Sponser


Crazy deals on Amazon!

Saturday, January 28, 2017

51 mm मोर्टार डिटैचमेंट का काम, बनावट और फायर कण्ट्रोल करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने 51 mm मोर्टर के हाई एक्सप्लोसिव बम की पहचान के बारे में जानकारी शेयर की इस पोस्ट में हम 51 mm मोर्टर के डिटैचमेंट का काम और मोर्टर फायर को नियंत्रण करने का तरीका(Mortar Detachment Ka kam aur mortar fire ko control karne ka tarika ) के बारे में जानकारी हासिल करेंगे !



कारगर और सुरक्षित मोर्टार फायर करने के लिए ये जरुरी है की मोर्टार पलटन एक हर एक जवान मोर्टार को चलाने  के बारे में जानता  हो  क्यों की मोर्टार डिटैचमेंट के जवान को ये जनलेना चाहिए की इसमें किसी भी जवान का काम निश्चित नहीं होती  है इसलिए ये जरुरी होता है की मोर्टार पलटन के सभी जवानों को हरेक तरह के काम आने चाहिए और उसका समय समय पे डमी  प्रैक्टिस भी करते रहना चाहिए!

a)  मोर्टार डिटैचमेंट की बनावट(51 mm Mortar detachment ka banawat) :
1. स्टैण्डर्ड(51 mm Mortar detachment k standard banawat) : यह बनावट मैदानी इलाके के लिए लागु है और इस ने सिर्फ मोर्टार डिटैचमेंट कमांडर और नॉ-1 होते है ! इन दोनों के पास निम्नलिखित सामान होते है !

  • डेट कमांडर (51 mm Mortar ke detchament commander ka saman)
  1. कार्बाइन बेनट के साथ 
  2. भरा हुवा कार्बाइन मगज़ीन 
  3. 2 बम काररीएर (6 HE और 5 स्मोक)
  • मोर्टर नॉ -1 (51 mm Mortar ke Morter No-1 ka saman)
  1. 51 mm मोर्टार 
  2. 9 mm पिस्टल ब्राउनिंग 

2. मॉडिफाइड(51 mm Mortar detachment k Modified banawat) :यह बनावट हर इलाके में लागु है ! इस बनावट में मोर्टर नॉ-2 शामिल होता है , ताकि डेट कमांडर अपने साथ ज्यादा अमुनिसन उठा सके ! स्टैण्डर्ड बनावट में जिस प्रकार डेट कमांडर और मोर्टर नॉ-1 एक के पास सामना होता है वैसे ही इस बनावट में उनके पास सेम सामान होता है बस मोर्टर नॉ-2 के पास एक्स्ट्रा सामान जुड़  जाता है !पुरे डेट के पास निम्न सामान होता है !
  • डेट कमांडर (51 mm Mortar ke detchament commander ka saman)
  1. कार्बाइन बेनट के साथ 
  2. भरा हुवा कार्बाइन मगज़ीन 
  3. 2 बम काररीएर (6 HE और 5 स्मोक)
  • मोर्टर नॉ -1 (51 mm Mortar ke Morter No-1 ka saman)
  1. 51 mm मोर्टार 
  2. 9 mm पिस्टल ब्राउनिंग 
  • मोर्टर नॉ -2 (51 mm Mortar ke Morter No-2 ka saman)
  1. राइफल 7.62 /5.56 mm 
  2. राइफल के भरे हुए मग्जिन 
  3. 2 बम काररीएर (6 HE और 6 स्मोक )
(b). मोर्टार डिटैचमेंट का काम(51 mm Mortar Ditachment ka kam)  :
1. डेट कमांडर का काम (51 mm Mortar Ditachment Commander ka kam) 
  •  डेट कमांडर की पहली जिम्मेवारी यह होती है की जो हुकुम उसे मिले है और फायर डालने के लिए जो काम उसे करने है उसके अनुसार मोर्टर की पोजीशन चुने ! मोर्टर पोजीशन एक या एक से ज्यादा चुने और दो पोजीशनस के दरमियान कम से कम 50 गज के फासला रखे !
उदहारण : डेट कमांडर पहुचते ही नॉ-1 और न०-2 को ऐसी जहा ले जाये जहाँ से हु टारगेट या निशान बिंदु को अच्छी तरह से देख सके ! जवान को जोर देके समझाए ही हर एक मौके पर सावधानी बरती जाए और इस बात का खास ध्यान रखा जाय की दुश्मन तो हमे नहीं देख रहा है !
  • एक मोर्टर का पोजीशन चुनने के साथ ही डेट कमांडर दुसरे मोर्टर पोजीशन को भी चुन लेता है और उसके पास जाने  के रस्ते को भी ध्यान रखता है और अपने मोर्टर नॉ-1 और मोर्टर नॉ-2 को वह उस पोजीशन के बारे में बताता है की अगर दुश्मन हमारे पोजीशन को देख लेता है तो हमर दूसरा पोजीशन कौन सा होगा और उसके ऊपर जाने का रास्ता कौन सी होगी !
  • सब होने के बारे में डेट कमांडर फायर किये जाने वाले बम की किस्म , रेंज और कोण के बारे में हुकुम देगा ! जैसे HE लोड 40 डिग्री उच्चा कोण !
  • अगर अक्सुलिरी ऐमिंग मार्क की जरुरत हो तो डेट कमांडर उसको लगाएगा या लगवाए गा ! उसके बाद नॉ-2 को हिदायत देके डेट कमांडर खुद छिपी हुई पोजीशन में चाल जाये और वही से ओ मोर्टर का फायर डलवाए और फायर को कण्ट्रोल करे !

2. मोर्टर नॉ-1  का काम(51 mm Mortar No-1 ka kam)  : का कम मोर्टर की देखभाल करना और फायर डालना है ! यह भी देखो की चुन्नी हुई पोजीशन के रस्ते में कोई छोटी मोटी चीज तो नहीं है अगर ऐसा है तो डेट कमांडर को उसकी सूचना दे !

3. मोर्टर नॉ-2  का काम(51 mm Mortar No-2 ka kam)  : का पहला कम है की वह नॉ-1 को लगातार बम की सप्लाई करता रहे ! अगर इस कम के लिए उस की जरुरत नहीं है तो आब्जर्वर या मुमकिन बचाओ के कम पे तैनात किया जा सकता है !अगर फायर बहुत तेज रफ़्तार से डालना हो तो वह नॉ-1 के साथ मोर्टर को लोड करेगा ! अगर इस बात की जरुरत नहीं है तो नॉ-1 के साथ इसे नहीं रखा जाये!
जरुर पढ़े :
(क) 51 mm बम का फायर नियंत्रण(51 mm Mortar ke fire par control karne ka tarika):  डेट कमांडर को ऐसी जगह पे होना चाहिए जहा से ओ टारगेट को देख सके और दुश्मन से अपना छुपाव रखते  हुए मोर्टर से इतनी दुरी पे रहे की मोर्टर नॉ-1 और नॉ-2 के पास उसका आवाज़ पहुच सके ! वह फायर रुख के परे रहे लेकिन बाजु की तरफ भी इतनी दुरी पे न हो की वह फायर की हिट को अच्छी तरह से न अनुमान लगा सके !

