Sponser


Saturday, January 30, 2016

5.56mm INSAS ki chal in hindi , 5.56mm INSAS की चाल हिंदी में.

7.62 एसएलआर राइफल के हटने के बाद ज्यादातर आर्म्ड फ़ोर्स के जवानों का व्यक्तिगत हथियार इंसास ही है इस लिए इसको हैंडल करने के साथ साथ ये कैसे काम करता है या 5.56 INSAS rifle चाल  हिंदी में  कैसे कम्पलीट होता है (How 5.56 INSAS rifle works)इसकी जानकरी एक जवान हो होना चाहिए! अगर एक जवान इसके हैंडलिंग और चाल के जानकारी में माहिर होगा तो उसे ऑपरेशन के समय पड़ने वाली रोको के कारन और निवारण जल्द से जल्द खुद कर सकता है और बिना समय जाया किये इस राइफल को फिर से फायर में सामिल का सकता है. 5.56mm INSAS rifle का चाल 8 भागो में पूरा होता है! और ये भाग निम्नलिखित है:       



5.56mm INSAS rifle is a made in India rifle which intended to replace 7.62 rifles from Police and armed force of India so after replacement it will be personal weapon of Jawan's of Police and Armed force there for it is duty for armed force personnel to know the operation and how work of 5.56mm INSAS rifle so they can  use it n better way with more precision. The 5.56mm INSAS rifle complete in operation in 8 moves and the moves are:


Fire-Unlock-Extract-Cock-Eject- Feed-Load-Lock

    (a)  FIRE- जब फायरर सेफ्टी लीवर को S से R पे करता है और ट्रिगेर को दबाता है तो हैमर आजाद होकर फायरिंग पिन के रिटेनर पे चोट मरता ई जिससे फायरिंग पिन अपने अपने सुराख़ से निकल कर राउंड के प्राइमर पे चोट मरती है और राउंड फायर हो जाता है इसे फायर की करवाई कहते है.
     (b)  UNLOCK- फायर से पैदा हवी गैस बुलेट को आगे की तरफ धकेलती है और ज्योही गैस वेंट के पास पहुचती है गैस की कुछ मात्रा गैस वेंट से होते हुवे सिलेंडर में दाखिल हो जाता है और सिलेंडर में दाखिल गैस पिस्टन के पिस्टन हेड  पे दबाव डालता है जिससे पिस्टन एक्सटेंशन  पीछे की हरकत करता है और इस हरकत के दौरान रोटेटिंग बोल्ट का केम केमवे में दाहिने से बाएँ इतना घूमता है की रोटेटिंग बोल्ट के लोकिंग लूग बैरेल एक्सटेंशन लॉकिंग सरफेस से अलग हो जाता है इसे UNLOCK की करवाई कहते है.
   
                          जरुर पढ़े : इंसास राइफल की रोके 

   (c)  EXTRACT- अनलॉक होने के बाद पिस्टन एक्सटेंशन का काम  येही ख़त्म नहीं होता है ओ रोटेटिंग बोल्ट के साथ पीछे का हरकत करता है इस दौरान एक्सट्रैक्टर फायर हुवे  केस को अपने मुह में पकड कर पीछे लता है जिसे हम EXTRACT की कार्वाही कह्ते है!
    (d)  COCK: चाल वाले पुरजो की हरकत जरी रहती है इसी दौरान पिस्टन एक्सटेंशन का स्टेम शुरू शुरू में हैमर को पूरा निचे दबा देता है जिसे सेफ्टी सियार का नोज हैमर वेंट फंस  जाता है और इसे हम कॉक  की कारवाही कहते है.
    (e)  EJECT: चाल वाले पुर्जे की इस हरकत के दौरान फायर्ड केस एजेक्टोर से टकरा के इजेक्शन स्लोट के रस्ते दाहिने और निचे गिर जाता है  इसे हम Eject की कारवाही कहते है.
    (f)   FEED: रेकोइल स्प्रिंग अपने हाउसिंग में सिकुड़ जाता है जब रेकोइल स्प्रिंग अपने तनाव को पुराकर्ता है तो पिस्टन एक्सटेंशन को आगे को धकेलता है इस दौरान रोटेटिंग बोल्ट का  फीड पिस मगज़ीन के ऊपर वाले राउंड को चैम्बर में दाखिल कर देता है इस करवाई को feed की कवाई कहते है.
     (g)  LOAD: एक्सट्रैक्टर राउंड के पेंदी पर सवार हो जाता है इसे हम Load की करवाई कहते है.

     (h)  LOCK: लोड के बाद भी पिस्टन एक्सटेंशन का कुछ करवाई बाकि रहता है उस बाकि हरकत को पूरा करने के दौरान रोटेटिंग बोल्ट कैम की मदद से कैम वे  में बाएँ से दाहिने इतना घूमता है की रोटेटिंग बोल्ट के लॉकिंग लूग बैरेल एक्सटेंशन लॉकिंग सरफेस के साथ लॉक हो जाता है ! इस करवाई को हम Lock की करवाई कहते है ! लॉक होने के बाद भी पिस्टन एक्सटेंशन की कुछ हरकत बाकि रहता है. जब पिस्टन अपनी आखरी हरकत पूरा करता है तो पिस्टन एक्सटेंशन का निचला ,पिछला और दाहिना पहलु सेफ्टी सियार हेड पर दबाव डालता है,जिससे सेफ्टी सियार का नौच हैमर वेंट से अलग हो जाता है और राइफल दुबारा फायर के लिए तैयार हो जाता है. 



     
      ये ब्लॉग पोस्ट  मेरे तरफ से रहा अगर आपके पास कुछ और पॉइंट्स  है जिसे आप इसमें जोड़ना चाहते है  तो उसे कमेंट बॉक्स में लिखे जिससे की दुसरे लोग पढ़ कर जानकारी हासिल कर सके और इस तरह से आप दुसरे को मदद कर सकते है.और अगर आप इस पोस्ट को लाइक करते है तो कृपया शेयर करे www.twitter.com या google plus पे जिससे की दुसरे भी इसे पढ़ सके.



No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...