड के आर-पार रखें। दाहिने हाथ के अंगूठे से मैगजीन कैच को दबाते हुए खाली मैगजीन को उतारें और केश में रखें, केश से भरी मैगजीन को निकालें और मैगजीन वे में बैठायें और यकीन करें कि मैगजीन ठीक से फिट हो गया है। पिस्टल को शीघ्र ही इस्तेमाल में लाने की जरूरत न हो तो पिस्टल वापस केश में रखे और केश बंद करे।

खाली करना - अगर पिस्टल से फायर न करना हो या हुक्म मिले खाली कर तो कार्रवाई इस प्रकार करे -

  • (क) होल्स्टर से पिस्टल निकालकर (निकाल पिस्टल के हुक्म पर) भर पोजीशन में लाये।
  • (ख) मैगजीन कैच दबाते हुए पिस्टल से भरी मैगजीन को निकालें और होल्स्टर में रखें।
  • (ग) पिस्टल को बाथी तरफ घुमाएँ, स्लाइड के पिछले हिस्से को पकड़ें और पीछे खींचें स्लाइड को पीछे रोकते हुए चेम्बर का मुलाहिजा करें। अगर बॉडी और चेम्बर खाली हो तो स्लाइड को आगे जाने दें। 
  • (घ) खाली मैगजीन को चढ़ाएँ और ट्रिगर को प्रेस करें। पिस्टल को वापस होल्स्टर में बंद करें।

अभ्यास- पिस्टल भरने और खाली करने का क्लास से अभ्यास कराया जाय।

संक्षेप:- सवाल-जवाब द्वारा सबक को दोहराय जाय तथा क्लास के शक सवाल को दूर किया जाय।

इसके साथ ही 9 mm पिस्टल की सुरक्षा , खोलना, जोड़ना, भरना और खाली करना   से  सम्बंधित IWT का पाठ समाप्त हुवा !उम्मीद है की आपलोगों के ए पोस्ट पसंद आएगी ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब या फेसबुक पेज को लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे! 

इन्हें भी पढ़े :
  1. Basic data of 5.56mm INSAS and It characteristics.
  2. 5.56mm INSAS ki chal in hindi , 5.56mm INSAS की चाल हिंदी में.
  3. 9 mm पिस्तौल ब्राउनिंग का बेसिक टेक्नीकल डाटा
  4. 7.62 mm एसएलआर राइफल की खुबिया और खामिया
  5. 9 mm पिस्तौल का खुबिया और खामिया
  6. .303 LE राइफल का इतिहास
  7. Lee Enfield .303राइफल का टेक्नीकल डाटा
  8. Lee Enfield 303राइफल की खूबिय और खामिया
  9. 9 mm कार्बाइन मचिन या सब मचिन गन का इतिहास और खुबिया
  10. 9mm कार्बाइन का टेक्नीकल डाटा -II

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Add