डेट कमांडर अपना पोजीशन ऐसी जगह बनाएगा की वह वह से फायर की हुकुम दे सके और फायर के हिट की करेक्शन करा सके ! अगर संभव हो तो वह बोम गिरने की जगह को देख कर हिट और नट हिट का करेक्शन दे . अगर बम टारगेट तक न पहुचे तो डेट कमांडर हुकुम देना चाहिए  सही रेंज बताते हुए !  
अगर बम टारगेट के बाएँ गिरे तो अपनी गलती देख 6 डिग्री दाहिने का करेक्शन कराये और अगर बम टारगेट के दाहिने गिरे तो 6 डिग्री बाएँ का करेक्शन करेगा !
इस प्रकार से मोर्टार डिटैचमेंट कमांडर  अपने मोर्टार डिटैचमेंट के फायर के ऊपर नियंत्रण रखते हुए मोर्टर का फायर कराएगा और टारगेट को बर्बाद करेगा ! उम्मीद है की यह पोस्ट आपको पसंद आएगा !अगर कोई कमेंट हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पे लाइक कर के हमलोगों को प्रोतोसाहित करे !
इसे भी पढ़े :
  1. स्मोक और इल्लू बम का चाल और बेसिक डाटा
  2. 2" मोर्टार का परिचय,और खुबिया तथा इसकी खामिया
  3. 51 mm मोर्टार छोटी छोटी बाते
  4. फायरिंग रेंज के ऊपर डिसिप्लिन
  5. AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका
  6. AK-47 राइफल के मगज़ीन को भरना तथा खाली करने का तरीका
  7. AK-47 राइफल के साईट लगाना और रेंज लगाने के तरीके
  8. AK-47 राइफल को भर , रेडी , फायर, मेक सेफ और खाली करने का तरीका
  9. AK-47 राइफल की चाल और पड़ने वाले रोकें तथा उसे दूर करने का तरीका

Wednesday, January 25, 2017

AK-47 राइफल की चाल और पड़ने वाले रोकें तथा उसे दूर करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने AK-47 राइफल भर, रेडी, फायर तथा खाली  करने के तरीके(AK-47 Rifle ko bharn, redy, fire ttha khali karne ka tarika ) के बारे में जानकारी शेयर की इस पोस्ट में हम AK-47 राइफल के चाल और उसमे पड़ने वाले रोके तथा उसे दूर करने का तरीका(AK-47 rifle ke chal aur usme padne wale roken ttha use dur karne ka tarika) के बारे में जानेगे 



अगर एक जवान को अक-47 राइफल की चाल और रोके के बारे में पूरी जानकारी हो और रोके को दूर करने के बारे में सब कुछ जनता हो तो वह किसी ऑपरेशन कम दौरान इस राइफल को और जावदा कॉन्फिडेंस के साथ इस्तेमाल करेगा तथा इस राइफल की जितनी खूबिया  है उसके सही इस्तेमाल  करेगा !

इसी लिए ये जरुरी है की जब कभी भी अक-47 की ट्रेनिंग दी जा रही हो जवानों की इसकी चाल और उसमे पड़ने वाले रोको के बारे में जरुर बताना चाहिए और रोको को दूर करने की तरीके का ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करना चाहिए !
इस पोस्ट को हम दो  भागो में पूरा करेंगे:
  1. AK-47 राइफल  की चाल  
  2. AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोक तथा उसे दूर करने का तरीका 
AK-47 का चाल(AK-47 rifle ki chaal)
 इंसास की चाल, AKM की चाल और AK-47 का चाल मिलता जुलता है तो जैसे  इंसास राइफल और AKM की चाल 8 भागो में पूरा होती है वैसे ही AK-47 का चाल 8 भागो में पूरा होता है और वो भाग इस प्रकार है !
AK-47 Rifle ke parts ka nam
AK-47 Rifle ke parts ka nam 

FIR-UNLOCK-EXTRACT-EJECT-FEED-LOAD-LOCK-COCK

  1. FIRE : फायर सिलेक्टर को जब फायरिंग पोजीशन पर करके जब ट्रिगर दबाते है तो ट्रिगर सियर का मिलाप टूट जाता है ! जिससे हैमर अपने एक्सेस पास घूम कर फायरिंग पिन रीटर्नर पर ठोकर मरता है . जिससे फायरिंग पिन अपने होल निकल कर चैम्बर वाले राउंड के पेंदे पर ठोकर मरता है जिससे गोली फिरेहो जाती है ! इस एक्शन को फायर का एक्शन कहते है!
  2. UNLOCK: गोली फायर होने पर गैस पैदा होती है , पैदा हुयी गैस बुलेट को बरेल में आगे धकेलती है जब बुलेट गैस वेंट के पास से गुजरती है तो कुछ गैग, गैस वेंट से होकर गैस सिलिंडर में दाखिल हो जाती है ! यह गैस पिस्टन हेड पर दबाव डालती है जिससे रिसीवर पीछे की हरकत करता है! रिसीवर की पीछे के हरकत के दौरान रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लग पथ वे की मदद से दायें से बाएं इतना घूमत जाता है की रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लेग रियर कैंप वे  से फ्रंट कैंप वे  में आ जाता है! जिससे रोटेटिंग बोल्ट का लॉकिंग लेग दाहिने से बाएं घूमकर बॉडी लॉकिंग मेन रेसस्सेस से अलंग हॉट जाता है ! इस एक्शन  को अनलॉक की का एक्शन कहते है !
  3. EXTRACT: अनलॉक के बाद रोटेटिंग बोल्ट भी रिसीवर के साथ पीछे का हरकत करता है ! इसी दौरान एक्सट्रैक्टर खाली केस को पकड़ कर चैम्बर से बहार खीच कर लता है इस एक्शन को एक्सट्रेक्ट का एक्शन कहते है 
  4. EJECT: जब चाल वाले पुर्जे की पिछे की हरकत के दौरान रिसीवर रोक्स हैमर को पहले थोडा नीछे दबा देता हा इसके बाद हैमर हेड  हैमर को पीछे दबाते हुए पीछे पीछे जाता है जिससे सेफ्टी सियर की नोज हैमर का कटाव से मिला हो जाता है और रिटर्निंग स्प्रिंग अपने हाउसिंग में पूरा समां जाता है इसके दौरान फायर केस एजेक्टोर से टकरा कर इजेक्शन स्लॉट की रस्ते से दाहिने व निचे गिर जाता है ! यह एक्शन इजेक्ट का एक्शन कहलाता है ! 
  5. FEED: जब चाल वाले पुर्जे मगज़ीन के ऊपर वाले राउंड से पीछे जाते है तो मग्जिन स्प्रिंग राउंड को ऊपर धकेलता है जससे मग्जिन का ऊपर वाला राउंड फीडिंग के तैयार हो जाता है . जब रिटर्निंग स्प्रिंग अपने तनाव को पूरा करती है तो रिसीवर व रोटेटिंग बोल्ट आगे की और धकेलती है और इस हरकत के दौरान रोटेटिंग बोल्ट का फीड  पिस मग्जिन का ऊपर वाले राउंड को चैम्बर में दाखिल कर देता है यह एक्शन फीड  का एक्शन कहलाता है !
  6. LOAD: जब राउंड चैम्बर में अच्छी तरह बैठ जाता है तो रोटेटिंग बोल्ट की आगे की हरकत पूरी हो जाती है एक्सट्रैक्टर राउंड के रिम पे सवार हो जाता है ! इस एक्शन को लोड का एक्शन कहते है !
  7. LOCK: जब रोटेटिंग बोल्ट की आगे की हरकत पूरी हो जाती और रिसीवर आगे की हरकत की दौरान रोटेटिंग बोल्ट का गाइड लेग पथ वे की मदद से बाये से दाहिने को घूम कर फ्रंट कापबल से रियर कापबल में आ जाता है ! साथ ही रोटेटिंग बोल्ट का लॉकिंग बॉडी लॉकिंग रेसिज में फंस जाता है ! इस एक्शन को लॉक की एक्शन कहते है !
  8. COCK: रिसीवर की आखरी हरकत के दौरान सेफ्टी सियार रेलेसेर सेफ्टी सियर को आगे धकेलता  है जिससे सेफ्टी सियर आगे और निचे दब जाता है जिससे सेफ्टी सियर की नोज का हैमर के कटाव से मिलाप टूट जाता है साथ ही ट्रिगर सियर और हैमर सियर से मिलाप हो जाता है और राइफल फायर के लिए तैयार हो जाती है ! इस एक्शन को कॉक का एक्शन कहते है !
इस तरह से AK-47 का चाल पूरा होता है !


AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोके(AK-47 rifle me padne wale roke) :अगर राइफल की सफाई और देखभाल ठीक से की जाये तो  रोके  बहुत कम पड़ती है  अगर रोके पद भी जाए तो उसे फोर इलाज से दूर किया जा सकता है !AK-47 राइफल में निम्न रोके पड़ती है :
  1. खाली मग्जिन(Empty Magzin)
  2. मिस फायर (Miss fire)
  3. बॉडी की रोक (Body ki rok)
  4. तथा अन्य रोके(Anay Roke) 
जरुर पढ़े :AKM राइफल का बेसिक टेक्नीकल डाटा


AK-47 राइफल में पड़ने वाले रोको को दूर करने का तरीका(AK-47 rifle me padne wale roken aur dur karne ka tarika) :
1. खाली मग्जिन(Khali magjin ke rok dur karne ki karwai) :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर में देखे 
  • अगर मग्जिन खाली हो तो मगज़ीन की बदली करे और फायर में सामिल करे 
2. मिस फायर(Miss fire ki rok dur karne ki karwai)  :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर का मुलाहिजा करे 
  • मुलाहिजा करने पर अगर मग्जिन भरी हुई है और चैम्बर से राउंड इजेक्ट होता है तो चाल वाले पुर्जे को आगे जाने दे !
  • इजेक्ट हुए राउंड के पेंदे को का मुलाहिजा करे अगर राउंड के पेंदे पर चोट है तो राइफल को फिर से फायर में सामिल करे राइफल ठीक फायर करेगा !

3. बॉडी की रोक(Body ki rok dur karne ki karwai)  :राइफल शुरू से ही फायर न करे या फायर करते करते रुक जाय करवाई फोरी इलाज की इस प्रकार से करे ! 
  • ट्रिगर से कलमे वाली अंगुली को हटाये 
  • राइफल को कंधे से निचे लाये 
  • कॉक करके कोक्किंग हैंडल पे काबू रखते हुए चैम्बर का मुलाहिजा करे 
  • मुलाहिजा करने पर अगर मग्जिन भरी हुई है और बॉडी में केस या जिन्दा राउंड है 
  • तो राइफल को दाहिने टर्न करके हिलाए 
  • अगर हिलाने पे भी केस नहीं निकलता है तो कोक्किंग हैंडल को छोड़ दे 
  • मग्जिन को उतारे 
  • उसके बाद कोक्किंग हैंडल के सहायता से चाल वाले पुर्जे को दो-तीन बार आगे पीछे हिलाए  और यकीं करे की केस या राउंड निचे गिर गया 
  • राइफल में भरा हुवा मग्जिन चढ़ाये और राइफल को फिर से फायर में सामिल करे राइफल ठीक फायर करेगा !
4. अन्य रोके(Anay roke aur dur karne ki karwai)  :अगर ऊपर बताई गई रोकों को दूर करने के बाद भी राइफल फायर न करे तो अन्य रोके हो सकती है जो निम्न है :

  • मग्जिन स्प्रिंग का कमजोर होना 
  • मग्जिन लिप्स क्लोज या खुला हुवा होना 
  • फायरिंग पीन का टूट जाना 
  • एक्सट्रेक्ट या इजेक्ट का न होना 
  • पुरजो का आज़ाद हरकत न करना 
इस सभी रोके से बचने के लिए जरुरी है की फायर से पहले इन पुरजो का बदली किया जाय !


इस प्रकार से यहाँ AK-47 राइफल की चाल और उसमे पड़ने वाले रोकें तथा उसे दूर करने का तरीका से सम्बन्धित संक्षिप्त पोस्ट समाप्त हुई उम्मीद है की ये पोस्ट आप को पसंद आएगा अगर इस पोस्ट से रिलेटेड कोई कमेंट होतो  तो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे !इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पेज को लाइक करके के हमलोगों को प्रोतोसाहित कर्रे !
इसे भी पढ़े :

  1. AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका
  2. AK-47 राइफल के मगज़ीन को भरना तथा खाली करने का तरीका
  3. AK-47 राइफल के साईट लगाना और रेंज लगाने के तरीके
  4. AK-47 राइफल को भर , रेडी , फायर, मेक सेफ और खाली करने का तरीका
  5. AKM का चाल और उसका पार्ट्स का नाम

Tuesday, January 24, 2017

AK-47 राइफल को भर , रेडी , फायर, मेक सेफ और खाली करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने AK-47 राइफल के साईट लगाना तथा रेंज लगाने के बारे में जानकारी शेयर किये इस पोस्ट में हम AK-47 राइफल के भरना, रेडी , फायर ,मेक सेफ  करने के तरीका(AK-47 Rifle ko "bhar, ready, Fire, Make safe, aur Khali kar"  ki karwai) के बारे में जानकारी शेयर करेंगे !



ये करवाई भी राइफल के हैंडलिंग के समबन्ध में है ! इस की जानकारी होने से ही हम राइफल से सुरक्षित और कारगर फायर डाल सकते है! इस लिए जरुरी है की AK-47 को इस्तेमाल में लाने से  पहले हर एक जवान को Ak-47 राइफल को भरना , रेडी, फायर , मेक सेफ तथा खाली  कर की करवाई अच्छी तरह से आती हो और उसका गहन प्रैक्टिस किया हुवा हो !

जरुर पढ़े :AK-47 और INSAS Rifle में कौन बेहतर ?

