Sponser


Wednesday, March 30, 2016

कामोफ्लाज और कांसिल्मेंट तथा फायर कण्ट्रोल आर्डर की जानकारी

इस पोस्ट में बात करेंगे Fire Control order, Camouflage & Concealment, Camouflage pattern, फायर कण्ट्रोल आर्डर  के उसूल, फायर कण्ट्रोल आर्डर  के किस्म ,और फायर कण्ट्रोल आर्डर देने का तरतीब.

ऐसे तो हम आज कल जहा कही भी आर्म्ड फ़ोर्स के जवान  को ड्यूटी या किसी मूव के दौरान देखते है वह उनका ड्रेस अलग अलग तरह के camouflage pattern और  रंग के ड्रेस पहने हुवे होते है ! ये सब कामोफ्लाज का ही हिस्सा है जो एरिया और वर्क के अनुसार camouflage pattern के ड्रेस पहने होते है  !

फील्ड क्राफ्ट में camouflage का बहुत ही खास रोल  है हम फील्ड क्राफ्ट के ट्रेनिंग में सीखते है की आप अपने आप को कैसे कैमोफ्लाज  और कांसिल्मेंट  करेंगे ! ऐसे तो मै अपने पिछले पोस्ट में discuss किया हु की चीजे क्यों दिखाई देती है अगर आप ने उसे नहीं पढ़ा है तो यहाँ क्लिक कर उसे पहले पढ़ ले !

जैसे की आप जानते है चाहे ओ नक्सल ऑपरेशन छतीसगढ़ में हो या टेररिस्ट ऑपरेशन जम्मू & कश्मीर हो  उस ऑपरेशन के दौरान ये देखते है की आर्म्ड फ़ोर्स नक्सल या टेररिस्ट को ढूढती है और नक्सल आतंकवादी भी छुप के आर्म्ड फ़ोर्स के जवान को ढूढ़ते है ! कोन्वेसिनल लडाई में भी कम बेस यही हालत रहता है हम दुश्मन को ढूढ़ते है और दुश्मन हमे ढूढ़ता है ! जो पहले देख लेता है ओ एडवांटेज में रहता है !

कामोफ्लाज और कांसिल्मेंट हासिल करते हुए किन किन बातो का ध्यान रखे ?

जैसे की आ जानते है की चीजे क्यों दिखयी देती है तो जो जो कारन  एक चीज के देखने में मदद करता है उन सब को झटक संभव हो हटाने या कम करने का कोशिश करना चाहिए ! 
  • Shape(सेप): जहा तक हो हेक अपने बॉडी  और सामान का  सेप को आजूबाजू के सरउन्डिंग  से मिला देना चाहिए 
  • shadow(शैडो ):कही भी छुपते है या खड़े होते है बड़े ऑब्जेक्ट के पास छुपे और सुनिश्चित  करे की परछाई दुश्मन को न दिखाई दे !
  • Silhouette: कभी भी स्काई लाइन पे खड़ा न हो नहीं विंड से बहार झाके !
  • shine(चमक ): आपकी यूनिफार्म और इक्विपमेंट की रंग सराउन्डिंग से अलग नहीं चमकना चाहिए ! गाड़ी और तटेंट under कामोफ्लाज नेट !
  • Spacing(फासला ):कभी भी इकट्ठा  खड़ा न हो अ छुपाव हासिल करे ! एक सामान दुरी पे भी खड़ा न हो ये दुश्मन के मन में शंका पैदा करेगा और ओ एक्स्ट्रा सतर्क ओ जायेगा !
  • Movement(हरकत ): हरकत हमेशा धीरे और सावधानी पूर्वक करे ! ये ध्यन रखे की मानव आँखे फ़ास्ट हरकती  ऑब्जेक्ट को जल्दी देख लेता है सपेसिअल्ली रात को !
  • ज्यादा कामोफ्लाज न करे !
  • लोकल घास या झड़ी का इस्तेमाल कर रहे है तो देखे की जल्दी खराब होने वाला न हो !
कैमोफ्लाज
कैमोफ्लाज 
कामोफ्लाज तो हासिल कर लिया आब देखते है की फायर कण्ट्रोल आर्डर के उसूल कौन कौन से है ?
  • फायर हमेश दुश्मन को मर डालने के लिए ही खोला जाय !
  • अमुनिसन इ बचत का ख्याल रखा जाय !
  • फायर डिसिप्लिन का खासा ध्यान रखा जाय !
फायर खोलने से पहले ध्यान में राख्ने वाली कौन कौन सी बाते है ?
  • क्या रेंज और विसिबिलिटी ठीक है !
  • सरप्राइज हासिल करने के लिए या दुश्मन को अचानक फायर से ज्यादा नुकशान पहुचने  के लिए फायर थोडा लेट खोला जाय !
  • फायर की रफ़्तार क्या होगी !
  • फायर पे खुद कण्ट्रोल रखा जाय या जिम्मेवारी कमांडर की होगी !
रैपिड फायर किन मौको पे खोला जाता है ?
  • जब दुश्मन पर अचानक सरप्राइज हासिल करना हो !
  • जब ऐसा टारगेट सने आ जाय की रैपिड फायर से ज्यादा नुकशान पहुचाया जा सकता है !
  • असाल्ट में जब कवरिंग फायर डालते वक्त !
फायर कण्ट्रोल आर्डर का तरतीब क्या है ?

