Sponser


Click to buy ePrecise

Search

30 September 2018

SSG-69 राइफल के टेलेस्कोप से एम लेने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने SSG-69 राइफल के पोजीशन तथा मजबूत पकड़ बनाने के तरीका के बारे में जानकारी प्राप्त की अब इस पोस्ट में हम SSG-69 स्नाइपर राइफल के टेलीस्कोप साईट से शिस्त लेने के तरीका(SSG-69 sniper rifle ke telescopic sight se shist lene ka tarika) के बारे में जानेगे !


जैसे की हम जानते है की एक स्नाइपर को टेलेस्कोप से सही शिस्त लेने का तरीका मालूम होना चाहिए , ताकि जरुरत पड़ने पर फायरिंग से अच्छा नतीजा हासिल कर सके ! लेकिन शिस्त के दौरान फ्लोटिंग अप्रेचरया धब्बा का असर पड़ता है इसलिए स्नाइपर को इन धब्बो या शेडो से वाकफियत होना चाहिए और कैसे सही शिस्त हासिल की जाए इन सब बातो को मालूम होना चाहिए !
इस पोस्ट में हम निम्न विषयों पे जानकारी प्राप्त करेंगे :

1.SSG-69 राइफल के टेलेस्कोप के फ्लोटिंग अप्रेचर की जानकारी (SSG-69 Rifle ke telescopi ke floating appreture ki jankari)
2.SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से शिस्त लेने का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop se shist lene ka tarika)
3.SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से रेंज लगाने  का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop serange lagane  ka tarika)
4.SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से विन्डेज लगाने  का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop se windage lagane ka tarika)

1. SSG-69 राइफल ke टेलेस्कोप के फ्लोटिंग अप्रेचर की जानकारी (SSG-69 Rifle ke telescopi ke floating appreture ki jankari)

जब हम टेलेस्कोप को उठाके और एलिवेशन ड्रम को ऊपर रखते हुए ऑय ग्लास के अन्दर देखते है  तो अन्दर पड़ी रेटिकल(Horizontal Retical) और पॉइंटर (Vertical Retical) दिखाई देता है !दोनों होरिजेंटल रेटिकल को मिलाने वाली एक हेयर लाइन या पतली रेखा  दिखाई देती है !

अगर आँख को ऑय लेंस से सही दुरी यानि 6-8 सेमी पर और ठीक बिच में नहीं रखेंगे तो एक कला धब्बा या शाडो शीशे के अन्दर नजर आएगा जिसे फ्लोटिंग अप्रेचर कहते है !
  • बाए से देखने पर :
    स्नाइपर जब टेलेस्कोप से शिस्त लेता है और उसके आँख ऑय लेन्से के सही सेंटर में न रहकर थोड़ी बाये रहती है उस समय शीशे के बाए किनारे में एक शाडो या धब्बा नजर आएगा जिससे फील्ड ऑफ़ व्यू सही नहीं मिलेगा !

  • दाहिने से देखने पर :
    स्नाइपर जब टेलेस्कोप से शिस्त लेता है और उसके आँख ऑय लेन्से के सही सेंटर में न रहकर थोड़ी दाहिने  रहती है उस समय शीशे के दाहिने  किनारे में एक शाडो या धब्बा नजर आएगा जिससे फील्ड ऑफ़ व्यू सही नहीं मिलेगा !
  • ऊपर या निचे से देखने पर :
    अगर स्नाइपर टेलेस्कोप से शिस्त लेते वक्त ऊपर या निचे से देखता है तो पहले की तरह धब्बा या शाडो ऊपर या निचे दिखाई देगा और जिससे फील्ड ऑफ़ व्यू साफ़ नहीं देगा !
  • ज्यादा दुरी से देखने पर : अगर टेलेस्कोप को आँख से ज्यादा दूर रखा जाए तो एक गोला धब्बा पुरे शिसे को घेर लेता है जिससे फील्ड ऑफ़ व्यू  बहुत ही कम हो जाता है और ठीक शिस्त लेने में दिक्कत आती है !