राइफल भर(AK-47 rifle bhar mani jati hai)  तब मानी जाती जब राइफल पर भरी मग्जिन हो चेंज  लीवर "S" पर हो ! राइफल को रेडी(AK-47 rifle Ready mani jati hai) उस समय माना जाता है जब राइफल कॉक की हुई हो चैम्बर में राउंड हो और चेंज लीवर "R" पर हो !और राइफल को खाली(AK-47 rifle khali mani jati hai) उस समय मन जाता है जय राइफल के ऊपर खाली मग्जिन चढ़ी हो चैम्बर में राउंड न हो और चेंज लीवर "S" पर हो !

AK-47 राइफल की "भर" की करवाई(AK-47 Rifle ki "Bhar" ki karwai) 

 जब फायरर को टारगेट दिखाई दे या ट्रेनिंग के दौरान आदेश मिले "भर" तो करवाई इस प्रकार से करे :
  • चेंज लीवर की पोजीशन "S" पर करे 
  • मग्जिन कैच को दबाते हुए खाली मग्जिन को राइफल से उतारे 
  • उतारी हुई मग्जिन को पाउच में रखे 
  • पाउच में से भरी हुई मग्जिन निकले 
  • मग्जिन को मुलाहिजा करते हुए मग्जिन वे में दाखिल करे 
  • यकीं करे की मग्जिन लग गई हो !
  • पाउच का बोत्तों बंद करे 
  • बाएँ हाथ की पकड़ फोर हैण्ड गार्ड पर ले जाये !
जरुर पढ़े :AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका

AK-47 राइफल की "रेडी "की करवाई(AK-47 Rifle ki "Ready" ki karwai)  
 जब फायरर फायर करने का इरादा रखता हो और टारगेट दिखाई दे या ट्रेनिंग के दौरान आदेश मिले "रेडी " तो करवाई इस प्रका र से करे :
  • चेंज लीवर की पोजीशन "R" या "A" पर करे 
  • दाहिने हाथ  से राइफल को कॉक करे 
  • बट को कंधे पे ले जाये 
  • कलमे वाली अंगुली ट्रिगर के ऊपर ले जाए और अगले आदेश का इन्तेजार करे 
AK-47 राइफल की "फायर"  की करवाई (AK-47 Rifle ki "Fire" ki karwai) 
अलग अलग हालातो में निकलने वाले टारगेट को तीब्र गति से  बर्बाद करने के लिए इस हथियार को बनाया गया है ! इस राइफल से दो किस्म की फायर किया जाता है !
  1. सिंगल शॉट 
  2. ब्रस्ट फायर 
जरुर पढ़े :AKM राइफल का बेसिक टेक्नीकल डाटा


AK-47 राइफल  "सिंगल शॉट"  फायर का तरीका(AK-47 Rifle se single shot fire karne ki karwai)  : सिंगल शॉट फायर करने के लिए करवाई इस प्रकार से करे :
  • चेंज लीवर का पोजीशन "R" पर करे 
  • दुरुस्त शिस्त लेकर ट्रिगर का पहला खिचाव हासिल करे 
  • अब कुछ सेकंड के लिए साँस रोके 
  • उसके बाद दुरुस्त साईट एलाइनमेंट और साईट पिक्चर हासिल करे !
  • उसके बाद पूरा ध्यान फोर साईट टिप पे लाये और धीरे से दूसरा खीचा को भी हासिल करे गोली फायर हो जाएगी !
इस प्रकार से एक मिनट में AK-47 राइफल से 40 राउंड फायर कर सकते है !

AK-47 राइफल के फायर के दौरान "स्टॉप" की करवाई(AK-47 Rifleke fire ke dauran "Stop" ki karwai)  : फायर के दौरान टारगेट के इलाके में अचानक कोई जानदार वास्तु निकल आये या ट्रेनिंग के दौरान आदेश मिले "स्टॉप" तो करवाई इस प्रकार से करे :
  • कल्मेवाली अंगुली को ट्रिगर से बहार निकले  !
  • राइफल को निचे भर पोजीशन में लाये !
  • चेंज लीवर की पोजीशन को "S" पर करे 
  • अगर मग्जिन की बदली करने की जरुरत हो तो मग्जिन की बदली करे 

AK-47 राइफल के फायर के दौरान स्टॉप के बाद "गो ओंन" की करवाई(AK-47 Rifleke fire ke dauran "Go On" ki karwai): टारगेट वाले इलाके से जानदार वास्तु हट जाए या ट्रेनिंग के दौरान आदेश मिले "गो ऑन" तो करवाई इस प्रकार से करे 
  • चेंज लीवर की पोजीशन को "S" से पहले वाले फायरिंग के दौरान वाले पोजीशन पे करे !
  • बट को कंधे पे ले जाये और फायर में सामिल करे 
AK-47 राइफल  "ब्रस्ट फायर" करने  का तरीका(AK-47 Rifle se "Brust fire" fire karne ka tarika):  ब्रस्ट फायर में चेंज लीवर की पोजीशन "A" पर होती है ! जब एक बार ट्रिगर को प्रेस करने से दो या दो से ज्यादा राउंड फायर होते हो तो उसे ब्रस्ट फायर कहते है !"स्टॉप" और "गो ऑन" की करवाई हुबहू सिंगल शॉट फायर की तरह ही होता है ! इस प्रकार से AK-47 राइफल से ब्रस्ट फायर करने पे एक मिनट में 100 राउंड फायर हो सकते है !
AK-47 राइफल की "मेक सेफ"  की करवाई(AK-47 Rifle ko "make safe" karne ki karwai) : जब भरी हुई राइफल को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना हो या ट्रेनिंग के दौरान आदेश में "मेक सेफ राइफल" तो करवाई इस प्रकार से की जाती है :
  • कलमे वाली अंगुली ट्रिगर से बहार करे 
  • राइफल को "भर" पोजीशन में लाये !
  • मग्जिंग को दबाते हुए मग्जिन को बहार निकले और पाउच में रखे 
  • राइफल को दाहिने टर्न करते हुए दो बार कॉक करे और ट्रिगर प्रेस करे 
  • चेंज लीवर को "S" पर करें 
  • भरी हुई मग्जिन मु मुलाहिजा करते हुए चढ़ा दे 
  • ज़मीन पर गिरे हुए राउंड को उठाये , साफ करे और दुसरे मग्जिन में भर  दे और दुसरे मग्जिन को पाउच में रख ले  !
AK-47 राइफल की "खाली कर "  की करवाई(AK-47 Rifle ko "khali kar" karne ki karwai): खाली करने के हुक्म पे मेक सेफ की करवाई करे पर आखिर में भरी मग्जिन की जगह खाली  मग्जिन राइफल पर  चढ़ा दे 

