Sponser


Wednesday, January 25, 2017

AK-47 राइफल की चाल और पड़ने वाले रोकें तथा उसे दूर करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने AK-47 राइफल भर, रेडी, फायर तथा खाली  करने के तरीके(AK-47 Rifle ko bharn, redy, fire ttha khali karne ka tarika ) के बारे में जानकारी शेयर की इस पोस्ट में हम AK-47 राइफल के चाल और उसमे पड़ने वाले रोके तथा उसे दूर करने का तरीका(AK-47 rifle ke chal aur usme padne wale roken ttha use dur karne ka tarika) के बारे में जानेगे 



अगर एक जवान को अक-47 राइफल की चाल और रोके के बारे में पूरी जानकारी हो और रोके को दूर करने के बारे में सब कुछ जनता हो तो वह किसी ऑपरेशन कम दौरान इस राइफल को और जावदा कॉन्फिडेंस के साथ इस्तेमाल करेगा तथा इस राइफल की जितनी खूबिया  है उसके सही इस्तेमाल  करेगा !

इसी लिए ये जरुरी है की जब कभी भी अक-47 की ट्रेनिंग दी जा रही हो जवानों की इसकी चाल और उसमे पड़ने वाले रोको के बारे में जरुर बताना चाहिए और रोको को दूर करने की तरीके का ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करना चाहिए !
इस पोस्ट को हम दो  भागो में पूरा करेंगे:
  1. AK-47 राइफल  की चाल  
  2. AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोक तथा उसे दूर करने का तरीका 
AK-47 का चाल(AK-47 rifle ki chaal)
 इंसास की चाल, AKM की चाल और AK-47 का चाल मिलता जुलता है तो जैसे  इंसास राइफल और AKM की चाल 8 भागो में पूरा होती है वैसे ही AK-47 का चाल 8 भागो में पूरा होता है और वो भाग इस प्रकार है !
AK-47 Rifle ke parts ka nam
AK-47 Rifle ke parts ka nam 

FIR-UNLOCK-EXTRACT-EJECT-FEED-LOAD-LOCK-COCK

  1. FIRE : फायर सिलेक्टर को जब फायरिंग पोजीशन पर करके जब ट्रिगर दबाते है तो ट्रिगर सियर का मिलाप टूट जाता है ! जिससे हैमर अपने एक्सेस पास घूम कर फायरिंग पिन रीटर्नर पर ठोकर मरता है . जिससे फायरिंग पिन अपने होल निकल कर चैम्बर वाले राउंड के पेंदे पर ठोकर मरता है जिससे गोली फिरेहो जाती है ! इस एक्शन को फायर का एक्शन कहते है!
  2. UNLOCK: गोली फायर होने पर गैस पैदा होती है , पैदा हुयी गैस बुलेट को बरेल में आगे धकेलती है जब बुलेट गैस वेंट के पास से गुजरती है तो कुछ गैग, गैस वेंट से होकर गैस सिलिंडर में दाखिल हो जाती है ! यह गैस पिस्टन हेड पर दबाव डालती है जिससे रिसीवर पीछे की हरकत करता है! रिसीवर की पीछे के हरकत के दौरान रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लग पथ वे की मदद से दायें से बाएं इतना घूमत जाता है की रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लेग रियर कैंप वे  से फ्रंट कैंप वे  में आ जाता है! जिससे रोटेटिंग बोल्ट का लॉकिंग लेग दाहिने से बाएं घूमकर बॉडी लॉकिंग मेन रेसस्सेस से अलंग हॉट जाता है ! इस एक्शन  को अनलॉक की का एक्शन कहते है !
  3. EXTRACT: अनलॉक के बाद रोटेटिंग बोल्ट भी रिसीवर के साथ पीछे का हरकत करता है ! इसी दौरान एक्सट्रैक्टर खाली केस को पकड़ कर चैम्बर से बहार खीच कर लता है इस एक्शन को एक्सट्रेक्ट का एक्शन कहते है 
  4. EJECT: जब चाल वाले पुर्जे की पिछे की हरकत के दौरान रिसीवर रोक्स हैमर को पहले थोडा नीछे दबा देता हा इसके बाद हैमर हेड  हैमर को पीछे दबाते हुए पीछे पीछे जाता है जिससे सेफ्टी सियर की नोज हैमर का कटाव से मिला हो जाता है और रिटर्निंग स्प्रिंग अपने हाउसिंग में पूरा समां जाता है इसके दौरान फायर केस एजेक्टोर से टकरा कर इजेक्शन स्लॉट की रस्ते से दाहिने व निचे गिर जाता है ! यह एक्शन इजेक्ट का एक्शन कहलाता है ! 
  5. FEED: जब चाल वाले पुर्जे मगज़ीन के ऊपर वाले राउंड से पीछे जाते है तो मग्जिन स्प्रिंग राउंड को ऊपर धकेलता है जससे मग्जिन का ऊपर वाला राउंड फीडिंग के तैयार हो जाता है . जब रिटर्निंग स्प्रिंग अपने तनाव को पूरा करती है तो रिसीवर व रोटेटिंग बोल्ट आगे की और धकेलती है और इस हरकत के दौरान रोटेटिंग बोल्ट का फीड  पिस मग्जिन का ऊपर वाले राउंड को चैम्बर में दाखिल कर देता है यह एक्शन फीड  का एक्शन कहलाता है !
  6. LOAD: जब राउंड चैम्बर में अच्छी तरह बैठ जाता है तो रोटेटिंग बोल्ट की आगे की हरकत पूरी हो जाती है एक्सट्रैक्टर राउंड के रिम पे सवार हो जाता है ! इस एक्शन को लोड का एक्शन कहते है !
  7. LOCK: जब रोटेटिंग बोल्ट की आगे की हरकत पूरी हो जाती और रिसीवर आगे की हरकत की दौरान रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लेग पथ वे की मदद से बाये से दाहिने को घूम कर फ्रंट कापबल से रियर कापबल में आ जाता है ! साथ ही रोटेटिंग बोल्ट का लॉकिंग बॉडी लॉकिंग रेसिज में फंस जाता है ! इस एक्शन को लॉक की एक्शन कहते है !
  8. COCK: रिसीवर की आखरी हरकत के दौरान सेफ्टी सियार रेलेसेर सेफ्टी सियर को आगे धकेलता  है जिससे सेफ्टी सियर आगे और निचे दब जाता है जिससे सेफ्टी सियर की नोज का हैमर के कटाव से मिलाप टूट जाता है साथ ही ट्रिगर सियर और हैमर सियर से मिलाप हो जाता है और राइफल फायर के लिए तैयार हो जाती है ! इस एक्शन को कॉक का एक्शन कहते है !
इस तरह से AK-47 का चाल पूरा होता है !


AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोके(AK-47 rifle me padne wale roke) :अगर राइफल की सफाई और देखभाल ठीक से की जाये तो  रोके  बहुत कम पड़ती है  अगर रोके पद भी जाए तो उसे फोर इलाज से दूर किया जा सकता है !AK-47 राइफल में निम्न रोके पड़ती है :
  1. खाली मग्जिन(Empty Magzin)
  2. मिस फायर (Miss fire)
  3. बॉडी की रोक (Body ki rok)
  4. तथा अन्य रोके(Anay Roke) 
जरुर पढ़े :AKM राइफल का बेसिक टेक्नीकल डाटा


AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोको को दूर करने का तरीका(AK-47 rifle me padne wale roken aur dur karne ka tarika) :
1. खाली मग्जिन(Khali magjin ke rok dur karne ki karwai) :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर में देखे 
  • अगर मग्जिन खाली हो तो मगज़ीन की बदली करे और फायर में सामिल करे 
2. मिस फायर(Miss fire ki rok dur karne ki karwai)  :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर का मुलाहिजा करे 
  • मुलाहिजा करने पर अगर मग्जिन भरी हुई है और चैम्बर से राउंड इजेक्ट होता है तो चाल वाले पुर्जे को आगे जाने दे !
  • इजेक्ट हुए राउंड के पेंदे को का मुलाहिजा करे अगर राउंड के पेंदे पर चोट है तो राइफल को फिर से फायर में सामिल करे राइफल ठीक फायर करेगा !

3. बॉडी की रोक(Body ki rok dur karne ki karwai)  :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर का मुलाहिजा करे 
  • मुलाहिजा करने पर अगर मग्जिन भरी हुई है और बॉडी में केस या जिन्दा राउंड है 
  • तो राइफल को दाहिने टर्न करके हिलाए 
  • अगर हिलाने पे भी केस नहीं निकलता है तो कोक्किंग हैंडल को छोड़ दे 
  • मग्जिन को उतारे 
  • उसके बाद कोक्किंग हैंडल के सहायता से चाल वाले पुर्जे को दो-तीन बार आगे पीछे हिलाए  और यकीं करे की केस या राउंड निचे गिर गया 
  • राइफल में भरा हुवा मग्जिन चढ़ाये और राइफल को फिर से फायर में सामिल करे राइफल ठीक फायर करेगा !
4. अन्य रोके(Anay roke aur dur karne ki karwai)  :अगर ऊपर बताई गई रोकों को दूर करने के बाद भी राइफल फायर न करे तो अन्य रोके हो सकती है जो निम्न है :

  • मग्जिन स्प्रिंग का कमजोर होना 
  • मग्जिन लिप्स क्लोज या खुला हुवा होना 
  • फायरिंग पीन का टूट जाना 
  • एक्सट्रेक्ट या इजेक्ट का न होना 
  • पुरजो का आज़ाद हरकत न करना 
इस सभी रोके से बचने के लिए जरुरी है की फायर से पहले इन पुरजो का बदली किया जाय !


इस प्रकार से यहाँ AK-47 राइफल की चाल और उसमे पड़ने वाले रोकें तथा उसे दूर करने का तरीका से सम्बन्धित संक्षिप्त पोस्ट समाप्त हुई उम्मीद है की ये पोस्ट आप को पसंद आएगा अगर इस पोस्ट से रिलेटेड कोई कमेंट होतो  तो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे !इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज को लाइक करके के हमलोगों को प्रोतोसाहित कर्रे !
इसे भी पढ़े :

  1. AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका
  2. AK-47 राइफल के मगज़ीन को भरना तथा खाली करने का तरीका
  3. AK-47 राइफल के साईट लगाना और रेंज लगाने के तरीके
  4. AK-47 राइफल को भर , रेडी , फायर, मेक सेफ और खाली करने का तरीका
  5. AKM का चाल और उसका पार्ट्स का नाम

No comments:

Post a Comment

.