2.SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से शिस्त लेने का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop se shist lene ka tarika)

टेलेस्कोप से शिस्त लेने के तरीके निम्न है :
  • राइफल को सीधा पकडे 
  • बाई आँख को बंद करे 
  • दुरुस्त ए क्लेअरेंस हासिल करे 
  • ऑय ग्लास के सामने का इलाका को देखे जिससे होरिजेंटल लाइन , पॉइंटर और टारगेट साफ दिखाई देगा 
  • अगर टारगेट साफ न दिखाई दे तो डियाअप्टर को घुमाव और आँख के लिहाज से सेट करो 
  • होरिजेंटल हेयर लाइन को जमीन के समनांतर रखते हुए पॉइंटर को टारगेट के बिच में मिलाओ !

3..SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से रेंज लगाने  का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop serange lagane  ka tarika)

रेंज के हुकुम पे करवाई इस प्रकार से करे 
  • एलिवेशन ड्रम को घुमाव 
  • अपनी आँख को इंडिकेशन मार्क या एरो के सामने लाये 
  • जैसे की हम जानते है फिगर 1 100 मीटर का गुणक तक रेंज जाहिर करता है 
  • 300 मीटर से ऊपर , 50 मीटर  के लिए बिच में एक लकीर होता है !
  • एलिवेशन व्हील ड्रम को एक ही बार न घुमाये बल्कि धीरे धीरे घुमाये !
  • जरुरत के अनुसार रेंज लग जाने पर आदेश के अनुसार फायर करें !

4.SSG-69 राइफल के टेलिस्कोप  से विन्डेज लगाने  का तरीका (SSG-69 rifle ke telescop se windage lagane ka tarika)

डिफ्लेक्शन ड्रम से दाहिने और बाए की गलती को दूर किया जाता है ! हवा का असर या ज़ेरोइंग के दौरान इसका इस्तेमाल किया जाता है ! डिफ्लेक्शन ड्रम में जीरो से 16 क्लिक बाये और  जीरो से 18 क्लिक दाहिने लगाये जा सकते है !

हर एक क्लिक या डीटेंट 100 मीटर के रेंज पर टारगेट में 1 सेमी का दाहिने या बाए का फर्क डालता है !जो की 0.1 मिल के एंगल के बराबर होता है ! बाए का डीटेंट लगाने पर गोली की एम् पी  आई बाये और दाहिने का लगाने पर गोली की एम् पी आई दाहिने जाएगी !

डिफ्लेक्शन ड्रम के एक साथ नहीं घुमाना चाहिए बल्कि एक एक क्लिक करके लगाये जाए !

प्रैक्टिस के दौरान स्नाइपर को चाहिए की अलग रेंज पर टारगेट का श्सिस्त लेने का प्रैक्टिस करना चाहिए !

जरुर पढ़े:SSG-69 स्नाइपर राइफल का बेसिक टेक्निकल डाटा

इस प्रकार से यहाँ SSG-69  राइफल के टेलेस्कोप से एम लेने के तरीका से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई !उम्मीद है की यह छोटा पोस्ट आप को पसंद आएगा ! अगर कोई कमेंट होतो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग  को सब्सक्राइब औत फेसबुक पर लाइक करे और हमलोगों को और अच्छा करने के लिए प्रोतोसाहित करे !
इसे भी पढ़े :
  1. 9 mm पिस्तौल ब्राउनिंग का बेसिक टेक्नीकल डाटा
  2. 7.62 mm एसएलआर राइफल की खुबिया और खामिया
  3. 9 mm पिस्तौल का खुबिया और खामिया
  4. .303 LE राइफल का इतिहास
  5. Lee Enfield .303राइफल का टेक्नीकल डाटा
  6. Lee Enfield 303राइफल की खूबिय और खामिया
  7. SSG-69 राइफल का इस्तेमाल और रख रखाव में ध्यान में ...
  8. SSG-69 राइफल की रख रखाव और सफाई का तरीका
  9. SSG-69 राइफल को भरना और खाली करने का तरीका
  10. SSG-69 राइफल को रेडी, मेक सेफ और खाली कर का तरीक...

1 comment:

  1. І don't even know how I ended uр here, but I thought this post was greаt.

    I don't know who уoou are bᥙt certainly you're ɡoing to a fammous blogger if you are not already ;
    ) Cheers!

    ReplyDelete