इस प्रकार से AK-47 राइफल की भरना , रेडी, फायर, मेक सेफ, तथा खाली  कर की करवाई से सम्बंधित पोस्ट समाप्त हुई उम्मीद है की ये पोस्ट आपको पसंद आएगा ! अगर इस ब्लॉग से सम्बंधित कोई कमेंट हो तो कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और हमारे पेज को फेसबुक पर लाइक करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे !
इस पोस्ट से सम्बंधित कुछ सवाल :
  1. AK-47 राइफल के सिंगल शॉट से एक मिनट में कितने राउंड फायर किये जा सकते है(AK-47 ke single shot se ek minute me kitne round fire ho sakte hai ) - 40 राउंड 
  2. AK-47 राइफल के ब्रस्ट फायर  से एक मिनट में कितने राउंड फायर किये जा सकते है(AK-47 ke brust fire  se ek minute me kitne round fire hote sakte hai )-100 राउंड्स 

 इसे भी पढ़े :
  1. 9mm कार्बाइन मशीन को खोलना जोड़ना और टेस्ट ?
  2. 9 mm कार्बाइन की सफाई और रख रखाव का तरीका
  3. 9mm कार्बाइन के मगज़ीन को भरना खाली करना , 
  4. कार्बाइन को भरना खाली और फायर करने का तरीका
  5. 5.56 mm INSAS Rifle के सिंगल शॉट ट्रिगर मेचानिज्म और पार्ट्स के नाम
  6. इंसास राइफल से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका और शिस्त लेते समय होने वाले कुछ कॉमन गलतिया
  7. इंसास एलेमजी को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स का नाम
  8. INSAS LMG को फिक्स्ड लाइन पे लगाने का तरीका तथा एलेमजी के साथ आने वाले सामान
  9. 5.56 MM INSAS LMG के ऊपर दुरुस्त पकड़ बनाने का तरीका
  10. 5.56 MM INSAS LMG से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका

Monday, January 23, 2017

AK-47 राइफल के साईट लगाना और रेंज लगाने के तरीके

पिछले पोस्ट में हमने AK-47 के मग्जिन को भरना और खली करने के तरीके के बारे में जानकारी हासिल की इस पोस्ट में हम AK-47 के साईट के पार्ट्स का नाम और साईट तथा रेंज लगाने के बारे(AK-47 rifle ke partska name, sight aur range lagane ka tarika) में जानकारी हासिल करेंगे !



जैसे की हम जानते है की किसी भी राइफल से कारगर परिणाम पाने के लिए जरुरी है की उसके हैंडलिंग के बारे में उम्दा जानकारी हो और विशेषकर उस राइफल के बेक साईट और फोरे साईट के बारेमे सही जानकारी हो और उसके ऊपर लिखे हुए वर्ड का सही मतलब मालूम हो !

जरुर पढ़े :AK-47 और INSAS Rifle में कौन बेहतर ?

अगर वर्ड का सही मतलब मालूम नहीं मालूम रहेगा तो हम गलत साईट लगा देंगे जिससे की  टारगेट के ऊपर हम करगर  फायर नहीं कर सके और उससे हमारी जान और माल का खतरा हो सकता है क्यों की हमारा  एक राउंड भी बर्बाद होगा और ऑपरेशन के दौरान हमारी पोजीशन भी जाहिर हो जाएगी !

AK-47 राइफल के हिस्से पुर्जे(AK-47 rifle ke parts) :
(i.) सिलिंडर (ii.) गैस एस्केप होल ,(iii) पिस्टन हेड ,(iv) पाथ वे (v) लॉकिंग लग (vi) रियर कैप व्हील   (vii)एक्सट्रैक्टर   (viii)  रिसीवर रॉक्स  (ix)हैमर हेड    (x) रेकोइल स्प्रिंग    (xi) हाउसिंग   (xii) फीड पिस  (xiii)मग्जिन का ऊपर वाला राउंड (xiv) बुलेट गाइड (xv) चैम्बर (xvi) सेफ्टी सार की नोच (xvii) हैमर का कटव (xvii) ट्रिगर और सेफ्टी सार रेलेसेर

AK-47 के साईट लगाना (AK-47 rifle ke sight lagane ka tarika)
AK-47 के ऊपर साईटिंग सिस्टम की सुविधा दी गई है , जिससे हम अलग अलग रेंज में दुश्मन को एंगेज कर सके ! AK-47 का फोरे साईट पोल टाइप होता है और बेक साईट "U" टाइप का होता है

जरुर पढ़े :AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका

AK-47 के ओपन साईट के  हिस्से पुरजो का नाम :
AK-47 rifle Front sight
AK-47 rifle Front sight
  • फोरे साईट असेंबली 
  • फोरे साईट टीप
  • लॉकिंग नट 
  • फोरे साईट प्रोटेक्टर 





बैक साईट असेंबली (Back sight assembly)
AK-47 rifle Back sight
AK-47 rifle Back sight

  • बेड 
  • स्लाइड 
  • प्लंजर 




AK-47 राइफल के रेंज लगाना (AK-47 rifle ka range lagane ka tarika)

इस राइफल के रियर साईट के बेड में एक से लेकर 10 तक अंक खुदे हुए है ! सम(Even number) अंक बाएँ और विषम(Odd number) अंक दाहिने तरफ होते है  जो की 100 मीटर से 1000 मीटर के रेंज को जाहिर करते है ! रेंज लगाने के लिए दाहिने हाथ के ऊँगली और अंगूठे से प्लंजर को दबाते हुए स्लाइड के आगे वाले हिंसे को मुनासिब रेंज के लकीर के साथ एडजस्ट कर के रेंज लगाया जाता है !

यानि आदेश मिला सामने 200 गज तो अंगूठे से प्लंजर को दबाते हुए स्लाइड के ऊपर 2 लिखे अंक से सीध में करने से 200 गज का रेंज लग गया !

जरुर पढ़े : AKM का चाल और उसका पार्ट्स का नाम

इस प्रकार से AK-47 राइफल के साईट और रेंज लगाने से सम्बंधित संक्षिप्त पोस्ट समाप्त हुवा उम्मीद है की पोस्ट पसंद आएगी ! अगर कोई कमेंट हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पर शेयर कर के हमलोगों को और प्रोतोसाहित करे !

 इसे भी पढ़े :
  1. 9mm कार्बाइन मशीन को खोलना जोड़ना और टेस्ट ?
  2. 9 mm कार्बाइन की सफाई और रख रखाव का तरीका
  3. 9mm कार्बाइन के मगज़ीन को भरना खाली करना , 
  4. कार्बाइन को भरना खाली और फायर करने का तरीका
  5. 5.56 mm INSAS Rifle के सिंगल शॉट ट्रिगर मेचानिज्म और पार्ट्स के नाम
  6. इंसास राइफल से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका और शिस्त लेते समय होने वाले कुछ कॉमन गलतिया
  7. इंसास एलेमजी को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स का नाम
  8. INSAS LMG को फिक्स्ड लाइन पे लगाने का तरीका तथा एलेमजी के साथ आने वाले सामान
  9. 5.56 MM INSAS LMG के ऊपर दुरुस्त पकड़ बनाने का तरीका
  10. 5.56 MM INSAS LMG से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका

Sunday, January 22, 2017

AK-47 राइफल के मगज़ीन को भरना तथा खाली करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना तथा सफाई के बारे में जानकारी शेयर किये इस पोस्ट में हम AK-47 के मगज़ीन का भरना और खाली करने(AK-47 rifle ke magzin ko bharna aur khali karne ke tarike ) के बारे में जानकारी हासिल करेंगे !