फायर कण्ट्रोल आर्डर देते समय जो तरतीब इस्तेमाल करते है उसे शोर्ट में GRIT कहते !
  • G- ग्रुप (group)
  • R-रेंज (Range)
  • I- इंडिकेशन ऑफ़ टारगेट 
  • T-टाइप ऑफ़ फायर 
इसको याद  रखने के लिए शोर्ट फॉर्म बनाया गया है GRIT.

फायर कण्ट्रोल आर्डर और फायर डायरेक्शन आर्डर में क्या फर्क है ?

 फायर डायरेक्शन आर्डर उपरवाले कमांडर से निचे वाले कमांडर को मिलता है ! यह मौखिक , लिखित या वायरलेस में दिया जा सकता है !इसमें फायर की किस्म, समय , टारगेट या फायर प्लान शामिल होता है ! जबकि फायर कण्ट्रोल आर्डर एक फायर यूनिट कमांडर अपनी फायर यूनिट से फायर डालने और उसे कण्ट्रोल करने के लिए देता है !

फायर कण्ट्रोल आर्डर कितने प्रकार के होते है ?

फायर कण्ट्रोल आर्डर चार प्रकार के होता है :
  • फुल फायर आर्डर : जब फायर खोलने के लिए पूरी तरतीब से आर्डर दिया जाता है तो उसे फुल फायर आर्डर कहते है ! यह दो प्रकार का होता है :
  1. पॉइंटेड : for example " न एक सेक्शन ... 300 ... दरख्त ....दाहिने अकेली झाड़ी दुश्मन का स्नाइपर जोड़ा ...... एल एम् जी  ग्रुप दो ब्रस्ट फायर !
  2. फैला हुवा टारगेट : न एक सेक्शन .......300 ....... दरख्त ...... दाहिने अकेली झाड़ी से रोड जंक्शन तक फैला हुवा दुश्मन ........ सेक्शन फायर !      स्टॉप 
  • डिलेड फायर आर्डर : इसमें फायर कण्ट्रोल आर्डर की सभी बाते पहले ही बता दी जाती है लेकिन फायर खोलने का आर्डर कमांडर समय पे देता है !
  • मौके का फायर आर्डर : जब दुश्मन नजदीक टूटी फूटी ग्राउंड में छुप गया हो उस समय फायर की जिम्मेवारी तमाम जवान पर छोड़ दी जाती है ! यह फायर आर्डर flat trajectory हथियार वालो की दी जाती है लेकिंग 2" मोर्टर या राइफल ग्रनेड वालो को फुल फायर आर्डर दिया जाता है !
फायर डिसिप्लिन को कायम रखने के लिए किन किन बातो पे ध्यान रखना चाहिए ?
  • बिना हुक्म फायर नहीं खोले !
  • फायर दुश्मन को मर डालने के लिए खोला जाय !
  • अंधाधुंध फायर न किया जाय !
  • रात को फायर डिसिप्लिन उच्चे दर्जे का होना चाहिए !
  • रात को दुश्मन हमारा लोकेशन पता करने के तरह तरह के हरकते करेगा इसलिए रात को फायर तभी खोला जाय जब यकीं हो जाय की दुश्मन अब बच नहीं पायेगा !ऐसे समय पे ब्रस्ट फायर ही डालनी चाहिए !
रात को ऑपरेशनल एरिया में तैनात पोस्ट के सन्तरी को कौन कौन सी बातो पे ध्यान रखना चाहिए ?
  • अपनी देखभाल का एरिया मालूम होना चाहिए !
  • आने वे के साथ क्या करवाई करनी है मालूम होना चाहिए !
  • दुश्मन किस तरफ है ये मालूम होना चाहिए !
  • आस पास किस तरफ अपनी पोस्ट है !
  • इलाके के मशुर निशान कौन कौन से है !
  • अपनी पेट्रोलिंग पार्टी अगर बहार गयी है तो उसके बारे में जानकारी होना चाहिए !
  • डिफेंसिव फायर सिग्नल क्या है !
  • सन्तरी बदलते समय तामाम  जानकारिय दुसरे सन्तरी को बता देना चाहिए !

ऑपरेशन एरिया में एक स्काउट के अन्दर क्या क्या गुण होना चाहिए ?

किसी पेट्रोलिंग पार्टी के आगे चलने वाले जवानो को स्काउट कहते है ! इसलिए वह एक बहुत अहम आदमी होता है जिसके ऊपर पूरा प्त्रोल्लिंग पार्टी का दरो मदर रहता है ! दुश्मन से सामान होने का सबसे पहला चांस स्काउट का ही होता है क्यों की ओ आगे आगे चलता है  !इसलिए स्काउट बनने वाले जवान में निम्न गुण तो होना ही चाहिए !
  • पहल  करने वाला होना चाहिए !
  • 􀂃जमीन  का सही इस्तेमाल जाननेवाला होना चाहिए !
  • अच्छी फायर पोजीशन चुनना जाता हो !
  • फील्ड सिग्नल के बारे मेजनकारी रखता हो !
  • अच्छा निशाने वाज होना चाहिए !
  • अच्छी यदास्त वाला होने चाहिए !
अगर ये पोस्ट आपको पसंद आया तो जरुर सब्सक्राइब करे और अपना कमेंट भी कमेंट बॉक्स में लिखे !

No comments:

Post a Comment

Addwith

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...