जैसे की हम जानते है की एक जवान को राइफल के खोलना जोड़ना और सफाई करने के बारे में जानकारी हासिल करलेना ही काफी नहीं होता बल्कि इस राइफल के फायर पॉवर का भरपूर फ़ायदा उठाने के लिए ये जरुरी है की इस राइफल के मागज़ीने को तेजी के साथ को भी भरना और खाली  करना भी  आता हो ! और ये तभी सक्म्भाव है जब AK-47 राइफल के मागज़ीने को खली करना और भरना के तरीके के बारे में जानकारी हो !

जरुर पढ़े :AK-47 और INSAS Rifle में कौन बेहतर ?

AK-47 के मगज़ीन का भरना और खाली करने का तरीका(How to fill and unfill the AK-47 rifle magzin) : इस राइफल से हम बगैर रिम वाला यानि रिमलेस अमुनिसन फायर करते है ! एक कार्टून  में  20 राउंड्स और 35 कार्टून एक बॉक्स में भर कर के आता है ! सही उपयोग के लिए ये जरुरी है की अमुनिसन को धुप , बारिश और नमी से बचाया जाए !

राउंड को सफाई करने के लिए राउंड को कार्टून से निकले और समय के अनुसार एक -एक , दो-दो या चार-चार राउंड एक साथ लेकर सफाई किया जाय ! लेकिंग ध्यान रखे के एक साथ ज्यादा राउंड लेके सफाई किया जा रहा हो तो उन रौंदो के बीच आपस में घर्षण न हो ! सफाई के बाद राउंड को साफ जगह पे रखे !

AK-47 के मगज़ीन को भरना(AK-47 rifle ke magzine ko bharte samay dhyan dene wali bate): मगज़ीन को ले और मगज़ीन का निरिक्षण करें !निरिक्षण के दौरना इन बाते को ध्यान से चेक करे :
AK-47 Rifle ke magzine bharna
AK-47 Rifle ke magzine bharna
  • मगज़ीन की बॉडी कही से दबी तो नहीं है 
  • प्लेटफार्म और स्प्रिंग सही काम कर रहे है की नहीं 
  • मगज़ीन की लिप्स ज़रूरत से ज्यादा दबे या खुले हुए तो नहीं है 
  • बॉटम प्लेट और स्टड ठीक जगह से है 
अगर इनमे से किसी भी प्रकार की कमी हो तो उस मगज़ीन को इस्तेमाल न करे दुसरे मगज़ीन को ले और उसे भी उसी प्रकार से निरिक्षण करके इस्तेमाल में लाये !,

जरुर पढ़े :AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका

मगज़ीन को भरना(Magzin ko bharna):भरने के लिए मगज़ीन को बाएँ हाथ की चरों अंगुलिया बहार से अंगूठा खड़े रुख में करते हुए इस प्रकार से पकडे की मगज़ीन का लम्बा महरा बहार की तरफ हो ! मगज़ीन को सपोर्ट के लिए ग्राउंड सिट , बूट की टो या अंगूठे के ऊपर रखे !दाहिने हाथ से मुनासिब राउंड को ले और अंगुलियों और अंगूठा के मदद से राउंड को मगज़ीन प्लेटफार्म पर रख दे, अब बाएँ हाथ के अंगूठे से राउंड को निचे दबाये और दाहिने अंगूठे से आगे की तरफ तब तक धकेले जब तक राउंड का बेस मगज़ीन में ठीक से बैठ न जाये !

राउंड को भरने के बाद गिनती कर लिए जाए ! अगर भरते समय कोई राउंड गिर जाए तो उसे साफ़ करके आखिर में भरा जाये! अगर मग्जिन को जल्दी इस्तेमाल नहीं करना हो तो ऊपर की आखरी राउंड को चिंदी लगा कर भरा जाये जिससे की :(Magzine ko bharte samay upar wale round pe chindi lagane ke fayde)
  • राउंड गिरने पे पता  चाल जायेगा !
  • मगज़ीन के अन्दर धुल मिट्टी नहीं जाएगी !
इस प्रकार से मगज़ीन में 30 राउंड ही आते है और 30 राउंड ही भरे जाते है !


मगज़ीन को खली करना :मग्जिन को बाये हाथ में ले चारो अंगुलिया बहार की तरफ और अंगूठा अन्दर की तरफ , मगज़ीन का बुलेट वाला हिस्सा बहार की तरफ रखते हुए किसी नुकीली चीज से हर दुसरे राउंड के मध्य में दबाये ऊपर वाला राउंड अपने आप निकल जायेगा ! आखरी राउंड को निकलने के लिए मगज़ीन के प्लेटफार्म को दबाये , आखरी राउंड भी निकल जायेगा !

ध्यान रखे की मगज़ीन को साफ जगह पे खली किया जाय और मगज़ीन को खली करने के लिए अगर बुलेट का नुकीला भाग इस्तेमाल कर रहे है तो एक-दो राउंड के बाद उसको बदल लिया जाय !
इस पोस्ट से सम्बंधित कुछ सवाल और जवाब  है जैसे:
  • AK-47 राइफल के मगज़ीन में कितने राउंड आते और कितने भरे जाते  है(AK-47 ke magzine me kitne round aate hai aur kitne bhare jate hai )         -30 राउंड्स 
  • मगज़ीन को भरते समय राउंड गिर जाए तो कब भरा जाये उस राउंड को - एक दम आखरी में 

इस प्रकार से यहाँ AK-47 Rifle के मगज़ीन का भरना और खाली करने से सम्बंधित एक संक्षिप्त पोस्ट समाप्त हुई ! उम्मीद है की आपलोगों को ये पोस्ट पसंद आएगा ! अगर कोई सलाह या सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब और फेसबुक पर शेयर करके हमलोगों को प्रोतोसाहित करे !
download pdf version of  AK-47 rifle ke magzine ko bharna aur khali karne ka tarika
 इसे भी पढ़े :
  1. 9mm कार्बाइन मशीन को खोलना जोड़ना और टेस्ट ?
  2. 9 mm कार्बाइन की सफाई और रख रखाव का तरीका
  3. 9mm कार्बाइन के मगज़ीन को भरना खाली करना , 
  4. कार्बाइन को भरना खाली और फायर करने का तरीका
  5. 5.56 mm INSAS Rifle के सिंगल शॉट ट्रिगर मेचानिज्म और पार्ट्स के नाम
  6. इंसास राइफल से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका और शिस्त लेते समय होने वाले कुछ कॉमन गलतिया
  7. इंसास एलेमजी को खोलना जोड़ना और उसके पार्ट्स का नाम
  8. INSAS LMG को फिक्स्ड लाइन पे लगाने का तरीका तथा एलेमजी के साथ आने वाले सामान
  9. 5.56 MM INSAS LMG के ऊपर दुरुस्त पकड़ बनाने का तरीका
  10. 5.56 MM INSAS LMG से दुरुस्त शिस्त लेने का तरीका

Wednesday, January 18, 2017

AK-47 राइफल को खोलना , जोड़ना और सफाई करने का तरीका

पिछले पोस्ट में हमने फायरिंग रेंज डिसिप्लिन के बारे में जानकारी शेयर किये इस पोस्ट में हम AK-47 राइफल को खोलने , जोड़ने और सफाई (AK-47 rifle ko kholna joda aur safai ka tarika) करने  के बारे में जानकारी शेयर करेंगे !



जैसे की हम जानते है की किसी भी हथियार को खोलने और जोड़ने से पहले उसके बारे में सुरक्षा सम्बंधित जानकारी हमारी पास होने चाहिए और क्या करे क्या न करे(Do & Don't do) की जानकारी भी होनी चाहिए ! अगर ये जानकारी नहीं होगी तो अगर हमने बेतरतीब कुछ खोल या जोड़ दिया तो हो सकता है की हथियार के अंदर कुछ टूट फुट पड़ जाये या कोई सामान गूम  हो जाये !

जरुर पढ़े : AKM राइफल का बेसिक टेक्नीकल डाटा

AK-47 राइफल को खोलते समय ध्यान में रखने वाली बाते (AK-47 Rifle ko kholte samay dhyan me rakhne wali bate )
  • सबसे पहले याकिन करे की राइफल खली है !
  • राइफल को तरतीब में खोला जाय 
  • छोटे हिस्से पुरजो को अंत में खोला जाय 
  • राइफल को किसी साफ जगह पे खोला जाय !
AK-47 राइफल को खोलने का तरीका(AK-47 Rifle ko khlne ka tarika) :
AK-47 kholna
AK-47 kholna 

  • सबसे पहले मग्जिन कैच को दबाते हुए मग्जिन को उत्तरे 
  • उसके बाद बेनट स्टड को दबाते हुए बेनट को अलग करे !
  • सकार्ब्र्ड से बेनट को अलग करे 
  • स्लिंग को खोले और राइफल से अलग करे 
  • पहले राइफल का चेंज लीवर को "R" पर करे 
  • राइफल को कॉक करे 
  • रिटेनर कैच को दबाते हुए बॉडी कवर को निकले 
  • रिटेनर कैच को  दबाते हुए पुश करें और रिटर्निंग स्प्रिंग को बहार निकले 
  • कोक्किंग हैंडल से दबाते हुए पिस्टन एक्सटेंशन को पीछे खिचे और बहार निकले 
  • पिस्टन एक्सटेंशन से रोटेटिंग बोल्ट को अलग करे 
  • एक्सिस पिन को बहार निकलते हुए एक्सट्रैक्टर को खोले और फायरिंग पिन बहार निकले 
इस प्रकार से AK-47 राइफल खुल जायेगा 

AK-47 राइफल को जोड़ने  का तरीका(AK-47 Rifle ko jodne ka tarika)

राइफल को जोड़ते समय ध्यान में रखने वाली बाते(AK-47 rifle jodte samay dhyan e rakhne wali bate) 
  1. अगर एके से ज्यादा राइफल खुली हो तो जोड़ने से पहले उनका patt.no मिला लेना चाहिए 
  2. यदि छोटे छोटे हिस्से पुर्जे  खोले गए हो तो सबसे पहले उन्हें जोड़ लेना चाहिए 
  3. जो पुर्जा सबसे अंत में खुला हो उसे सबसे पहले जोड़ना चाहिए 
राइफल को जोड़ना (AK-47 rifle ko jodna)
  • सबसे पहले रोटेटिंग बोल्ट और बोल्ट काररीएर को जोड़े !
  • उसके बाद सिलिंडर ट्यूब को जोड़े 
  • लॉकिंग कैच को निचे बैठते हुए पिस्टन एक्सटेंशन को जोड़े 
  • उसके बाद पिस्टन हेड को सिलिंडर तुबे में दाखिल करते हुए पिस्टन को निचे दबाएँ और आगे धकेले !
  • बॉडी कवर को आगे की तरफ मिलते हुए निचे बैठाएं जिस से रिटेनर कैच पीछे की तरफ निकल जाए !
  • स्लिंग को लगाये 
  • बेनट को स्कार्बर्ड में लगाने के बाद 
  • बेनट को बेनट स्टड पे दबाते हुए बैठाएं!
  • राइफल को कॉक करे और ट्रिगर दबाये !
  • अनत में राइफल पे मगज़ीन को चढ़ाये !
इस प्रकार से राइफल जुड़ गया !

AK-47 राइफल का सफाई  का तरीका(AK-47 Rifle ko safai karne ka tarika):  राइफल की बैरल को साफ करने के लिए पुल्थ्रू की जरुरत पड़ती है ! राइफल में 10  x 7.5 cm(AK-47 safai karne ka chindi ka size 10 x 7.5 cm)  साइज़ का पुल्थ्रू दल कर सफाई की जाती है ! इस की सफाई तब तक की जाए जब तक की राइफल अच्छी तरह से साफ न हो जाये !

सिलिंडर को साफ करने के लिए रॉड में ब्रश और चिंदी लगाकर साफ किया जाय !साफ हो जाने के बाद तेल  लगा देना चाहिए ! छोटे हिस्से पुरजो की सफाई बाकी हथियारों की तरह ही करे !

AK-47 के गैस सिलिंडर खोलने के तरीके इस प्रकार से है(AK-47 rifle ke gas cylinder kholne ka tarika) - गैस सिलिंडर को खोलने के लिए सिलिंडर लॉकिंग कैच को 90 डिग्री में खड़ा करें  और सिलिंडर ट्यूब को पीछे से ऊपर उठाते हुए बहार निकले !


AK-47 के फायरिंग पिन को निकलने  के तरीके इस प्रकार से है(AK-47 ke firing pin nikalne ka tarika)-फायरिंग पिन को खोलने के लिए एक्सिस पिन को बहार निकलते हुए फायरिंग पिन को बहार निकले ! फायरिंग पिन खोलने के बाद एक्सट्रैक्टर लॉकिंग पिन को खोलें !
सफाई होने के बाद तेल लगादे ! बैरल में तेल लगाने के लिए चिंदी का साइज़ 10 x 5 cm(AK-47 safai ke bad tel lagne wala  chindi ka size 10 x 5 cm)  का इस्तेमाल करे !

PDF version Ak-47 ka kholna jodna aur safai dwonload karne ke liye click kare  

इस प्रकार से AK-47  राइफल को खोलने जोड़ने तथा सफाई करने से सम्बंधित एक संक्षिप्त ब्लॉग पोस्ट समाप्त हुई उम्मीद है की ये पोस्ट आपलोगों को पसंद आएगा ! अगर इस ब्लॉग से सम्बंधित कोई भी सलाह हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे और फेसबुक पे शेयर  कर हमलोगों का प्रोतोसाहित करे !
 इसे भी पढ़े :
  1. ग्रेनेड के हमला से बचाव और ग्रेनेड फेकने का तरीका !
  2. ट्यूब लौन्चिंग MK-I का बेसिक डाटा और विशेषताए
  3. राइफल ग्रेनेड फायर करने का तरीका और चाल
  4. X-95 राइफल का परिचय और बेसिक स्पेसिफिकेशन डाटा
  5. X-95 राइफल को खोलना जोड़ना तथा हिस्से पुरजो का नाम और साफ सफाई करने का तरीका
  6. X-95 रेफिले में लगने वाले साईट की जानकारी
  7. X-95 राइफल से फायर करने का तरिका
  8. 7.62 mm LMG की खुबिया ,कमिया और डिप्लॉयमेंट के उसूल
  9. 84 mm राकेट लांचर 2"और 51 mm मोर्टार के खुबिया , खामिया और डिप्लॉय करने का उसुल
  10. 7.62mm एलेमजी का बेसिक डाटा और एलेमजी कि निरिक्षण करने का तरीका

Monday, January 16, 2017

फायरिंग रेंज के ऊपर डिसिप्लिन

हमने फायरिंग कब और कैसे करना चाहिए उसके ऊपर बहुत से पोस्ट लिख चुके है इस पोस्ट में हम एक बहुत ही अहम् विषय फायरिंग से सम्बंधित है उसके बारे में जानकारी शेयर करेगे और वह विषय है फायरिंग रेंज के ऊपर कायम रखने वाली अनुशासन (Firing range ke upar ki discipline)!




सुरख्सा के दृष्टि से बहुत ही अहम् चीज है की फायरिंग रेंज पे सभी फायरर एक अवल दर्जे का अनुशासन बनाये रखे ताकि किसी होने वाली दुर्घटना से बचा जा सके और किसी भी प्रकार के जान मॉल की नुकशान किये बिना  ही फायरिंग को सुचारू रूप के कंडक्ट किया जा सके !

जरुर पढ़े :अच्छे राइफल फायर कैसे बने ? 

सुरक्षा के दृष्टि से कुछ अनुशासनिक कार्य है जिसे हर हाल में फायरिंग रेंज पे अपनाना चाहिए जैसे :

फायरिंग रेंज के ऊपर सुरक्षा की करवाई (Firing range ke upar ki discipline)
  • उस्तादों के द्वारा दिए जाने वाले आदेशो का मतलब समझे तथा उसे पालन  करे 
  • हथियार का किसी को देने या लेने से पहले निश्चित करे की हथियार भरा हुवा न हो !
  • रेंज के ऊपर जितने भी हथियार फायर करने के लिए गए हो सभी बिना मागज़ीन लगे हुए हो 
  • रेंज के ऊपर हथियार के हैंडलिंग से पहले निश्चित करे की ओ खली हो !
  • रेंज के ऊपर हथियार की हैंडलिंग करते समय हमेश उसका बर्रे सुरक्षित दिशा में रखे या टारगेट के ऊपर रखे !
  • रेंज पे हथियार का भरना तथा फायर हमेश उस्ताद के आदेश पे ही करे बिना आदेश लोड और फायर की करवाई न करे !
  • रेंज पे कभी भी हल्ला न मचाये !
  • फायरिंग रेंज पे हमेशा सही ड्रेस कोड में ही फायर के लिए जाये !
  •  फायरिंग रेंज पे फायर शुरू करने से पहले उस फायरिंग रेंज के SOP को पढ़े तथा उसके अनुसार सुरक्षा की करवाई करे !
  • फायर सुरु करने से पहले सभी आने जाने वाले रास्तो पे संतरी की ड्यूटी लगाये !
  • फायरिंग रेंज पे जो लोग ओ चाहे टारगेट के ऊपर रिपेयरिंग के लिए रखे गए है या आने जाने वाले रास्तो के संतरी सभी लाल कुर्ती पहने हुए हो !
  • फायरिंग रेंज के ऊपर लेगए गए हथियारों को हमेश क्लोज वाच में रखे !
  • फायर में सामिल करने से पहले हथियारों को सुखी चिंदी से सफाई करा ले !
  • फायरिंग के लिए हमेश अमुनेशन को अच्छी तरह से गिनती करके ही दे और खली केस को भी गिनती कर के ही ले !
  • हथियार के साथ न खेले !
  • फायरिंग रेंज को हमेशा आल ओके रिपोर्ट मिलने के बाद ही छोड़े  !
  • एक डिटेल की फायरिंग होने के बाद खली कर तथा निरिक्षण की करवाई  जरुर करवाए !
  • स्टॉप फायर के आदेश पे तवरित फायर को रोके और एम डाउन करले 
  • फर्स्ट ऐड बॉक्स जरुर रखे (Keep First Aid box)
जरुर पढ़े :फायरिंग के दौरान फायरर द्वारा की जानेवाली कुछ गलतिया ? 

रेंज के ऊपर कुछ कार्य वर्जित है(Prohibited act on Firing range) 
  • फायरिंग रेंज के ऊपर सभी हथियारों को भरा हुवा समझे ,कभी भी हथियार को किसी जीवित चीज के ऊपर पॉइंट न करे 
  • कभी भी हथियारों के साथ छेड़ छाड़ न करे 
  • कभी भी फायरिंग पॉइंट/फायरिंग पोजीशन  को बिना उस्ताद के अनुमति के बिना  न छोड़े 
  • कभी भी लोडेड हथियार को एकांत में न छोड़े !
  • हथियार को कभी भी लोडेड किसी  को न दे !
  • कभी भी फायरिंग के आदेश के बिना फायर न करे 

ये रही संक्षिप्त फायरिंग रेंज के ऊपर कायम करने वाली अनुशासन सम्बंधित करवाई /ड्रिल इसको अगर हम फॉलो करे तो दुर्घटना होने की सम्भावनाये काफी कम हो जाती है !उम्मीद है की यह पोस्ट आपको असंद आएगी ! अगर कोई सुझाव हो तो निचे के कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे ! इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे और फेसबुक पे शेयर  कर हमलोगों का प्रोतोसाहित करे !

इसे भी पढ़े :
  1. टियर स्मोक ग्रेनेड के भूषण तथा सिंगल वे टियर स्मोक ग्रेनेड के चाल और पार्ट्स का नाम
  2. 10 पॉइंट राइफल को ट्यूनिंग उप और स्टॉकिंग के करवाई के बारे में
  3. 30 mm AGL का अमुनिसन और फायरिंग ड्रिल
  4. 2" मोर्टार का परिचय,और खुबिया तथा इसकी खामिया
  5. 51 mm मोर्टार छोटी छोटी बाते
  6. 7.62 mm एसएलआर के ज़ेरोइंग करना और ज़ेरोइंग से होने वाले फायदे ?
  7. 7.62 mm एसएलआर राइफल को ज़ेरोइंग करते समय ध्यान में रखने वाली विशेष बाते
  8. 7.62 mm एसएलआर राइफल को ज़ेरोइंग कैसे और कब किया जाता है?
  9. राइफल को फायर करने पे सभी गोलिया एक ही सुराख़ से क्यों नहीं निकलती है ?
  10. .303" LMG का जिरोइंग कब की जाती है और जिरोइंग से होने वाले फायदे क्या है ?


Addwith